Friday, July 12, 2024
Advertisement

नीतीश कुमार पर बरसे प्रशांत किशोर, कहा- 'पैर छूकर बिहार के लोगों की इज्जत बेच दी'

प्रशांत किशोर ने कहा "नीतीश कुमार ने मांग रखी कि 2025 के बाद भी वह मुख्यमंत्री बने रहें और इसके लिए भाजपा भी समर्थन कर दे। बिहार के सभी लोगों की इज्जत उन्होंने बेच दी।"

Edited By: Shakti Singh
Updated on: June 15, 2024 11:33 IST
Prashant Kishore Nitish Kumar PM Modi- India TV Hindi
Image Source : PTI प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार की आलोचना की

राजनीतिक रणनीतिकार से नेता बने प्रशांत किशोर ने शुक्रवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर आरोप लगाया कि उन्होंने सत्ता में बने रहने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पैर छुए। अपने जन सुराज अभियान के तहत शुक्रवार को भागलपुर में एक सभा को संबोधित करते हुए प्रशांत ने कहा, ‘‘ देश ने कुछ दिन पहले देखा होगा कि मीडिया के लोग कह रहे थे कि नीतीश कुमार के हाथ में भारत सरकार की कमान है। नीतीश कुमार अगर न चाहें तो देश में सरकार नहीं बनेगी। इतनी ताकत है नीतीश कुमार के हाथ में।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘नीतीश कुमार ने इसके एवज में क्या मांगा? बिहार के बच्चों के लिए रोजगार नहीं मांगा। बिहार के जिलों में चीनी की फैक्टरियां चालू हो जाएं यह नहीं मांगा। बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिल जाए यह नहीं मांगा। बिहार के लोग सोच रहे होंगे कि तो फिर उन्होंने क्या मांगा? नीतीश कुमार ने मांग रखी कि 2025 के बाद भी वह मुख्यमंत्री बने रहें और इसके लिए भाजपा भी समर्थन कर दे। बिहार के सभी लोगों की इज्जत उन्होंने बेच दी।’’ 

मुख्यमंत्री बने रहने के लिए पैर छुए- प्रशांत किशोर

प्रशांत किशोर ने नीतीश पर अपना प्रहार जारी रखते हुए कहा, ‘‘13 करोड़ लोगों के जो नेता हैं, हम लोगों का अभिमान हैं, सम्मान हैं, वह पूरे देश के सामने झुक कर मुख्यमंत्री बने रहने के लिए पैर छू रहे हैं। बिहार में कुछ लोग कहते हैं कि प्रशांत जी 2015 में आपने नीतीश कुमार की मदद की थी। नारा दिया था बिहार में बहार है नीतीशे कुमार है। तो आज क्यों विरोध कर रहे हैं, तो मैं आपको बता दूं कि उनकी यही सब हरकत की वजह से मैंने उनका विरोध किया। 2014 के नीतीश कुमार और 2024 के नीतीश कुमार में जमीन आसमान का फर्क है। 2014 में नीतीश कुमार ने मोदी के सामने झुक कर पैर नहीं छुआ था। 2014 के नीतीश कुमार ने अपना जमीर नहीं बेचा था।’’ 

जेडीयू उपाध्यक्ष रह चुके हैं प्रशांत किशोर

प्रशांत किशोर जन सुराज अभियान की शुरूआत करने से पहले नीतीश की पार्टी जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रह चुके हैं। पिछले सप्ताह नई दिल्ली में एनडीए की एक बैठक में मोदी को एनडीए का नेता घोषित किए जाने के बाद नीतीश ने उनके पैर छुए थे। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। इसी घटना को लेकर प्रशांत किशोर ने पीएम मोदी की आलोचना की।

(भागलपुर से अंजनी कुमार कश्यप की रिपोर्ट)

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें बिहार सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement