1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. मध्य-प्रदेश
  4. मध्य प्रदेश : खरगोन में दंगे के 11 दिनों बाद राहत, कर्फ्यू में पहली बार छह घंटे की ढील

मध्य प्रदेश : खरगोन में दंगे के 11 दिनों बाद राहत, कर्फ्यू में पहली बार छह घंटे की ढील

खरगोन में 10 अप्रैल को रामनवमी पर सांप्रदायिक हिंसा भड़कने के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया था। इस दौरान कई दुकानों और घरों में तोड़फोड़ की गई थी, वाहनों में आग लगा दी गई थी व लोगों पर पथराव किया गया था। 

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: April 20, 2022 12:19 IST
Khargone Representational Image- India TV Hindi
Image Source : PTI Khargone Representational Image

Highlights

  • रामनवमी पर सांप्रदायिक हिंसा भड़कने के बाद लगा कर्फ्यू
  • कर्फ्यू में ढील के दौरान डाकघर और बैंक खुले रहेंगे

भोपाल/खरगोन : मध्य प्रदेश के दंगा प्रभावित खरगोन शहर में पिछले 11 दिनों में बुधवार सुबह पहली बार कर्फ्यू में एक साथ छह घंटे के लिए ढील दी गई। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। स्थानीय प्रशासन 14 अप्रैल से हर दिन या तो सुबह या फिर दो पालियों में कर्फ्यू में ढील दे रहा है, लेकिन बुधवार को पहली बार सुबह 10 बजे से शाम चार बजे तक छूट प्रदान की गई।

पिछले कुछ दिनों में शहर की स्थिति में सुधार होने पर कर्फ्यू में सुबह आठ बजे से दोपहर 12 बजे तक और दोपहर तीन बजे से शाम पांच बजे तक दो पालियों में ढील दी जा रही थी। खरगोन में 10 अप्रैल को रामनवमी पर सांप्रदायिक हिंसा भड़कने के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया था। इस दौरान कई दुकानों और घरों में तोड़फोड़ की गई थी, वाहनों में आग लगा दी गई थी व लोगों पर पथराव किया गया था। 

अधिकारियों ने बताया कि बुधवार को कर्फ्यू में ढील के दौरान डाकघर और बैंक खुले रहेंगे। हालांकि, सड़कों पर वाहन ले जाने की अनुमति नहीं होगी और दूध, सब्जी व दवा की दुकानों के अलावा केवल नाई की दुकानें खोली जा सकेंगी। सरकार की ओर से जारी एक आदेश में कहा गया है कि लोग अपने घरों के पास स्थित दुकानों से जरूरी सामान की खरीदारी कर सकते हैं, क्योंकि इस दौरान सड़कों पर वाहन ले जाने की इजाजत नहीं होगी। 

आदेश के मुताबिक, खरगोन में पेट्रोल पंप बंद रहेंगे और उचित मूल्य की दुकानों पर मिट्टी के तेल की बिक्री भी निलंबित रहेगी। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि खरगोन में सांप्रदायिक हिंसा के मामले में अब तक 153 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है और 65 प्राथमिकी दर्ज की जा चुकी है। 

इनपुट-भाषा