Russia-Ukraine War: स्वतंत्रता दिवस पर यूक्रेन के लिए बड़ा तोहफा लेकर आए जो बाइडेन, मदद के तौर पर देंगे इतने अरब डॉलर

Russia-Ukraine War: अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यूक्रेन पर रूस के हमले के छह महीने बीत जाने के बाद यूक्रेन की मदद करने के लिए फिर से हाथ आगे किया है। बाइडेन ने बुधवार को यूक्रेन को 2.98 अरब डॉलर की नई सैन्य सहायता भेजने के लिए राजी हुए।

Ravi Prashant Edited By: Ravi Prashant @iamraviprashant
Published on: August 25, 2022 16:13 IST
Russia-Ukraine War- India TV Hindi
Image Source : TWITTER Russia-Ukraine War

Highlights

  • 06 महीने से लगातार हो रहे हमलों से यूक्रेन की जनता मजबूत हुई है
  • यह स्वतंत्रता दिवस यूक्रेन के कई लोगों के लिए भी दर्दनाक है
  • लड़ाई में करीब 9000 यूक्रेन के सैनिक मारे गए हैं

Russia-Ukraine War: अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यूक्रेन पर रूस के हमले के छह महीने बीत जाने के बाद यूक्रेन की मदद करने के लिए फिर से हाथ आगे किया है। बाइडेन ने बुधवार को यूक्रेन को 2.98 अरब डॉलर की नई सैन्य सहायता भेजने के लिए राजी हुए। उन्होंने कहा कि इस सैन्य सहायता से यूक्रेन की सेना आने वाले वर्षों में युद्ध लड़ने में प्रबल होगी। बाइडेन ने एक बयान में कहा कि सहायता से यूक्रेन वायु रक्षा प्रणाली, आर्टिलरी सिस्टम और युद्ध, ड्रोन और अन्य उपकरण हासिल करने में सक्षम होगा। इसके आलाव साथ ही वह लंबे समय तक अपना बचाव भी सुनिश्चित करने के लिए काबिल होगा। बाइडेन की घोषणा ऐसे समय में हुई है जब यूक्रेन 1991 में सोवियत संघ से स्वतंत्रता की घोषणा का जश्न मना रहा है।

यूक्रेन के लिए हमेशा खड़े रहेंगे 

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि मुझे पता है कि यह स्वतंत्रता दिवस यूक्रेन के कई लोगों के लिए भी दर्दनाक है क्योंकि रूस के हमले में हजारों लोग मारे और कई घायल हुए हैं, लाखों लोग विस्थापित हुए हैं, कई अन्य रूसी हमलों से प्रभावित हैं। छह महीने से लगातार हो रहे हमलों से यूक्रेन की जनता मजबूत हुई है और उन्होंने अपने देश का गौरव बढ़ाया है। बाइडेन ने कहा कि अमेरिका यूक्रेन के लोगों की मदद करने के लिए प्रतिबद्ध है क्योंकि वे (यूक्रेनी) अपनी संप्रभुता की रक्षा के लिए लड़ना जारी रखेंगे।

आने वाले दिनों में रूस का हमला होगा तेज
अमेरिकी अधिकारियों ने बताया कि यह पैकेज यूक्रेन सुरक्षा सहायता पहल के तहत मुहैया कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले सहायता पैकेज के विपरीत, इस बार के वित्त पोषण का उद्देश्य यूक्रेन को लंबे समय में अपनी रक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद करना है। यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के छह महीने बाद, दोनों पक्षों में बड़ी संख्या में नागरिक और सैन्य हताहत हुए हैं। ऐसी आशंका है कि रूस आने वाले दिनों में नागरिक बुनियादी ढांचे और सरकारी प्रतिष्ठानों पर हमले बढ़ा सकता है।

कितने लोग अबतक मारे गए 
मौत का असल आंकड़ा वास्तव में काफी अधिक होने की संभावना हो सकती है, लेकिन जो आंकड़े उपलब्ध हैं, उनके अनुसार 24 फरवरी को जंग शुरू होने के बाद से 5587 आम नागरिकों की मौत हो गई है। जबकि 7890 लोग घायल हुए हैं। ओएचसीएचआर के अनुसार, अधिकतर नागरिकों की मौत रूस के हवाई, तोप और मिसाइल हमलों में हुई है। इसके अलावा 22 अगस्त को यूक्रेनी सशस्त्र बलों के कमांडर जनरल वैलेरी जालुज्नी ने बताया कि लड़ाई में करीब 9000 यूक्रेन के सैनिक मारे गए हैं। युद्ध शुरू होने के बाद ऐसा पहली बार है, जब सेना के किसी बड़े अधकारी ने मौत का आंकड़ा जारी किया है। हालांकि रूस के सैनिकों की मौत का आंकड़ा जारी नहीं हुआ है। लेकिन अमेरिकी खुफिया जानकारी में बताया गया है कि यूक्रेन में रूस के 15000 सैनिकों की मौत हो गई है और तीन गुना ज्यादा घायल हो गए हैं। 1979 से 1989 तक अफगानिस्तान पर कब्जे के दौरान सोवियत संघ के जितने लोगों की मौत हुई, ये आंकड़ा उसी के बराबर है। 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन