1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. बिहार
  4. Agnipath Scheme Protest: बिहार में लगातार चौथे दिन 'अग्निनपथ' पर बवाल, आगजनी और फायरिंग

Agnipath Scheme Protest: बिहार में लगातार चौथे दिन 'अग्निनपथ' पर बवाल, आगजनी और फायरिंग

Agnipath Scheme Protest : वहीं आरजेडी और वामपंथी छात्र संगठन आईसा की ओर से आहूत बिहार बंद के मद्देनजर गया, बक्सर, जहानाबाद सहित राज्य के कुछ अन्य हिस्सों में शनिवार को सड़क परिवहन सेवाएं प्रभावित हुईं और आपात सेवाओं को छोड़कर अधिकांश दुकानें व अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे।

Niraj Kumar	Written by: Niraj Kumar @nirajkavikumar1
Published on: June 18, 2022 16:07 IST
vehicle set on fire Government Railway Police Station (GRP) during the Bihar Bandh, called over the - India TV Hindi
Image Source : PTI vehicle set on fire Government Railway Police Station (GRP) during the Bihar Bandh, called over the Centres Agnipath scheme

Highlights

  • जहानाबाद और मसौढ़ी में बंद समर्थकों का बवाल
  • तारेगना स्टेशन पर पथराव और आगजनी
  • 19 जून तक के लिए 15 जिलों में इंटरनेट बंद

Agnipath Scheme Protest: सैन्य बलों में भर्ती के लिए केंद्र की अग्निपथ योजना (Agnipath Scheme) का बिहार (Bihar) में जबरदस्त विरोध हो रहा है। आज लगातार चौथे दिन भी इस योजना के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन जारी रहा। शनिवार सुबह प्रदर्शनकारियों ने जहानाबाद जिले में तेहटा पुलिस चौकी परिसर के अंदर खड़े एक ट्रक और एक बस समेत कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया। वहीं आरजेडी और वामपंथी छात्र संगठन आईसा की ओर से आहूत बिहार बंद के मद्देनजर गया, बक्सर, जहानाबाद सहित राज्य के कुछ अन्य हिस्सों में शनिवार को सड़क परिवहन सेवाएं प्रभावित हुईं और आपात सेवाओं को छोड़कर अधिकांश दुकानें व अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे। 

तारेगना स्टेशन पर उपद्रवियों ने जमकर उत्पात मचाया

वहीं पटना के पास तारेगना स्टेशन पर उपद्रवियों ने जमकर उत्पात मचाया। वहां कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। स्टेशन परिसर में आगजनी और पथराव की घटना हुई। प्रदर्शनकारियों ने पूरे स्टेशन पर कब्जा जमा लिया था। उपद्रवियों की ओर से पुलिस पर फायरिंग भी की गई। तरेगना स्टेशन पर मौजूद पुलिसकर्मियों और रेलकर्मियों को जान बचाने के लिए जीआरपी की बिल्डिंग में छिपना पड़ा। बाद में अतिरिक्त पुलिस फोर्स मंगाकर स्टेशन परिसर को उपद्रवियों से मुक्त कराया गया। 

12 जिलों में 19 जून तक इंटरनेट सेवा बंद

बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद), प्रदेश में सत्ता में शामिल हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (सेक्युलर) और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) सहित विभिन्न राजनीतिक दलों ने बिहार बंद को अपना समर्थन दिया है। उधर, रेलवे ने नुकसान की आशंका को देखते हुए कई ट्रेन या तो रद्द कर दीं या फिर उनका परिचालन रोक दिया। इस बीच, बिहार सरकार ने शुक्रवार को अग्निपथ योजना के मुद्दे पर राज्यभर में हुई व्यापक हिंसा की पृष्ठभूमि में 12 जिलों में 19 जून तक इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया। गृह विभाग की ओर से जारी आदेश के मुताबिक, कैमूर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, पश्चिमी चंपारण, समस्तीपुर, लखीसराय, बेगूसराय, वैशाली और सारण जिले में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं। 

कई जिलों में धारा 144 लागू

बंद के मद्देनजर ऐहतियात बरतते हुए अधिकारियों ने राज्य के कई जिलों में किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए धारा 144 लागू कर दिया।  जहानाबाद जिले में शनिवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे तेहटा पुलिस चौकी के पास बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी जमा हो गए और सुरक्षाकर्मियों पर पथराव शुरू कर दिया। अधिकारियों के मुताबिक, बाद में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस चौकी के अंदर खड़े एक ट्रक और एक बस सहित कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया।

इनपुट-भाषा