1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. सेंसेक्स 208 अंक टूटकर 41,115.38 के स्तर पर हुआ बंद, ओएनजीसी में 5 प्रतिशत से अधिक का नुकसान

सेंसेक्स 208 अंक टूटकर 41,115.38 के स्तर पर हुआ बंद, ओएनजीसी में 5 प्रतिशत से अधिक का नुकसान

बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स बुधवार को शुरुआती लाभ गंवाकर 208 अंक टूटकर बंद हुआ। बीएसई सेंसेक्स 208. 43 अंक गिरकर 41,115.38 अंक पर तो निफ्टी 62.95 अंक घटकर 12,106.90 अंक पर बंद हुआ है। 

India TV Business Desk India TV Business Desk
Published on: January 22, 2020 16:29 IST
Sensex, ONGC, BSE Sensex, NIFTY- India TV Paisa
Photo:

Sensex sheds 208 pts; ONGC tanks 5 per cent

मुंबई। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स बुधवार को शुरुआती लाभ गंवाकर 208 अंक टूटकर बंद हुआ। बीएसई सेंसेक्स 208. 43 अंक गिरकर 41,115.38 अंक पर तो निफ्टी 62.95 अंक घटकर 12,106.90 अंक पर बंद हुआ है। ऊर्जा, बिजली, वाहन और वित्तीय कंपनियों के शेयर दबाव में रहे। 

बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन के उच्चस्तर से फिसलकर 473 अंक तक के नुकसान में आ गया था। अंत में सेंसेक्स 208.43 अंक या 0.50 प्रतिशत के नुकसान से 41,115.38 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान इसने 41,532.29 अंक का उच्चस्तर और 41,059.04 अंक का निचला स्तर छुआ। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 62.95 अंक या 0.52 प्रतिशत के नुकसान से 12,106.90 अंक पर बंद हुआ। 

सेंसेक्स की कंपनियों में ओएनजीसी का शेयर सबसे अधिक 5.13 प्रतिशत टूटा। इसके बाद एनटीपीसी, मारुति, कोटक बैंक, एचडीएफसी, एशियन पेंट्स, आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक के शेयर भी नुकसान में रहे। वहीं दूसरी ओर नेस्ले इंडिया, टीसीएस, इन्फोसिस, एचसीएल टेक, एसबीआई और भारती एयरटेल के शेयर 1.86 प्रतिशत तक चढ़ गए। 

विश्लेषकों का कहना है कि आम बजट से पहले ज्यादातर बड़े शेयर बिकवाली दबाव के चलते 'सुधार' प्रक्रिया में है। इसके अलावा वैश्विक एजेंसियों द्वारा भारत के वृद्धि अनुमान को घटाने और कंपनियों के तिमाही नतीजे उम्मीद के अनुकूल नहीं रहने की वजह से भी घरेलू निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई है। 

अन्य एशियाई बाजारों में चीन का शंघाई, हांगकांग का हैंगसेंग, जापान का निक्की और दक्षिण कोरिया का कॉस्पी लाभ में रहे। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार भी लाभ में रहे। ब्रेंट कच्चा तेल वायदा 0.67 प्रतिशत के नुकसान से 64.16 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था। अंतर बैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया 71.22 प्रति डॉलर पर स्थिर था।

Write a comment
X