1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. LPG गैस की बढ़ती कीमतों को लेकर केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने बताई ये वजह

LPG गैस की बढ़ती कीमतों को लेकर केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने बताई ये वजह

दिसंबर के एक पखवाड़े में दो बार गैस सिलेंडर के दाम में बड़ी वृद्धि के बाद केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का बुधवार को बयान सामने आया है। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: December 16, 2020 19:35 IST
Dharmendra Pradhan, LPG Gas Price, lpg gas cylinder price,  oil companies- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO Union Minister for Petroleum and Natural Gas Dharmendra Pradhan 

नई दिल्ली। दिसंबर के एक पखवाड़े में दो बार गैस सिलेंडर के दाम में बड़ी वृद्धि के बाद केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का बुधवार को बयान सामने आया है। केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने LPG गैस कीमतों में दो बार की गई बढ़ोतरी की वजह बताई है। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि रसोई गैस के दाम इस महीने बढ़े हैं। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में जैसे-जैसे दाम बढ़ते हैं हमको भी बीच-बीच में कीमत बढ़ानी पड़ती है। ठंड में LPG की खपत बढ़ जाती है इसलिए मांग बढ़ने से कीमत बढ़ती है। यह आने वाले महीनों में फिर घट जाएगी। 

दिसंबर में 100 रुपए महंगा हुआ रसोई गैस सिलेंडर

बता दें कि, दिसंबर के एक पखवाड़े में दूसरी बार गैस सिलेंडर के दाम में बड़ी वृद्धि हुई है। मंगलवार को घरेलू सिलेंडर के दाम में सीधे 50 रुपए बढ़ा दिए गए हैं। जबकि इससे पहले 2 दिसंबर को भी घरेलू गैस सिलेंडर के दाम में 50 रुपए की वृद्धि हुई थी। एक दिसंबर को घरेलू गैस सिलेंडर 608 रुपए था। घरेलू गैस सिलेंडर पर 15 दिन से कम समय में 100 रुपए बढ़ गए हैं। वहीं 19 किलोग्राम वाले कामर्शियल (व्यावसायिक) गैस सिलिंडर के दाम में दूसरी बार 36 रुपये की वृद्धि की गई है। बीते 15 दिन में 19 किलोग्राम वाला व्यावसायिक गैस सिलेंडर 90.50 रुपए महंगा हुआ है।

मई से बंद है सब्सिडी

तेल कंपनियां हर महीने एलपीजी सिलिंडर के दामों की समीक्षा 1 तारीख को करती हैं। हर राज्य में टैक्स अलग-अलग होता है और इसके हिसाब से एलपीजी के दामों में अंतर होता है। ऑयल कंपनियों ने इस महीने एलपीजी गैस सिलिंडर की कीमत में 100 रुपए की बढ़ोतरी की है लेकिन सब्सिडी को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है। बता दें कि, घरेलू गैस उपभोक्ताओं को अप्रैल माह तक गैस सब्सिडी मिली, लेकिन मई माह में सब्सिडाइज्ड और नॉन सब्सिडाइज्ड गैस सिलेंडर की कीमतें बराकर कर देने के बाद गैस सब्सिडी बंद हुई है, जो अब भी बरकरार है। वर्तमान में गैस सिलेंडर 100 रुपये महंगा हो चुका है, लेकिन सब्सिडी उपभोक्ताओं के खाते में कब आएगी, यह न तो गैस एजेंसी संचालकों को मालूम है और न ही पेट्रोलियम कार्पोरेशन के अधिकारियों को। 

जानिए क्यों नहीं मिल रही है एलपीजी गैस सब्सिडी

जानकारों का कहना है कि सरकार ने अभी तक सरकारी तेल कंपनियों को नहीं बताया है कि दिसंबर में सिलिंडर खरीदने वाले उपभोक्ताओं को सब्सिडी मिलेगी या नहीं। सरकार के लिए कुकिंग गैस सब्सिडी इस वित्त वर्ष की पहली छमाही में 1126 करोड़ रुपये रह गई जो वित्त वर्ष 2019-20 में 22635 करोड़ रुपये थी। तेल की कीमतों में कमी और डोमेस्टिक रिफिल रेट्स में तेजी से 2019-20 में एलपीजी सब्सिडी में 28 फीसदी कमी आई। 2018-19 में यह 31,447 करोड़ रुपये थी। मई से कुकिंग गैस के अधिकांश उपभोक्ताओं के खाते में सब्सिडी नहीं आ रही है। इसकी वजह यह थी कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल की कीमतों में कमी और डोमेस्टिक रीफिल रेट बढ़ने से सब्सिडी वाले सिलिंडर और कमर्शियल सिलिंडर की कीमत बराबर हो गई थी।

ऐसे चेक कर सकते हैं एलपीजी के दाम

रसोई गैस सिलिंडर की कीमत चेक करने के लिए आपको सरकारी तेल कंपनी की वेबसाइट पर जाना होगा। यहां पर कंपनियां हर महीने नए रेट्स जारी करती हैं। (https://iocl.com/Products/IndaneGas.aspx) इस लिंक पर आप अपने शहर के गैस सिलिंडर के दाम चेक कर सकते हैं।

Click Mania
bigg boss 15