दूषित मछली खाने से हुआ ऐसा इंफेक्शन, महिला को खोने पड़े अपने कई अंग, जानें क्या है पूरा मामला?

अमेरिका के कैलिफोर्निया में एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है, जहां एक 40 वर्षीय लॉरा बाराजस के दूषित तिलापिया मछली खाने के बाद एक महीने तक अस्पताल में रहना पड़ा। बाद में अंतत: दोनों हाथ और पैर काटने पड़े। जानिए इसके पीछे क्या है कारण?

Deepak Vyas Written By: Deepak Vyas @deepakvyas9826
Updated on: September 18, 2023 14:07 IST
तिलापिया मछली- India TV Hindi
Image Source : FILE तिलापिया मछली

America News: अक्सर कहा जाता है कि मछली खाने से ओमेगा-3 फैटी एसिड और DHA से लेकर विटामिन ‘डी’ तक मिलता है। लेकिन मछली खाना हमेशा फायदेमंद नहीं होता है, कभी कभी इसका बड़ा नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। ऐसा ही एक वाकया अमेरिका के कैलिफोर्निया प्रांत में हुआ है। यहां एक मह‍िला को मछली खाना बेहद महंगा पड़ गया। हालात ये बन गए कि उस महिला को पहले अस्पताल में लंबे समय तक भर्ती कराना पड़ा। लेकिन इससे भी बात नहीं बनी तो अंतत: उसके चार अंगों को काटना पड़ा। आपके मन में भी यह प्रश्न आया होगा कि आखिर ऐसा कैसे हो सकता है? जानिए इसकी क्या है वजह?

अमेरिका के कैलिफोर्निया में एक दुखद हादसा सामने आया है। यहां एक 40 साल की महिला जिसका नाम लॉरा बाराजस है, उन्होंने  दूषित तिलापिया मछली को खा लिया। लेकनि इसके बाद दोनों हाथ और पैर काटने पड़े। ऐसा माना जाता है कि बैक्टीरिया विब्रियो वुल्निफिकस ने उस मछली को दूषित कर दिया था। यही वजह रही कि 6 वर्ष के बच्चे की मां ने जब उस मछली को खाया तो उसकी यह हालत हुई। पीड़‍ित मह‍िला के करीबियों ने इस बारे में बताया कि मह‍िला की इस हालत का कारण मछली के एक बैक्टीरिया संक्रमण का नतीजा है, जो कथित तौर पर आधी पकी हुई तिलापिया मछली के खाने से हुआ है। यह मछली बैक्टीरिया के चलते दूषित हो गई थी।

कच्ची या अधपकी मछली खाना हो सकता है बैक्टीरियल इंफेक्शन की वजह

न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, 40 वर्षीय मां लॉरा बाराजस को मछली खाने के बाद प्रॉब्लम शुरू हुई फिर एक महीने तक अस्पताल में रहना पड़ा। इसके बाद उनकी गुरुवार को एक सर्जरी की गई। तब जाकर उनकी जान को बचाया जा सका।  एक ऑनलाइन फंडरेज‍िंग कैंपेन से संकेत म‍िला है महिला को मछली खाने से यह बैक्टीरियल इंफेक्शन हुआ था। रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) ने हाल ही में एक खतरनाक बैक्टीरियल इंफेक्शन को लेकर चेतावनी जारी की है। बताया गया कि बैक्टीरियल इंफेक्शन कच्ची या आधी पकी हुई मछली खाने से हो सकता है। माना गया है कि पीड़ित बजरास की वर्तमान स्थिति का कारण वही बैक्टीरिया है।

पीड़ित महिला की मित्र ने बताया कि पीड़ित को क्या आई थी समस्याएं?

पीड़‍ित मह‍िला की दोस्त अन्ना मेसिना ने केआरओएन को बताया क‍ि वह लगभग अपनी जान गंवा चुकी थी। वह अस्पताल में लगभग कोमा में थी। उन्होंने बताया कि उनकी मित्र को किडनी फेल होने जैसी अन्य परिस्थितियों का सामना भी करना पड़ा। यहां तक कि उनकी उंगलियां, पैर और होंठ तक काले पड़ गए थे। उन्‍होंने बताया क‍ि बाराजस के साथ यह तब शुरू हुआ जब वह स्थानीय बाजार से मछली खरीदी और घर पर उसको बनाकर खाया। यूसीएसएफ में एक संक्रामक रोग विशेषज्ञ नताशा स्पॉटिसवूड ने उन तरीकों के बारे में बात करते हुए बताया क‍ि जिन तरीकों से आप इस बैक्टीरिया से संक्रमित हो सकते हैं, जिनसे बैक्टीरिया किसी व्यक्ति को संक्रमित कर सकता है। 

Also Read: 

जंग पर आमादा हुआ चीन, ताइवान सीमा पर भेजे 103 फाइटर जेट, कुछ बड़ा होने वाला है! जारी हुआ अलर्ट

पुतिन से मिलने के बाद वापस उत्तर कोरिया लौटे किम जोंग, तोहफे में मिली खास चीजें, जानकर रह जाएंगे दंग

इस मुस्लिम देश में चीन के खिलाफ भड़का विद्रोह, सड़कों पर उतरे लोग, किया जोरदार प्रदर्शन

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन