1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. बिहार
  4. बिहार DGP गुप्तेश्वर पांडे ने कहा- 'मुंबई पुलिस कुछ करने नहीं दे रही, हम Helpless और लाचार हैं'

बिहार DGP गुप्तेश्वर पांडे ने कहा- 'मुंबई पुलिस कुछ करने नहीं दे रही, हम Helpless और लाचार हैं'

बिहार पुलिस के महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडे ने कहा कि मुंबई पुलिस हमें कुछ करने नहीं दे रही है, हम हेल्पलेस और लाचार हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: August 03, 2020 22:57 IST
बिहार DGP गुप्तेश्वर पांडे ने कहा- 'मुंबई पुलिस कुछ करने नहीं दे रही, हम Helpless और लाचार हैं'- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV बिहार DGP गुप्तेश्वर पांडे ने कहा- 'मुंबई पुलिस कुछ करने नहीं दे रही, हम Helpless और लाचार हैं'

नई दिल्ली: बिहार पुलिस के महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडे ने कहा कि मुंबई पुलिस हमें कुछ करने नहीं दे रही है, हम हेल्पलेस और लाचार हैं। गुप्तेश्वर पांडे ने इंडिया टीवी पर रजत शर्मा के शो 'आज की बात' में ये बातें कहीं। उन्होंने कहा कि अगर मुंबई पुलिस पहले ही हमें कह देती कि हम आपको जांच करने नहीं देंगे तो हम वापस आ जाते। अपने अफसर को वहां नहीं भेजते। लेकिन जिस तरह से हमारे सीनियर ऑफिसर को हाउस अरेस्ट किया गया.. उसे क्वॉरन्टीन किया गया और केस में किसी तरह की मदद नहीं की जा रही है, इससे पूरे देश में गलत मैसेज जा रहा है। हमें बहुत अफसोस होगा अगर हम सुशांत को इंसाफ नहीं दिला पाए। 

गुप्तेश्वर पांडे ने कहा कि सुशांत के पिता ने जो एफआईआर दर्ज कराई थी उसकी जांच के लिए बिहार पुलिस की टीम गई थी तो जांच में सहयोग करना चाहिए लेकिन उलटा हमारे अफसर को क्वारंटीन कर दिया गया। पांडे ने कहा कि जब फरवरी के अंतिम हफ्ते में सुशांत के पिता ने मुंबई पुलिस को फोन कर कहा था कि सुशांत की जान को खतरा है, लेकिन उसपर मुंबई पुलिस ने कोई कार्रवाई क्यों नहीं की? अगर कार्रवाई की होती तो यह ऐसी घटना नहीं होती। गुप्तेश्वर पांडे ने स्पष्ट तौर पर कहा कि इस केस में मुंबई पुलिस ने जिस तरह का रवैया अपनाया, उससे पूरे देश में गलत मैसेज जा रहा है। 

दरअसल सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच का नेतृत्व करने के लिए बिहार से मुंबई पहुंचे आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को मुंबई में BMC अधिकारियों द्वारा जबरदस्ती क्वारन्टीन कर दिया गया है। बिहार पुलिस पहले ही मुबंई पुलिस पर इस मामले में उनकी मदद नहीं करने का आरोप लगा चुकी है। जिसके बाद बिहार पुलिस ने इस मामले की जांच के लिए मुंबई में बिहार पुलिस को टीम को लीड करने के लिए IPS अधिकारी विनय तिवारी को भेजा। 

दरअसल नियम के मुताबिक कोई व्यक्ति अगर 5 दिन दिन से ज्यादा के लिए किसी अन्य राज्य से आता है फ्लाइट से तो मुंबई में उसे क्वारन्टीन होना पड़ता है। इसी लाइन पर BMC ने क्वारन्टीन का ठप्पा उनके हाथ पर मारा है। बिहार पुलिस एससोसिएसन के अध्यक्ष ने इस मामले पर बयान देते हुए कहा है कि आईपीएस ऑफिसर को पहले आईपीएस हॉस्टल में रूकने की जगह नहीं दी गई। ऐसे में जब खुद उन्होंने अपनी व्यवस्था की तो उनसे उनका ठिकाना पूछा गया। पता मिलते ही बीएमसी ने विनय तिवारी को कोरोना के डर से क्वारन्टीन कर दिया है।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। बिहार DGP गुप्तेश्वर पांडे ने कहा- 'मुंबई पुलिस कुछ करने नहीं दे रही, हम Helpless और लाचार हैं' News in Hindi के लिए क्लिक करें बिहार सेक्‍शन
Write a comment
X