1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. सिकंदराबाद हिंसा मामले में निजी कोचिंग सेंटर का मालिक गिरफ्तार, युवाओं को उकसाने के पीछे हाथ

Secunderabad Violence: सिकंदराबाद हिंसा मामले में निजी कोचिंग सेंटर का मालिक गिरफ्तार, युवाओं को उकसाने के पीछे हाथ

Secunderabad Violence: सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर हिंसा के एक हफ्ते बाद, रेलवे पुलिस ने बड़ा एक्शन लिया है। पुलिस ने शुक्रवार को तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में निजी डिफेंस कोचिंग सेंटरों की एक चेन के मालिक अवुला सुब्बा राव को गिरफ्तार कर लिया है। 

Swayam Prakash Edited by: Swayam Prakash @SwayamNiranjan
Published on: June 24, 2022 22:34 IST
Violent protests were seen nation wide against the Agneepath scheme- India TV Hindi News
Image Source : FILE PHOTO Violent protests were seen nation wide against the Agneepath scheme

Highlights

  • सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर हिंसा केस में एक्शन
  • कोचिंग सेंटर का मालिक अवुला सुब्बा राव गिरफ्तार
  • राव पर युवाओं को हिंसा के लिए उकसाने के आरोप

Secunderabad Violence: सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर हिंसा के एक हफ्ते बाद, रेलवे पुलिस ने बड़ा एक्शन लिया है। पुलिस ने शुक्रवार को तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में निजी डिफेंस कोचिंग सेंटरों की एक चेन के मालिक अवुला सुब्बा राव को गिरफ्तार कर लिया है। राव को सेना में नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों को कथित तौर पर उकसाने के आरोप में गिरफ्तार किया है। 

युवाओं को हिंसा के लिए उकसाने के आरोप

पुलिस ने पिछले कुछ दिनों से उससे पूछताछ के बाद उसे हिरासत में ले लिया। साई रक्षा अकादमी के निदेशक राव भारतीय सेना में चिकित्सा सहायक के पद से सेवानिवृत्त हुए थे। राव और साई रक्षा अकादमी में कार्यरत पांच अन्य लोगों को मेडिकल चेकअप के लिए गांधी अस्पताल ले जाया गया। उन्हें बाद में रेलवे कोर्ट में पेश किया जाएगा। राव ने सेना में भर्ती के लिए केंद्र की नई योजना अग्निपथ का विरोध करते हुए 17 जून को सिकंदराबाद स्टेशन पर अपने कोचिंग संस्थान और अन्य निजी कोचिंग सेंटरों में प्रशिक्षित सेना की नौकरी के उम्मीदवारों को कथित तौर पर हिंसा का सहारा लेने के लिए उकसाया।

अग्निपथ योजना से कोचिंग संस्थान बंद होने का डर

घटना के एक दिन बाद, उसे आंध्र प्रदेश में पुलिस ने हिरासत में लिया और तीन दिन पहले हैदराबाद लाया गया। पुलिस को संदेह है कि सुब्बा राव ने युवाओं को भगदड़ के लिए उकसाया क्योंकि उन्हें डर था कि अग्निपथ योजना के लागू होने से उनके कोचिंग संस्थान बंद हो सकते हैं। पुलिस साईं डिफेंस एकेडमी में कार्यरत अन्य लोगों की भूमिका की जांच कर रही थी। राव के साथ गिरफ्तार किए गए लोगों में शिव और हरि शामिल हैं।

सिकंदराबाद स्टेशन पर हुई थी आगजनी

आंध्र प्रदेश के प्रकाशम जिले के रहने वाले राव ने 2015 में साई रक्षा अकादमी की शुरूआत की। उन्होंने हाल ही में सिकंदराबाद में अपनी अकादमी की एक और शाखा खोली। अग्निपथ का विरोध कर रहे सैकड़ों युवकों ने 17 जून को सिकंदराबाद स्टेशन पर तोड़फोड़ की थी। उन्होंने ट्रेन के डिब्बों और इंजनों में आग लगा दी, परिवहन सामान जला दिया, स्टेशन में तोड़फोड़ की और अन्य रेलवे संपत्ति को नुकसान पहुंचाया।

स्थिति को नियंत्रित करने के लिए रेलवे पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी में एक प्रदर्शनकारी की मौत हो गई और 13 अन्य घायल हो गए थे। पुलिस पहले ही हिंसा के सिलसिले में 55 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। इनमें साईं रक्षा अकादमी में प्रशिक्षित सेना की नौकरी के इच्छुक उम्मीदवार शामिल हैं।

Latest India News

>independence-day-2022