1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. पीएम मोदी कल अंडमान निकोबार के BJP कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे

पीएम मोदी कल अंडमान निकोबार में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से BJP कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की उपस्थिति में 9 अगस्त को अंडमान निकोबार के कार्यकर्ताओं के साथ शाम 4 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संवाद करेंगे।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: August 08, 2020 21:02 IST
PM Modi to address BJP workers of Andaman and Nicobar through video conferencing tomorrow- India TV Hindi
Image Source : FILE PM Modi to address BJP workers of Andaman and Nicobar through video conferencing tomorrow

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की उपस्थिति में 9 अगस्त को अंडमान निकोबार के कार्यकर्ताओं के साथ शाम 4 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संवाद करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां राजघाट के समीप स्थित ‘राष्ट्रीय स्वच्छता केंद्र’ का उद्घाटन किया। महात्मा गांधी को समर्पित राष्ट्रीय स्वच्छता केंद्र (आरएसके) की प्रधानमंत्री ने सबसे पहले घोषणा 10 अप्रैल 2017 को गांधीजी के चम्पारण ‘सत्याग्रह’ के 100 वर्ष पूरे होने के मौके पर की थी। यह स्वच्छ भारत मिशन पर एक परस्पर संवादात्‍मक (इंटरैक्टिव) अनुभव केंद्र होगा। 

पीएम मोदी रविवार को ‘कृषि अवसंरचना कोष’ के तहत वित्तपोषण सुविधा शुरू करेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को ‘‘कृषि अवसंरचना कोष’’ के तहत किसानों को एक लाख करोड़ रुपये की वित्तपोषण सुविधा शुरू करेंगे। इसके साथ ही वे ‘‘पीएम-किसान योजना’’ के तहत 8.5 करोड़ किसानों को 17,000 करोड़ रुपये की धनराशि की छठी किस्त भी जारी करेंगे। एक आधिकारिक वक्तव्य के मुताबिक वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से होने वाले इस कार्यक्रम में देश भर के लाखों किसान, सहकारी समितियां और आम नागरिक शामिल होंगे। केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे। 

केंद्रीय कैबिनेट ने पिछले महीने एक लाख करोड़ रुपये का ‘‘कृषि अवसंरचना कोष’’ बनाने को मंजूरी दी थी वक्तव्य के मुताबिक इस कोष से कृषि संबंधी बुनियादी संरचना के लिये सस्ते कर्ज दिये जायेंगे, जिससे ग्रामीण इलाकों में निजी निवेश को प्रोत्साहन मिलेगा तथा रोजगार के अवसरों का सृजन होगा। कृषि अवसंरचना कोष प्रधानमंत्री के 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज का एक हिस्सा है। 

यह योजना ब्याज अनुदान और वित्तीय सहायता के माध्यम से, फसल के बाद बुनियादी ढांचा प्रबंधन और सामुदायिक कृषि परिसंपत्तियों के लिए व्यवहार्य परियोजनाओं में निवेश के लिए मध्यम-लंबी अवधि के ऋण वित्तपोषण की सुविधा प्रदान करेगी। ये परिसंपत्तियां किसानों को अपनी उपज के अधिक मूल्य प्राप्त करने में सक्षम करेंगी। इनकी बदौलत किसान अपनी उपज का भंडारण करने एवं ऊंचे मूल्यों पर बिक्री करने, बर्बादी कम करने, और प्रसंस्करण एवं मूल्यवर्धन में वृद्धि करने में समर्थ हो सकेंगे। कई ऋणदाता संस्थानों के साथ साझेदारी में वित्तपोषण सुविधा के तहत एक लाख करोड़ रुपये मंजूर किए जाएंगे। 

बयान में कहा गया कि सार्वजनिक क्षेत्र के 12 बैंकों में से 11 बैंकों ने पहले ही कृषि सहयोग और किसान कल्याण विभाग के साथ सहमति पत्रों (एमओयू) पर हस्ताक्षर कर दिए हैं। इन परियोजनाओं की व्यवहार्यता बढ़ाने के लिए लाभार्थियों को 3 प्रतिशत ब्याज सब्सिडी और दो करोड़ रुपये तक की ऋण गारंटी दी जाएगी। 

एक दिसम्बर, 2018 को आरंभ की गई प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (पीएम-किसान) के तहत 9.9 करोड़ से भी अधिक किसानों को 75,000 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का प्रत्यक्ष नकद लाभ प्रदान किया गया है। इसने किसानों को अपनी कृषि आवश्यकताओं को पूरा करने और अपने-अपने परिवारों को आवश्‍यक सहारा देने में सक्षम बनाया है। बयान के मुताबिक यह योजना कोविड-19 महामारी के दौरान किसानों को आवश्‍यक सहारा देने में भी सहायक रही है। दरअसल, लॉकडाउन अवधि के दौरान किसानों की सहायता के लिए लगभग 22,000 करोड़ रुपये जारी किए गए।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X