1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. एजुकेशन
  4. दिल्ली: तकनीकी शिक्षा है शिक्षा मंत्रालय का मुख्य एजेंडा

दिल्ली: तकनीकी शिक्षा है शिक्षा मंत्रालय का मुख्य एजेंडा

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार में शिक्षा मंत्रालय का मुख्य एजेंडा उच्च, तकनीकी और कौशल शिक्षा को विकसित करना है। शिक्षा मंत्री एवं उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने यह एजेंडा निर्धारित किया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: September 12, 2020 19:29 IST
ministry of education has the main agenda in technical...- India TV Hindi
Image Source : PTI ministry of education has the main agenda in technical education

नई दिल्ली। दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार में शिक्षा मंत्रालय का मुख्य एजेंडा उच्च, तकनीकी और कौशल शिक्षा को विकसित करना है। शिक्षा मंत्री एवं उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने यह एजेंडा निर्धारित किया है। विवेकानंद कॉलेज के वार्षिक समारोह के अवसर पर सिसोदिया ने यह बात कही। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को विवेकानंद कॉलेज के 50 वें वार्षिक समारोह को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित किया। उन्होंने पूर्वी दिल्ली स्थित इस कॉलेज के 50 साल पूरे होने पर बधाई दी।

सिसोदिया ने कहा कि पूर्वी दिल्ली क्षेत्र में 50 साल पहले एक महिला कॉलेज शुरू करना और इतनी लंबी अवधि तक सफलतापूर्वक चलाना बेहद साहसिक प्रयोग है।इस मौके पर उपमुख्यमंत्री ने कहा, "सभी को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करना हमारी सरकार का सपना है। यह केवल हमारी पीढ़ी तक ही सीमित नहीं, बल्कि भावी पीढ़ियों के लिए भी जरूरी है। शिक्षा मंत्री के रूप में दूसरे कार्यकाल में, मेरा मुख्य एजेंडा उच्च, तकनीकी और कौशल शिक्षा को विकसित करना है।"

सिसोदिया ने पचास साल के इस यादगार सफर में शामिल विवेकानंद कॉलेज के सभी फैकल्टी मेंबर्स, स्टाफ, स्टूडेंट्स और अभिभावकों को बधाई दी। उन्होंने कहा, "प्रिंसिपल डॉ. हिना नंदराजोग के कुशल नेतृत्व में एक विश्वस्तरीय संस्थान के बतौर इन संस्थान की नींव रखी गई है। भविष्य में जब इस कॉलेज की 100 वीं वर्षगांठ मनाई जाएगी, तब मौजूदा टीम के विजन को लागू करने में उन बाद के 50 वर्षो को भी उतने ही महत्वपूर्ण सालों के रूप में याद रखा जाएगा।"

समारोह के दौरान प्रिंसिपल डॉ. हिना नंदराजोग ने कॉलेज की उपलब्धियों की जानकारी दी। उन्होंने जरूरतमंद छात्राओं तथा खिलाड़ियों के लिए फीस माफी, छात्रवृत्ति की भी जानकारी दी। सिसोदिया ने ऐसे कदमों की सराहना की।गौरतलब है कि इस कॉलेज की स्थापना 1970 में हुई थी। यह यमुना पार इलाके में महिलाओं की शिक्षा के लिए प्रमुख कॉलेजों में एक है। अभी इसमें बीए (ऑनर्स), बीएससी (ऑनर्स) सहित अन्य अलग-अलग पाठ्यक्रमों में 2265 छात्राएं अध्ययनरत हैं।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। दिल्ली: तकनीकी शिक्षा है शिक्षा मंत्रालय का मुख्य एजेंडा News in Hindi के लिए क्लिक करें एजुकेशन सेक्‍शन
Write a comment
X