1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. 1 जून से घरेलू हवाई यात्रा होगी महंगी, सरकार ने किराये की निचली सीमा बढ़ाने को दी मंजूरी

1 जून से घरेलू हवाई यात्रा होगी महंगी, सरकार ने किराये की निचली सीमा बढ़ाने को दी मंजूरी

कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण हवाई यात्रियों की संख्या में भारी कमी आई है, जिसकी उनकी आय घटी है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: May 30, 2021 11:55 IST
 Domestic air travel become costlier, modi govt raises lower limit on fares - India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

 Domestic air travel become costlier, modi govt raises lower limit on fares 

नई दिल्ली। एक जून से घरेलू हवाई यात्रा महंगी होने जा रही है। सरकार ने हवाई किराये की निचली सीमा में 13 से 16 प्रतिशत वृद्धि करने को मंजूरी दे दी है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के शुक्रवार को जारी आधिकारिक आदेश में यह कहा गया है। हवाई यात्रा किराये में यह वृद्धि एक जून से प्रभाव में आ जाएगी।

हवाई किराये की ऊंची सीमा को हालांकि, पूर्ववत रखा गया है। सरकार के इस कदम से एयरलाइन कंपनियों को मदद मिलेगी। कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण हवाई यात्रियों की संख्या में भारी कमी आई है, जिसकी उनकी आय घटी है। देश में हवाई उड़ान अवधि के आधार पर हवाई यात्रा किराये की निचली और ऊंची सीमा तय की गई। यह सीमा पिछले साल दो माह चले लॉकडाउन के 25 मई को खुलने के समय तय की गई थी।

नागरिक उड्डयन मंत्रालय के शुक्रवार को जारी आधिकारिक आदेश में कहा गया कि 40 मिनट तक की अवधि की हवाई उड़ान के लिए किराये की निचली सीमा को 2,300 रुपये से बढ़ाकर 2,600 रुपये (13 प्रतिशत) की वृद्धि कर दी गई है। इसी प्रकार 40 मिनट से लेकर 60 मिनट की उड़ान अवधि के लिए किराये की निचली सीमा 2,900 रुपये की जगह अब 3,300 रुपये प्रति व्यक्ति होगी।

आदेश के मुताबिक 1 जून से 60-90 मिनट, 90 से 120 मिनट, 120 से 150 मिनट, 150 से 180 मिनट और 180 से 210 मिनट की हवाई उड़ान के लिए निचली सीमा क्रमश: 4000 रुपये, 4700 रुपये, 6100 रुपये, 7400 रुपये और 8700 रुपये होगी। वर्तमान में, 60-90, 90-120, 120-150, 150-180 और 180-210 मिनट के बीच घरेलू उड़ान के लिए निचली सीमा क्रमश: 3500 रुपये, 4100 रुपये, 5300 रुपये, 6400 रुपये और 7600 रुपये है।

सरकारी आदेश में कहा गया है कि सरकार ने देश में कोविड-19 की मौजूदा स्थिति को ध्‍यान में रखते हुए यह निर्णय लिया है। कोविड-19 महामारी के कारण पिछले कुछ हफ्तों में देश में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्‍या में बहुत अधिक कमी आई है। 28 फरवरी को भारत में लगभग 3.13 लाख घरेलू हवाई यात्रियों ने यात्रा की थी। 25 मई को केवल 39000 यात्रियों के साथ घरेलू उड़ानों का परिचालन हुआ।

 

 
Write a comment
erussia-ukraine-news