1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. एजुकेशन
  4. रिजल्ट्स
  5. कैसे तैयार होगा UP बोर्ड की 10वीं और 12वीं का रिजल्ट? जानिए- क्या फॉर्मूला तय हुआ

कैसे तैयार होगा UP बोर्ड की 10वीं और 12वीं का रिजल्ट? जानिए- क्या फॉर्मूला तय हुआ

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्ट को लेकर चिंतित बच्चों और उनके अभिभावकों के लिए एक राहत भरी खबर है। दरअसल, यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्ट का फॉर्मूला तैयार हो गया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: June 20, 2021 22:40 IST
कैसे तैयार होगा UP बोर्ड की 10वीं और 12वीं का रिजल्ट? जानिए- क्या फॉर्मूला तय हुआ- India TV Hindi
Image Source : PTI कैसे तैयार होगा UP बोर्ड की 10वीं और 12वीं का रिजल्ट? जानिए- क्या फॉर्मूला तय हुआ

लखनऊ: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्ट (UP Board 10th & 12th Exam Results) को लेकर चिंतित बच्चों और उनके अभिभावकों के लिए एक राहत भरी खबर है। दरअसल, यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्ट का फॉर्मूला तैयार हो गया है। यह फॉर्मूला शिक्षा क्षेत्र से जुड़े जनप्रतिनिधियों, शिक्षाविदों, प्रधानाचार्य परिषद, माध्यमिक शिक्षक संघों और अभिभावक संघों आदि की राय तथा विशिष्ट ई-मेल आई.डी. द्वारा जन सामान्य एवं छात्र/छात्राओं से सुझाव लेने के बाद तैयार किया गया है। आधिकारिक रूप से इसे रविवार को जारी किया गया है।

कैसे तैयार होगा 12वीं का रिजल्ट?

यह 10वीं के 50%, 11वीं के वार्षिक/अद्धवार्षिक परीक्षा के 40% और 12वीं प्री-बोर्ड के 10% अंक से तैयार होगा। इसी फॉर्मूले से विषयवार अंक निकाले जाएंगे और उससे रिजल्ट तैयार किया जाएगा। जैसे- अगर परीक्षार्थी ने 10वीं की वार्षिक लिखित परीक्षा में 600 में से 300 अंक प्राप्त किए हैं, तब उसका औसत अंक 300/6= 50 अंक होगा। इसमें से 50 प्रतिशत देयता के अनुसार उसे 25 अंक देय होगा। 11वीं में किसी विषय विशेष में अगर उसे 100 अंक में से 60 अंक मिले हैं तब उसका 40 प्रतिशत 24 अंक होगा। 12वीं प्रीबोर्ड परीक्षा में उस विषय में उसे 50 अंक मिले हैं तब उसका 10 प्रतिशत 5 अंक होगा। इस प्रकार उसके कुल अंक 25+24+5=54 अंक होंगे।

कैसे तैयार होगा 10वीं बोर्ड का रिजल्ट?

10वीं बोर्ड का रिजल्ट, 9वीं के 50% और 10वीं प्री-बोर्ड के 50% अंकों से तैयार किया जाएगा। इसके अतिरिक्त 30 अंको की आन्तरिक मूल्यॉकन परीक्षा के अंक भी रिजल्ट में शामिल किए जाएंगे। तीनों अंको को जोड़कर सम्बन्धित परीक्षार्थी के विषयवार अंको का निर्धारण किया जायेगा। जैसे- अगर परीक्षार्थी ने 9वीं की वार्षिक लिखित परीक्षा में 70 अंको में से 60 अंक पाए हैं तब 50 प्रतिशत देयता के अनुसार उसके 30 अंक लिये जायेंगे। 10वीं प्री-बोर्ड लिखित परीक्षा में 70 अंको में से 40 अंक पाए हैं तब 50 प्रतिशत देयता के अनुसार उसके 20 अंक लिए जायेंगे। आन्तरिक मूल्यॉकन परीक्षा में अगर उसने 30 अंक में से 28 अंक पाए हैं तब सम्बन्धित परीक्षार्थी को कुल अंक 30+20+28= 78 अंक प्राप्त होंगे।

बोर्ड परीक्षाओं के लिए कितने बच्चों ने पंजीकृत किया?

वर्ष 2021 की परीक्षा में पंजीकृत कुल परीक्षार्थियों की संख्या 56,04,628 है। हाईस्कूल परीक्षा में कुल 29,94,312 परीक्षार्थी पंजीकृत हुये हैं, जिसमें संस्थागत परीक्षार्थी 29,74,487 (99.34 प्रतिशत) तथा व्यक्तिगत परीक्षार्थी 19,825 (0.66 प्रतिशत) हैं। वहीं, इण्टरमीडिएट परीक्षा में कुल 26,10,316 परीक्षार्थी पंजीकृत हुये हैं जिनमें संस्थागत परीक्षार्थी 25,17,658 (96.45 प्रतिशत) तथा व्यक्तिगत परीक्षार्थी 92,658 (3.55 प्रतिशत) हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Results News in Hindi के लिए क्लिक करें एजुकेशन सेक्‍शन
Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X