Tuesday, June 25, 2024
Advertisement

'मैं 25 साल में आपसे नहीं डरा, अब कोशिश छोड़ दीजिए', पीएम मोदी का कांग्रेस पर बड़ा अटैक

लोकसभा चुनाव 2024 के लिए दूसरे चरण का मतदान 26 अप्रैल को आयोजित हो रहा है। दूसरी ओर पीएम मोदी ने बिहार के अररिया में रैली को संबोधित किया और कांग्रेस व राजद पर जमकर निशाना साधा है।

Edited By: Subhash Kumar @ImSubhashojha
Updated on: April 26, 2024 23:17 IST
lok sabha elections 2024- India TV Hindi
Image Source : X (BJP4INDIA) lok sabha elections 2024

लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर पीएम मोदी ने शुक्रवार को बिहार के अररिया जिले में रैली को संबोधित किया है। पीएम मोदी ने रैली में कांग्रेस और राजद पर जमकर निशाना साधा है। पीएम ने ये तक कह दिया है कि विपक्ष का इकोसिस्टम 25 साल से उन्हें डराने की कोशिश कर रहा है लेकिन वह नहीं डरे। पीएम मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस और RJD लोगों का हक छीनने की प्रवृत्ति से बाज नहीं आ रहे हैं। अब कांग्रेस ने दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों के आरक्षण का हक छीनने की बहुत गहरी साजिश रची है।

भारत में धर्म आधारित आरक्षण नहीं हो सकता- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने रैली में कहा कि देश के संविधान ने साफ-साफ कहा है कि भारत में धर्म आधारित आरक्षण नहीं हो सकता। लेकिन, कांग्रेस पूरे देश में धर्म आधारित आरक्षण के लिए जोर लगा रही है। कांग्रेस चाहती है कि उसका कर्नाटक का आरक्षण मॉडल पूरे देश में लागू हो। पीएम ने कहा कि OBC जातियों का आरक्षण छीनकर, कांग्रेस अपने चहेते वोटबैंक को देना चाहती है। तुष्टिकरण के दलदल में कांग्रेस-RJD जैसी पार्टियां इतना धंस गई हैं कि उनके लिए संविधान भी मायने नहीं रखता।

मैं इनसे कभी डरा नहीं- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने रैली में कहा कि जब मैं कांग्रेस द्वारा सिर्फ मुसलमानों को प्राथमिकता दिए जाने की बात करता हूं, तो कुछ लोग आगबबूला हो जाते हैं। उनका इकोसिस्टम पिछले एक सप्ताह से मेरे बाल नोंच रहा है। मैं इन्हें कहना चाहता हूं कि 25 साल हो गए,आपने मुझे बहुत डराने की कोशिश की, लेकिन मैं डरा नहीं, इसलिए अब कोशिश बंद कर दो।

देश की संपत्ति पर पहला हक किसका?

पीएम मोदी ने याद दिलाया कि 2011 में जब दिल्ली में RJD और कांग्रेस की सरकार थी। तो उस समय के प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह जी की कैबिनेट ने OBC आरक्षण का हिस्सा छीनकर धर्म के आधार पर वोटबैंक को आरक्षण देने की मंजूरी दे दी थी। लेकिन, उस समय जागरूक कोर्ट ने इन्हें ऐसा करने से रोक दिया था। पीएम ने कहा कि इस देश के संसाधनों पर, देश की संपत्ति पर पहला हक मेरे देश के गरीबों का, मजदूरों का, किसानों का, माताओं-बहनों का है। चाहे किसी भी धर्म के हों, लेकिन अगर वो गरीब हैं तो पहला हक उनका है, ये मोदी की सोच है।

ये भी पढ़ें- क्या बदलेंगे नोटा से जुड़े नियम? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग को दिए निर्देश


Lok Sabha Elections 2024: मुख्तार अंसारी का जहां था दबदबा, जानिए उस सीट पर वोटिंग किस तारीख को है?

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement