1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. मेरी दो जेबों में हैं 'ब्राह्मण' और 'बनिया', BJP नेता मुरलीधर राव ने कहा

मेरी दो जेबों में हैं 'ब्राह्मण' और 'बनिया', BJP नेता मुरलीधर राव ने कहा

कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा कि जिस वर्ग के नेताओ ने भाजपा को खड़ा करने में अपनी महती भूमिका निभायी है , उन वर्गों का यह कैसा सम्मान…? भाजपा के नेता सत्ता के नशे व अहंकार में चूर हो गये है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 08, 2021 20:18 IST
Brahmins & Baniyas are in my two pockets says BJP leader P Murlidhar Rao मेरी दो जेबों में हैं 'ब्रा- India TV Hindi
Image Source : ANI मेरी दो जेबों में हैं 'ब्राह्मण' और 'बनिया', BJP नेता मुरलीधर राव ने कहा 

नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी के नेता पी. मुरलीधर राव ने मध्य प्रदेश में कहा कि 'ब्राह्मण' और 'बनिया' उनकी दो जेबों में हैं। दरअसल मीडिया द्वारा उनसे सवाल किया था कि 'भारतीय जनता पार्टी जातियों के नाम पर वोट क्यों मांगती है।' इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, " 'ब्राह्मण' और 'बनिया' मेरी दो जेबों में हैं... जब ब्राह्मण कार्यकर्ता थे तो इसे ब्राह्मणों की पार्टी कहा जाता था। जब बनिया कार्यकर्ता थे तो उसे बनियों की पार्टी कहा जाता था....भाजपा सबके लिए होगी।"

कमलनाथ ने साधा निशाना

मुरलीधर राव के इस बयान पर मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि सबका साथ - सबका विकास का नारा देने वाली भाजपा के मध्यप्रदेश के प्रभारी कह रहे है कि हमारी एक जेब में बनिया है, एक जेब में ब्राह्मण है। यह तो इन वर्गों का घोर अपमान है, भाजपा के मुताबिक़ ये वर्ग उनकी बपौती है, उनकी जेब में है।

कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा कि जिस वर्ग के नेताओ ने भाजपा को खड़ा करने में अपनी महती भूमिका निभायी है , उन वर्गों का यह कैसा सम्मान…? भाजपा के नेता सत्ता के नशे व अहंकार में चूर हो गये है। यह तो पूरे बनिया व ब्राह्मण वर्ग का अपमान है। भाजपा नेतृत्व इसके लिये इन वर्गों से अविलंब माफ़ी मांगे।

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा कि जो लोग सबका साथ- सबका विकास का नारा देते है, वो आज एक वर्ग को फ़ोकस करने की बात कर रहे है और दो वर्गों का खुलेआम अपमान कर रहे है, इनकी यह कैसी मानसिकता, कैसी सोच…? सत्ता की हवस के लिये भाजपा किसी भी हद तक जा सकती है, इनकी नीति- नियत - सिद्धांत सब सत्ता तक ही सीमित है।

bigg boss 15