Saturday, February 24, 2024
Advertisement

अशोक गहलोत और सचिन पायलट को राहुल गांधी ने बताया कांग्रेस की 'संपत्ति'

पायलट को गद्दार बताने संबंधी गहलोत के बयान पर राहुल ने यहां संवाददाताओं से कहा, "मैं इसमें नहीं जाना नहीं चाहता कि किसने क्या कहा। दोनों नेता (गहलोत और पायलट) कांग्रेस की संपत्ति हैं। मैं आपको इसकी गारंटी दे सकता हूं कि इसका (बयानबाजी का) भारत जोड़ो यात्रा पर कोई असर नहीं पड़ेगा।"

Shashi Rai Edited By: Shashi Rai @km_shashi
Published on: November 28, 2022 17:04 IST
राहुल गांधी व कांग्रेस के अन्य वरिष्ठ नेता- India TV Hindi
Image Source : PTI राहुल गांधी व कांग्रेस के अन्य वरिष्ठ नेता

इंदौर: राजस्थान प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सचिन पायलट को राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा 'गद्दार' कहे जाने पर मचे विवाद के बीच वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने सोमवार को दोनों नेताओं को पार्टी की 'संपत्ति' बताया और कहा कि किसी भी नेता की बयानबाजी का 'भारत जोड़ो यात्रा' पर कोई असर नहीं पड़ेगा। पायलट को गद्दार बताने संबंधी गहलोत के बयान पर राहुल ने यहां संवाददाताओं से कहा, "मैं इसमें नहीं जाना नहीं चाहता कि किसने क्या कहा। दोनों नेता (गहलोत और पायलट) कांग्रेस की संपत्ति हैं। मैं आपको इसकी गारंटी दे सकता हूं कि इसका (बयानबाजी का) भारत जोड़ो यात्रा पर कोई असर नहीं पड़ेगा।" 

गहलोत ने पायलट को कहा था गद्दार

गौरतलब है कि गहलोत ने हाल ही में एक कार्यक्रम में पायलट को गद्दार करार देते हुए कहा कि उन्होंने साल 2020 में कांग्रेस के खिलाफ बगावत की थी और प्रदेश सरकार गिराने की कोशिश की थी, इसलिए उन्हें मुख्यमंत्री नहीं बनाया जा सकता। गहलोत ने यह बयान ऐसे वक्त दिया, जब राहुल गांधी नीत 'भारत जोड़ो यात्रा' की राजस्थान में चार दिसंबर को दाखिल होने की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। गांधी ने इस बात का जवाब टाल दिया कि क्या मौका मिलने पर वह दोबारा अमेठी से चुनाव लड़ना चाहेंगे । उन्होंने कहा कि इस सवाल का जवाब साल-डेढ़ साल बाद मिल सकेगा और अभी उनका पूरा ध्यान यात्रा पर केंद्रित है। 

राहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना

उन्होंने कहा, "आप चाहते हैं कि अखबार कल यह बतायें कि मैं अमेठी से अगला चुनाव लडूंगा या नहीं? मैं चाहता हूं कि अखबार भारत जोड़ो यात्रा के फलसफे के बारे में लिखें।" गांधी ने कहा कि देश के तीन-चार उद्योगपतियों के हाथों में सारा धन केंद्रित होने से बेरोजगारी बढ़ रही है, और कांग्रेस इस समस्या को हल करने के लिए छोटे और मध्यम उद्यमों को बढ़ावा देगी तथा खासकर शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्रों में सरकारी निवेश को प्रोत्साहित करेगी। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ भारत जैसे गतिशील देश को अपनी सोच के मुताबिक अड़ियल तंत्र से चला रहे हैं और जनता की आवाज की अनसुनी कर रहे हैं।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement