1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. चीन और पाकिस्तान के बीच पक रही खिचड़ी! चीनी प्रधानमंत्री ने की PAK पीएम शहबाज शरीफ से बात

China & Pakistan News: चीन और पाकिस्तान के बीच पक रही खिचड़ी! चीनी प्रधानमंत्री ने की PAK पीएम शहबाज शरीफ से बात

इस बातचीत के दौरान दोनों देशों का मुख्य फोकस पाकिस्तान में काम करने वाले चीनी नागरिकों की सुरक्षा और 60 अरब डॉलर की चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) परियोजनाओं को तेजी से पूरा करने पर रहा। 

Rituraj Tripathi Written by: Rituraj Tripathi @rocksiddhartha7
Published on: May 16, 2022 22:31 IST
PAK PM Shahbaz Sharif and Chinese PM Li Keqiang- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO PAK PM Shahbaz Sharif and Chinese PM Li Keqiang

China & Pakistan News:  चीन और पाकिस्तान की दोस्ती दुनियाभर में मशहूर है। इस बीच खबर मिली है कि चीन के प्रधानमंत्री ली क्विंग और पाकिस्तान के पीएम शहबाज शरीफ के बीच सोमवार को बातचीत हुई है। पाक के नए पीएम की चीन (China) के पीएम से ये पहली बातचीत टेलीफोन के जरिए हुई है। 

इस बातचीत के दौरान दोनों देशों का मुख्य फोकस पाकिस्तान (Pakistan) में काम करने वाले चीनी नागरिकों की सुरक्षा और 60 अरब डॉलर की चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) परियोजनाओं को तेजी से पूरा करने पर रहा। 

कराची धमाके के बाद चीनी कामगरों ने छोड़ दिया था पाकिस्तान  

गौरतलब है कि पाकिस्तान की कराची यूनिवर्सिटी के बाहर बीते महीने हुए धमाके के बाद कई चीनी कामगरों ने पाकिस्तान छोड़ दिया था। इस धमाके में 3 चीनी लैंग्वेज के टीचर मारे गए थे। ऐसे में  पाकिस्तान के पीएम शहबाज शरीफ ने सोमवार को चीनी पीएम से बातचीत के दौरान इस बात का भरोसा दिया कि चीन के लोग पाकिस्तान में सुरक्षित रहेंगे। 

पाक पीएम शहबाज शरीफ ने कहा है कि सभी चीनी संस्थानों और नागरिकों के लिए पाकिस्तान में सुरक्षा की व्यवस्था होगी और कराची धमाके जैसी घटनाओं को रोकने के लिए हर संभव काम किया जाएगा। वहीं चीन ने इस घटना में शामिल अपराधियों को जल्द से जल्द सजा देने की आशा जताई। 

सीपीईसी को लेकर भारत ने चीन के सामने जताया है विरोध

यहां ये भी बता दें कि 60 अरब डॉलर की चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) परियोजना को लेकर भारत ने चीन के सामने अपना विरोध जताया है। ऐसा इसलिए है क्योंकि इसे पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के जरिए बनाया जा रहा है।