1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. क्राइम
  4. एक करोड़ रुपये का इनामी माओवादी पत्नी के साथ गिरफ्तार, कई घटनाओं को अंजाम देने का आरोप

एक करोड़ रुपये का इनामी माओवादी पत्नी के साथ गिरफ्तार, कई घटनाओं को अंजाम देने का आरोप

पुलिस सूत्रों ने बताया कि 70 वर्षीय प्रशांत बोस पर माओवाद संबंधी दर्जनों घटनाओं को अंजाम देने के आरोप हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 12, 2021 18:45 IST
Prashant Bose, Prashant Bose 1 crore, Prashant Bose Kishan Da, Maoist leader Prashant Bose- India TV Hindi
Image Source : PIXABAY REPRESENTATIONAL पुलिस ने एक करोड़ रुपये के इनामी माओवादी को झारखंड के सरायकेला में गिरफ्तार कर लिया है।

सरायकेला: पुलिस ने एक करोड़ रुपये के इनामी माओवादी और उसकी पत्नी को झारखंड के सरायकेला में गिरफ्तार कर लिया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक करोड़ रुपये के इनामी शीर्ष माओवादी कमांडर प्रशांत बोस उर्फ किशन दा को बीती रात उसकी माओवादी कमांडर पत्नी शीला मरांडी के साथ सरायकेला के एक अस्पताल से गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि सरायकेला में एक निजी अस्पताल में इलाज करा रहे प्रशांत बोस उर्फ किशन दा को उसकी पत्नी शीला मरांडी के साथ बीती रात एक गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तार किया गया।

70 वर्षीय प्रशांत बोस पर हैं गंभीर आरोप

पुलिस सूत्रों ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि माओवादियों के पूर्वी क्षेत्र ब्यूरो सचिव एवं माओवादियों की केंद्रीय समिति का सदस्य किशन दा अपनी पत्नी के साथ यहां एक अस्पताल में कई दिनों से इलाज करा रहा था जिसकी सूचना पुलिस को मिली। उन्होंने कहा कि उन्हें सूचना के आधार पर छापेमारी कर बीती रात उसे गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि 70 वर्षीय प्रशांत बोस पर माओवाद संबंधी दर्जनों घटनाओं को अंजाम देने के आरोप हैं और पुलिस को उसकी वर्षों से तलाश थी। सुरक्षाबलों ने प्रशांत बोस की गिरफ्तारी पर एक करोड़ रुपये का इनाम घोषित कर रखा था।

बड़ी सफलता मानी जा रही है प्रशांत की गिरफ्तारी
प्रशांत बोस की गिरफ्तारी पुलिस के लिए एक बड़ी सफलता मानी जा रही है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि बोस की पत्नी शीला मरांडी भी माओवादियों की सक्रिय कमांडर रही है। उन्होंने कहा कि दोनों माओवादी कमांडरों से पूछताछ की जा रही है। इससे पहले गुरुवार को झारखंड के हजारीबाग जिले में केरेदारी थाना क्षेत्र के कोल्गे गांव में मोटरसाइकिल पर सवार 6 लोगों ने एक पूर्व माओवादी केदार ठाकुर की गोली मार कर उसकी हत्या कर दी थी। ठाकुर ने माओवादियों से दूरी बना ली थी और अपनी सजा काटने के बाद वह सामान्य जीवन जी रहा था, इसलिए आशंका है कि माओवादियों ने ही उनकी हत्या की होगी।

bigg boss 15