1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. किसान आंदोलन में ‘खालिस्तानी’? अमरिंदर ने खट्टर पर किया पलटवार, दिया बड़ा बयान

किसान आंदोलन में ‘खालिस्तानी’? अमरिंदर सिंह ने मनोहर लाल खट्टर पर साधा निशाना, दिया बड़ा बयान

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शनिवार को हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर पर किसानों के साथ बर्बर व्यवहार करने का आरोप लगाया।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: November 28, 2020 23:02 IST
Khattar Amarinder, Khattar Amarinder Farmers, Farmer Protest News - India TV Hindi
Image Source : PTI REPRESENTATIONAL पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शनिवार को हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर पर गंभीर आरोप लगाए।

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शनिवार को हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर पर किसानों के साथ बर्बर व्यवहार करने का आरोप लगाया। सिंह ने खट्टर से उनके उस कथित बयान पर माफी मांगने को कहा, जिसमें उन्होंने कहा है कि विरोध प्रदर्शन का प्रबंधन खालिस्तानी कर रहे हैं। सिंह ने खट्टर पर झूठ फैलाने का आरोप लगाया। बता दें कि खट्टर ने शनिवार को आरोप लगाया कि केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ कुछ राजनीतिक दल एवं संगठन किसान आंदोलन को 'प्रायोजित' कर रहे हैं। उन्होंने कहा था कि पंजाब के मुख्यमंत्री के कार्यालय के अधिकारी प्रदर्शनकारी किसानों को निर्देश दे रहे हैं।

‘मैं उनसे बात नहीं करूंगा, भले ही वह मुझे 10 बार फोन करें’

अमरिंदर ने कहा, ‘खट्टर झूठ बोल रहे हैं कि उन्होंने मुझे पहले फोन करने की कोशिश की और मैंने कोई जवाब नहीं दिया। लेकिन उन्होंने मेरे किसान भाइयों के साथ जो किया है, उसके बाद तो मैं उनसे बात नहीं करूंगा, भले ही वह मुझे 10 बार फोन करें। जब तक वह माफी नहीं मांगते और स्वीकार नहीं करते कि उन्होंने पंजाब के किसानों के साथ गलत किया है, तब तक मैं उन्हें माफ नहीं करूंगा।’ अमरिंदर सिंह ने जोर देते हुए कहा कि हरियाणा पुलिस द्वारा पंजाब के किसानों पर आंसू गैस के गोले फेंके गए और उन पर वॉटर कैनन का इस्तेमाल हुआ और पानी की बौछारें की गईं, जिससे कई लोग घायल हो गए।

‘जब दिल्ली सरकार को दिक्कत नहीं तो खट्टर को क्यों?’
पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर वह खुद किसानों के मुद्दे पर प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री से कई बार बात कर सकते हैं, तो फिर अगर खट्टर ने सही मायने में फोन किया होता तो वह उनसे बात क्यों नहीं करते। सिंह ने किसानों को दिल्ली नहीं जाने देने के खट्टर के फैसले पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि जब किसानों से केंद्र बात करने को तैयार है और दिल्ली सरकार को भी कोई दिक्कत नहीं है, तो फिर खट्टर बीच में आने वाले कौन हैं? उन्होंने कहा कि आखिर इस पूरे मामले में हस्तक्षेप करने का उनका क्या मतलब होता है?

‘हरियाणा के किसानों ने आंदोलन में भागीदारी नहीं की है’
अमरिंदर सिंह ने भी खट्टर के उन आरोपों को बेबुनियाद करार दिया, जिसमें उन्होंने कहा था कि वह किसानों को आंदोलन के लिए उकसा रहे हैं। एक तरफ जहां देशभर के किसान कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर पंजाब और हरियाणा सरकार के बीच जुबानी जंग देखने को मिल रही है। इससे पहले खट्टर ने सिंह पर निशाना साधा था। बता दें कि हरियाणा के मुख्यमंत्री खट्टर ने कहा है कि किसान आंदोलन को पंजाब के किसानों ने खड़ा किया है और इस आंदोलन को किसानों की बजाय राजनीतिक दलों और संस्थाओं ने प्रायोजित किया है। उन्होंने कहा कि हरियाणा के किसानों ने आंदोलन में भागीदारी नहीं की है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment