1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. प्रियंका गांधी ने फिर लगाई झाड़ू, बताया स्वाभिमान का प्रतीक

प्रियंका गांधी ने फिर लगाई झाड़ू, बताया स्वाभिमान का प्रतीक

कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने प्रियंका के झाडू लगाने पर मजाक उड़ाया था और बीजेपी की दलित विरोधी सोच दिखाई थी।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: October 08, 2021 18:08 IST
Priyanka Gandhi again picks up broom, this time in Dalit dwelling- India TV Hindi
Image Source : ANI प्रियंका गांधी ने अचानक लखनऊ के इंदिरा नगर की दलित बस्ती लवकुश नगर में पहुंच कर झाड़ू लगाया।

लखनऊ: कांग्रेस की राष्‍ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश मामलों की प्रभारी प्रियंका गांधी वाद्रा ने शुक्रवार को अचानक लखनऊ के इंदिरा नगर की दलित बस्ती लवकुश नगर में पहुंच कर झाड़ू लगाया और योगी आदित्यनाथ के एक बयान का प्रतीकात्मक रूप से विरोध दर्ज कराया। उन्होंने इस मौके पर कहा कि ‘‘झाड़ू लगाना स्वाभिमान और सादगी का प्रतीक है और रोज करोड़ों महिलाएं और सफाई कर्मी झाड़ू लगाते हैं।’’

लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा में मारे गये किसानों के परिजनों से मिलकर लौटने के बाद प्रियंका अचानक शुक्रवार को अपराह्न करीब चार बजे इंदिरा नगर की दलित बस्ती लवकुश नगर पहुंची और वहां वाल्मीकि आश्रम में झाडू लगाया। वाद्रा ने इस मौके पर कहा कि झाडू लगाना स्वाभिमान और सादगी का प्रतीक है और रोज करोड़ों महिलाएं और सफाई कर्मी झाड़ू लगाते हैं। 

कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने प्रियंका के झाडू लगाने पर मजाक उड़ाया था और बीजेपी की दलित विरोधी सोच दिखाई थी। गोरखपुर में शुक्रवार को एक समाचार चैनल से बातचीत में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाद्रा के सीतापुर पीएसी गेस्ट हाउस में झाड़ू लगाने पर मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा, "लोगों ने उन्हें इसी लायक छोड़ा है।"

इस मौके पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि महात्मा गांधी ने भी झाड़ू लगाई और सत्याग्रह करते हुए अंग्रेजों को जवाब दिया, जो इतिहास है। यूपी ही नहीं पूरे देश की महिलाएं व दलित यह त्याग हर रोज करते हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जी आपका महिला विरोधी, दलित विरोधी चेहरा यूपी की जनता के सामने आ गया है। एक दिन आपका यह घमंड टूटेगा।

बता दें कि लखीमपुर खीरी में तीन अक्टूबर को हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों के मारे जाने के बाद उसी रात प्रियंका लखनऊ आयीं और पीड़ित किसान परिवारों से मिलने के लिए यहां से लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुईं। उन्हें सीतापुर में चार अक्टूबर को तड़के करीब साढ़े चार बजे पुलिस ने हिरासत में ले लिया। तब प्रियंका को वहां पीएसी परिसर के अतिथि गृह में रखा गया जहां उन्होंने कमरे में खुद झाड़ू लगाया था। बाद में प्रियंका का झाड़ू लगाने का एक वीडियो भी वायरल हुआ था। कांग्रेस नेताओं का आरोप है कि प्रियंका के झाड़ू लगाने पर उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने उनका मजाक उड़ाया था। 

Click Mania
bigg boss 15