Exclusive: अपराध, विकास, बुलडोजर और रोजगार... योगी आदित्यनाथ ने दिया हर सवाल का जवाब

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इंडिया टीवी से खास बातचीत में क्राइम, इंवेस्टमेंट, यूपी के डेवलेपमेंट, विरोधियों की नकारात्मक सोच और सियासत पर खुलकर बात की।

Swayam Prakash Written By: Swayam Prakash @swayamniranjan_
Updated on: February 02, 2023 23:50 IST

Yogi Adityanath Exclusive: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इंडिया टीवी से खास बातचीत में क्राइम, इंवेस्टमेंट, यूपी के डेवलेपमेंट, विरोधियों की नकारात्मक सोच और सियासत पर खुलकर बात की। योगी आदित्यनाथ ने कहा, आज यूपी में अपराध के प्रति ज़ीरो टॉलरेंस है। यूपी अब निवेश के लिए निवेशकों की पहली पसंद बन रहा है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उनका टारगेट यूपी को एक ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था वाला प्रदेश बनाना है। इतना ही नहीं इस दौरान बुलडोजर बाबा कहे जाने के सवाल का भी योगी आदित्यनाथ ने बड़ा ही इंटरस्टेटिंग जवाब दिया। 

"यूपी अब निवेश के लिए निवेशकों की पहली पसंद"

इंडिया टीवी से खास बातचीत में सीएम योगी ने कहा कि अपराध को लेकर ज़ीरो टॉलरेंस की नीति पर चल रहे हैं। हमने सरकारी जमीनों से कब्जे हटावाए हैं। यूपी में अब निवेश के माहौल है। डबल इंजन की सरकार ने बुलेट ट्रेन की स्पीड से विकास का काम किया है। हमने यूपी में कनेक्टिविटी बेहतर की है साथी ही यूपी में एक्सप्रेसवे बनाए हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी अब निवेश के लिए निवेशकों की पहली पसंद बन रहा है। अब उत्तर प्रदेश ने नई शुरुआत की है। उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों ने यूपी की क्षमता को समझा नहीं था। हमने निवेशकों के लिए 350 से ज्यादा सुविधाएं दीं।

"यूपी को एक ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाना टारगेट"
योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहले निवेश सिर्फ नोएडा, गाजियाबाद तक सीमित था लेकिन पिछले 6 सालों में हमारी सरकार ने यूपी को लेकर निवेशकों की सोच को बदला है। क्राइम पर कंट्रोल किया और निवेशकों में भरोसा जगा। अब यूपी में हरदोई से लेकर हमीरपुर तक बड़ी-बड़ी कंपनियां निवेश कर रही हैं। रोजगार दे रही हैं। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उनका टारगेट यूपी को एक ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था वाला प्रदेश बनाना है। उन्होंने कहा कि ये पहला इनवेस्टर समिट होगा जब सभी 75 जनपदों में एक साथ निवेश होने जा रहा है। सीएम ने कहा कि डबल इंजन की सरकार ने मीटर गेज से नहीं बल्कि बुलेट ट्रेन की रफ्तार से विकास को आगे बढ़ाया है। जो पूर्वी यूपी और बुंदेलखंड उत्तर प्रदेश के सबसे पिछड़े क्षेत्र माने जाते थे, ये दोनो ही क्षेत्र 6 सालों में पश्चिमी यूपी के कुछ जिलों की बारबरी से खड़े होने को तैयार दिख रहे हैं।    

"पहले यूपी में केवल 2 एयरपोर्ट थे, आज 9 चालू हैं"
उत्तर प्रदेश के सीएम ने कहा कि साल 2017 तक उत्तर प्रदेश के अंदर लखनऊ और वाराणसी के मिलाकर केवल दो एयरपोर्ट चालू थे। लेकिन पीएम की उड़ान योजना का लाभ सबसे ज्यादा यूपी ने लिया और आज हमारे पास 9 एयरपोर्ट चालू हैं और हम 10 एयरपोर्ट पर जल्द एयर कनेक्टिविटी देने जा रहे हैं। सीएम ने कहा कि आम बजट 2023 में भी 50 नए एयरपोर्ट और हेलीपैड के लिए जो प्रवधान किया गया, उसमें 5 नए एयरपोर्ट के प्रस्ताव भी हम भारत सरकार को भेज रहे हैं। सीएम योगी ने कहा कि जो बिजली पहले 4 जनपदों में मिलती थी आज 75 जनपदों में बिना रुकावट मिल रही है। 

"यूपी में 1 करोड़ 61 लाख युवाओं को नौकरियों के साथ जोड़ा"
सीएम योगी ने कहा कि यूपी में उद्योगों को बिजली के मामले में ओपन एक्सेस की भी सुविधा दी है ताकि वे राज्य सरकार के साथ-साथ कहीं से भी बिजली खरीद सकते हैं। सीएम योगी ने कहा कि यूपी में 96 लाख MSME यूनिट हैं। 2018 में हमने पहला इनवेस्टर समिट किया था और पहले ही समिट में हमें 4 लाख 68 हजार करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव मिले थे। सीएम ने कहा कि 2018 के एमओयू में से बहुत सारे यूनिट ने अपना प्रोडक्शन भी शुरू कर दिया है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश के अंदर MSME को प्रोत्साहित करने और निवेश के कारण 1 करोड़ 61 लाख युवाओं को नौकरियों के साथ जोड़ा गया। 5 लाख नौजवानों के सरकारी नौकरियां दी। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, ओडीओपी, विश्वकर्मा श्रम सम्मान, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना जैसी नीतियों की वजह से 60 लाख लोगों को यूपी में स्वरोजगार से जोड़ा गया।

"यूपी का बोरोजगारी रेट 19.2 प्रतिशत से 3.5 फीदसी पहुंचा"
यूपी सीएम ने एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में कहा कि भारत की एक स्वतंत्र एजेंसी ने साल 2015-16 का जो सर्वे किया है, उसमें प्रदेश का बोरोजगारी रेट 19.2 प्रतिशत था और आज की तारीख में ये दर 3.5 से 4 फीदसी के बीच में है। इसका मतलब साफ है कि यहां नौकरी और रोजगार की सुविधाएं विकसित हुईं। सीएम ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान 40 लाख श्रमिक और कामगार यूपी में आया था। हर एक कामगार की हमने स्किल मैपिंग करवाई थी और उस हिसाब से उन्हें काम दिया, जिसका फायदा हुआ।

"बुलडोजर बाबा के नाम से पहरेज नहीं है"
इंडिया टीवी से खास बातीचीत के दौरान बुलडोजर बाबा कहे जाने के सवाल का योगी आदित्यनाथ ने बड़ा ही रोचक जवाब दिया। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वे योगी हैं और योगी ही रहना चाहते हैं। लेकिन योगी को कोई किसी भी नाम से पुकारे, चाहे वो बुलडोजर बाबा नाम क्यों ना हो, इससे परहेज नहीं है। हालांकि 'बुलडोजर जस्टिस मॉडल' पर विपक्ष के सवालों पर योगी ने कहा कि यूपी सरकार ने जो भी कदम उठाए हैं, सब कानून के दायरे में उठाए हैं। जिसने भी गैरकानूनी निर्माण किया है, उसे पहले नोटिस जारी किया गया और फिर उसे निर्माण हटाने के लिए समय दिया गया। इसके बाद निर्माण को तोड़ा है और निर्माण को ध्वस करने का खर्चा भी उससे ही वसूला है।

"ओवैसी सिर्फ दाल में तड़के का काम करते हैं"
इस दौरान मुख्यमंत्री योगी ने असदुद्दनी ओवैसी के आरोपों पर कहा कि यूपी की जनता ओवैसी को नकार चुकी है। 2024 में भी यूपी की जनता पीएम मोदी को ही चुनेगी। योगी ने कहा कि जिन लोगों को जनता ठुकरा चुकी है वो लोग कुछ ना कुछ तो बोलेंगे ही। ओवैसी सिर्फ दाल में तड़के का काम करते हैं। मैं हिंदू मुसलमान में भेदभाव नहीं करता।

मुख्तार और अतीक का माफियाराज खत्म किया
यूपी सीएम ने माफियाओं को लेकर कहा कि 44 साल में पहली बार मुख्तार अंसारी को सजा हुई। मुख्तार 1978 से क्राइम कर रहा था लेकिन क्या कारण था कि इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती थी। सीएम योगी ने कहा कि प्रयागराज में सरकारी जमीन पर कब्जा कर कॉलोनी बसाई जा रही थी लेकिन कोई बोलने वाला नहीं था। वह लगातार अपराध कर रहा था। सीएम योगी ने कहा कि हमारे लिए यूपी की जनता महत्वपूर्ण है। मैंने यूपी में माफिया राज खत्म किया। हमने मुख्तार और अतीक का माफियाराज खत्म किया है।

"पहले यूपी में माफिया पैरलल सरकार चलाते थे"
इंडिया टीवी से खास बातचीत में सीएम योगी ने कहा कि अराजकता फैलाने और दंगा करने की किसी को छूट नहीं दे सकता। यूपी में अब हिंदू और मुसलमान में भेदभाव नहीं होता। सीएम योगी ने कहा कि पहले यूपी में माफिया पैरलल सरकार चलाते थे। उन्होंने कहा कि मुख्तार हत्या पर हत्या करता गया, लेकिन शिकंजा क्यों नहीं कसा गया? इसका मतलब है कि उसे कहीं ना कहीं संरक्षण तो रहा ही होगा। सीएम योगी ने कहा कि पिछली सरकारों का एजेंडा विकास होता, यूपी की जनता होती तो मुख्तार-अतीक जैसे माफिया नहीं पैदा होते।

ये भी पढ़ें-

Exclusive: योगी आदित्यनाथ बोले- यूपी को एक ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का टारगेट

राम जन्मभूमि को बम से उड़ाने की धमकी, फोन किसने किया और कहां से आया? जांच में जुटी पुलिस

Latest Uttar Pradesh News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन