1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. वसीम रिजवी ने पीएम को लिखा पत्र, कहा- 'बंद किए जाएं सभी मदरसे, ISIS की सोच को दिया जा रहा है बढ़ावा'

वसीम रिजवी ने पीएम को लिखा पत्र, कहा- 'बंद किए जाएं सभी मदरसे, ISIS की सोच को दिया जा रहा है बढ़ावा'

यूपी शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर देशभर के सभी मदरसों को बंद करने की मांग की है। रिजवी ने पीएम को लिखे अपने पत्र में कहा कि देश के सभी मदरसों में ISIS की विचारधारा को बढ़ावा दिया जा रहा है, इन्हें बंद किया जाए।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: January 22, 2019 11:32 IST
यूपी शिया वक्फ बोर्ड...- India TV Hindi
Image Source : ANI यूपी शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर देशभर के सभी मदरसों को बंद करने की मांग की है। (File Photo)

नई दिल्ली: यूपी शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर देशभर के सभी मदरसों को बंद करने की मांग की है। रिजवी ने पीएम को लिखे अपने पत्र में कहा कि देश के सभी मदरसों में ISIS की विचारधारा को बढ़ावा दिया जा रहा है, इन्हें बंद किया जाए। पत्र में रिजवी ने लिखा कि अगर जल्दी प्राथमिक मदरसे बंद नहीं हुए तो 15 साल बाद देश का आधे से ज्यादा मुसलमान ISIS की विचारधारा का समर्थक बन जाएगा।

अपने कथन को मजबूती देने के लिए रिजवी ने तर्क दिया और पत्र में लिखा कि “क्योंकि पूरी दुनिया में ये देखा गया है कि कोई भी मिशन चलाने के लिए बच्चों को निशाना बनाया जाता है और इस वक्त दुनिया में ISIS एक खतरनाक आतंकी संगठन है जो धीरे-धीरे पूरी दुनिया में मुस्लिम आबादी वाले क्षेत्रों में अपनी पकड़ बना रहा है।”

वसीम रिजवी ने पत्र में लिखा कि “हिंदुस्तान में ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे प्राथमिक मदरसे चंदे के लालच में हमारे बच्चों का भविष्य खराब करने पर आमादा हैं। उनको सामान्य शिक्षा से दूर रखकर उनमें इस्लाम के नाम पर कट्टरपंथी सोच पैदा की जा रही है, जो हमारे मुसलमान बच्चों के लिए घातक है और साथ ही साथ देश के लिए भी एक बड़ा खतरा है।”

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X