1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस में बड़ा खुलासा, इन 5 गैंगस्टर्स ने रची थी साजिश, रूसी हथियार AN94 का हुआ इस्तेमाल

Sidhu Moosewala Murder: सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस में बड़ा खुलासा, इन 5 गैंगस्टर्स ने रची थी साजिश, रूसी हथियार AN94 का हुआ इस्तेमाल

Sidhu Moosewala Murder: 5 गैंगस्टर्स में लॉरेंस विश्नोई, गोल्डी बराड़, सचिन थापन, अनमोल विश्नोई और बिक्रम बराड़ शामिल थे। जिसमें गोल्डी बराड़ कनाडा से और विक्रम बराड़ दुबई से चीजों को ऑपरेट कर रहा था।

Rituraj Tripathi Written by: Rituraj Tripathi @rocksiddhartha7
Updated on: June 18, 2022 13:42 IST
Sidhu Moosewala Murder Case- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV Sidhu Moosewala Murder Case

Highlights

  • लॉरेंस गैंग के 5 गैंगस्टर्स ने रची साजिश, सचिन और अनमोल ने निभाई अहम भूमिका
  • मर्डर केस में लॉरेंस विश्नोई, गोल्डी बराड़, सचिन थापन, अनमोल विश्नोई और बिक्रम बराड़ का नाम
  • शूटर्स को निर्देश दे रहे थे ये पांचों गैंगेस्टर्स, हत्या में रूसी हथियार AN94 का इस्तेमाल

Sidhu Moosewala Murder: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई से पूछताछ में कई बड़े खुलासे हुए हैं। पूछताछ में सामने आया है कि मूसेवाला की हत्या की साजिश लॉरेंस गैंग के 5 गैंगस्टर्स ने रची थी। इन 5 गैंगस्टर्स में लॉरेंस विश्नोई, गोल्डी बराड़, सचिन थापन, अनमोल विश्नोई और बिक्रम बराड़ शामिल थे। जिसमें गोल्डी बराड़ कनाडा से और विक्रम बराड़ दुबई से चीजों को ऑपरेट कर रहा था। इस पूरी साजिश में सचिन थापन और अनमोल विश्नोई ने मुख्य भूमिका निभाई थी और इस समय ये दोनों यूरोप में हैं। ऐसी जानकारी सामने आई है। ये पांचों गैंगेस्टर ही मूसेवाला (Sidhu Moosewala) मर्डर की साजिश को लेकर अपने शूटर्स को निर्देश दे रहे थे। ये सारी बातें लॉरेंस से पूछताछ के बाद हुई पुलिस जांच में सामने आई हैं। 

हत्या में रूसी हथियार AN94 इस्तेमाल

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में रूसी हथियार AN94 का इस्तेमाल किया गया था। ऐसा इसलिए भी था क्योंकि गैंगेस्टर्स ने ये साजिश रची थी कि अगर मूसेवाला अपनी बुलेटप्रूफ फॉर्च्यूनर में हुए, तब भी उन्हें मार देंगे। इस हथियार को अगर तेजी से इस्तेमाल किया जाता है तो बुलेटप्रूफ गाड़ी को भी भेदा जा सकता है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मूसेवाला (Sidhu Moosewala) की बुलेटप्रूफ गाड़ी की ताकत जानने के लिए कुछ गैंगेस्टर्स जालंधर गए थे और वहां से जानकारी निकाली थी कि मूसेवाला के बुलेटप्रूफ ग्लास को कैसे बेअसर किया जा सकता है। हालांकि जिस दिन मूसेवाला की हत्या हुई, उस दिन वह बुलेटप्रूफ फॉर्च्यूनर में नहीं थे बल्कि अपनी ब्लैक कलर की थार में सवार थे।

सिद्धू मूसेवाला को था हमले का डर

मिली जानकारी के मुताबिक, सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moosewala) को इस बात का शक था कि उनका मर्डर किया जा सकता है इसलिए वह अमेरिका से बुलेट प्रूफ जैकेट मंगवाने वाले थे। अमेरिका के एक आर्म्स डीलर विक्की मान सलौदी ने बताया है कि उनकी और मूसेवाला की इस जैकेट के बारे में बात हुई थी और मूसेवाला लेवल थ्री हार्ड बुलेट जैकेट पर राजी हो गए थे। लेकिन मूसेवाला ये जैकेट नहीं खरीद सके और तब तक उनकी हत्या हो गई।