दलित महिला ने गांव में लगी टंकी से पिया पानी, तो ऊंची जाति के लोगों ने उसे खाली कराकर गौमूत्र से किया 'शुद्ध'

इस मामले के बारे में जानकरी देते हुए स्थानीय अधिकारी ने बताया कि, गांव में कई टंकियां लगी हैं जिनपर लिखा है कि हर कोई यहां से पानी पी सकता है। इसके बाद भी ऐसी घटना हुई है। जांच के बाद आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Sudhanshu Gaur Written By: Sudhanshu Gaur @SudhanshuGaur24
Updated on: November 21, 2022 18:08 IST
दलित महिला ने गांव में लगी टंकी से पिया पानी- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV दलित महिला ने गांव में लगी टंकी से पिया पानी

देश को अंग्रेजों से आजादी सन 1947 में ही मिल गई थी। लेकिन कुछ गुलामी वाली मानसिकता हमारे देश में अभी भी बाकी है। उच्च वर्ग के लोगों को यह पसंद नहीं है कि उनके नल व टंकियों से कोई निचली जाति का व्यक्ति पानी पी ले। कुछ उच्च वर्ग के लोग नहीं चाहते कि उनके सामने नीची जाति के लोग बैठें या और कुछ भी। ऐसे उदाहरणों की कमी नहीं है। 

कुछ ऐसा ही हुआ कर्नाटक के एक गांव में। यहां उच्च जाति के लोगों की टंकी से एक दलित महिला ने पानी पी लिया। इसके बाद पानी की टंकी से सारा पानी बहा दिया गया और फिर बाद में टंकी को गौमूत्र से 'शुद्ध' किया गया। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अनुसूचित जाति की एक महिला कर्नाटक के चामराजनगर जिले के हेगगोतारा गांव में एक विवाह समारोह में शामिल होने के लिए आई थी। महिला ने उच्च जाति के लोगों के इलाके में लगी पानी की टंकी से पानी पी लिया। जब लोगों को इस बारे में मालुम हुआ तो उन्होंने पहले टंकी के सारे पानी को बहा दिया और उसे गौमूत्र से साफ़ किया गया।

महिला की तलाश जारी, आरोपियों पर दर्ज होगा भेदभाव का मामला 

इस मामले में बारे में जानकारी देते हुए स्थानीय क्षेत्राधिकारी बसवराज ने बताया कि, "उन्हें इस घटना के बारे में सूचना मिली है। पानी की टंकी को धोया गया था, लेकिन गौमूत्र से टंकी धोए जाने की पुष्टि नहीं की जा सकती है।" उन्होंने कहा किकिसी ने भी महिला को उस टंकी से पानी पीते नहीं देखा ता और न ही उसे कोई जानता है। अधिकारी ने बताया कि, वे महिला की तलाश कर रहे है और उसके बार भेदभाव का मामला दर्ज किया जायेगा 

Latest Crime News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें क्राइम सेक्‍शन