गुरुग्राम में बड़ी वारदात: मंदिर पहुंचे ग्रामीण ने कंबल हटाकर देखा तो उड़े होश, 90 साल के पुजारी के धड़ से अलग पड़ा था सिर

कादरपुर गांव में लगभग 40 साल पुराना मोहनराम का मंदिर है जिसको तीजन वाला मंदिर भी कहते हैं यहां पर जब से मंदिर बना है तब से यहां एक पुजारी रहते हैं जिनका नाम है गोविंद दास। उनकी उम्र लगभग 90 साल हो चुकी है।

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 30, 2022 16:19 IST
Priest Murder- India TV Hindi News
Image Source : INDIA TV Priest found dead inside temple

Highlights

  • 90 साल के बुजुर्ग पुजारी गोविंद दास की गर्दन काटकर हत्या
  • देर रात अज्ञात हमलावर ने दिया वारदात को अंजाम
  • सुबह ग्रामीण मंदिर गए तो हुआ खुलासा

गुरुग्राम: गुरुग्राम के कादरपुर गांव में मंदिर के 90 वर्षीय पुजारी की बेरहमी से हत्या कर दी गई। हत्यारे ने पुजारी की गर्दन ही धड़ से अलग कर दी और फिर पुजारी के शव को कंबल से ढक कर फरार हो गया। जानकारी मिलने के बाद गुरुग्राम पुलिस दलबल के साथ मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई है।

कादरपुर गांव में उस समय हड़कंप जैसा माहौल हो गया जब गांव में सूचना फैली कि प्राचीन मोहनराम मंदिर के 90 वर्षीय पुजारी की किसी ने गर्दन काटकर हत्या कर दी है। दरअसल, कादरपुर में लगभग 40 साल पुराना मोहनराम का मंदिर है जिसको तीजन वाला मंदिर भी कहते हैं यहां पर जब से मंदिर बना है तब से यहां एक पुजारी रहते हैं जिनका नाम है गोविंद दास। उनकी उम्र लगभग 90 साल हो चुकी है। मंदिर के पुजारी पिछले लगभग एक साल से लकवे से ग्रसित हैं और चलफिर नहीं सकते हैं। उनके लिए मंदिर में एक सेवादार रखा हुआ है जो कि मंगलवार सुबह ही अपने गांव चला गया और मंगलवार देर रात कोई इस वारदात को अंजाम दे गया।

आज सुबह जब ग्रामीण पुजारी को चाय देने के लिए मंदिर आए तो कई आवाज देने के बाद भी पुजारी ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। इसके बाद जब ग्रामीण ने पुजारी के ऊपर से कंबल हटा कर देखा तो उनका सिर धड़ से अलग कटा हुआ पड़ा था। मंदिर के पुजारी की हत्या की जानकारी गांव में आग की तरह फैल गई और पुरा गांव मंदिर में इक्कट्ठा हो गया।

मामले की जानकारी गुरुग्राम पुलिस को भी दी गई जिसके बाद मौके पर क्राइम डीसीपी, एसीपी, फोरेंसिक टीम और डॉग स्कवायड को भी बुलाया गया। हालांकि प्राथमिक जांच में मामला लूटपाट का नहीं लग रहा है क्योंकि पुजारी की जेब में पैसे सुरक्षित मिले हैं। हालांकि सवाल तो ये उठ रहा है कि 90 वर्षीय पुजारी जो ठीक से चल फिर भी नहीं सकते है उनकी किसी से क्या दुश्मनी हो सकती है। अब गुरुग्राम पुलिस इन सभी पहलुओं पर जांच कर रही है।

Latest India News

navratri-2022