1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. क्‍या पुलिस वाले ने की थी विकास दुबे के लिए मुखबरी? हो रही है जांच, उप्र पुलिस ने रखा 50000 का इनाम

क्‍या पुलिस वाले ने की थी विकास दुबे के लिए मुखबरी? हो रही है जांच, उप्र पुलिस ने रखा 50000 का इनाम

विकास दुबे को पकड़ने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस की 20 टीमें अलग-अलग जिलों में छापा मार रही हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: July 04, 2020 10:32 IST
uttar Pradesh police put 50,000 rupees reward on gangster vikas dubey- India TV Hindi
Image Source : GOOGLE uttar Pradesh police put 50,000 rupees reward on gangster vikas dubey

नई दिल्‍ली। 8 पुलिस कर्मियों को मौत के घाट उतारने वाले कुख्‍यात गैंगस्‍टर विकास दुबे को पकड़ने के लिए उत्‍तर प्रदेश पुलिस चप्‍पे-चप्‍पे को छान रही है। विकास दुबे की जानकारी देने के लिए पुलिस ने इनाम भी घोषि‍त किया है। उत्‍तर प्रदेश पुलिस ने विकास दुबे पर 50,000 रुपए का इनाम रखा है।

विकास दुबे को पकड़ने के लिए उत्‍तर प्रदेश पुलिस की 20 टीमें अलग-अलग जिलों में छापा मार रही हैं। कानपुर शूटआउट के मामले में पुलिस पूरी रात छापेमारी करती रही। पुलिस की क़रीब बीस टीमें अलग-अलग ज़िलों में दबिश दे रही है। ये वो स्‍थान थे, जहां विकास दुबे के रिश्तेदार और परिचित रहते हैं। पुलिस ने इस मामले मे 12 और लोगों को हिरासत में लिये है जिनसे पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने इन लोगों को मोबाइल कॉल डिटेल के आधार पर उठाया है। दरअसल इन लोगों से विकास दुबे की घटना से पहले पिछले चौबीस घंटों में बातचीत हुई थी।

हैरानी की बात है कि विकास के कॉल डिटेल मे कुछ पुलिसवालों का नम्बर भी आया है। जांच कर रही टीम इस बात की भी जाँच कर रही है कि क्या रेड की सूचना विकास को किसी पुलिसवालों ने ही दी थी? अगर ऐसा पाया जाता है तो इस मामले में कुछ पुलिसवाले भी साज़िश के आरोप में लपेटे में आ सकते है। चौबेपुर थाने के दरोगा विनय तिवारी से भी पुलिस और एसटीएफ ने पूछताछ की है और पूरे घटनाक्रम को समझा है। पूरी घटना चौबेपुर थाना क्षेत्र में ही हुई थी।

अभी तक हुई पुलिस जांच में कई चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। जांच में पता चला है कि विकास को दुबे पुलिस विभाग के ही किसी कर्मचारी ने सूचना दी थी, जिसकी वजह से वह पुलिस पर हमला कर भागने में सफल रहा। अभी तक की जांच में चौबेपुर थाने के दरोगा पर मुखबरी का शक व्‍यक्‍त किया गया है। पुलिस ने 12 लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। इसके अलावा विकास दुबे की कॉल रिकॉर्ड में कई पुलिस वालों के नंबर मिले हैं। इस आधार पर अब पुलिस दरोगा, सिपाही और होमगाई से भी पूछताछ कर रही है।

कानपुर में 8 जवानों की हत्या करने के आरोपी विकास दुबे के संबंध में पुलिस को मोबाइल नंबर 9454400211 पर जानकारी दी जा सकती है। डीजीपी ऑफिस की ओर से बताया गया है कि विकास दुबे और उसके साथियों ने दबिश के लिए गए पुलिसकर्मियों से 6 असलहे भी लूटे थे, जिसमें एक एके-47, एक इंसास राइफल, एक ग्लॉक पिस्टल और दो 9एमएम पिस्टल शामिल हैं।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X