1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. द्रविड़ के तराशे हुए हीरे बचा रहे ऑस्ट्रेलिया में भारत की साख, जाफर ने तारीफ में पढ़े कसीदे

द्रविड़ के तराशे हुए हीरे बचा रहे ऑस्ट्रेलिया में भारत की साख, जाफर ने तारीफ में पढ़े कसीदे

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 15 जनवरी से 4 मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी और निर्णायक मैच का आगाज हुआ। 

India TV Sports Desk India TV Sports Desk
Published on: January 15, 2021 21:01 IST
द्रविड़ के तराशे हुए...- India TV Hindi
Image Source : GETTY IMAGES द्रविड़ के तराशे हुए हीरे बचा रहे ऑस्ट्रेलिया में भारत की साख, जाफर ने तारीफ में पढ़े कसीदे

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 15 जनवरी से 4 मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी और निर्णायक मैच का आगाज हुआ। इस मैच में चोटों से परेशान भारत अनुभवहीन युवा गेंदबाजों के साथ उतरी जिसमें वाशिंगटन सुंदर और टी नटराजन को डेब्यू करने का मौका मिला।

इस बीच बुमराह, अश्विन, जडेजा और विहारी जैसे खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में युवा खिलाड़ियों को चौथे टेस्ट की प्लेइंग इलेवन में मौका दिए जाने पर कमेंटेटर हर्षा भोगले और पूर्व भारतीय क्रिकेटर वसीम जाफर ने एनसीए प्रमुख राहुल द्रविड़ की तारीफ की है।

दरअसल, गाबा टेस्ट में भारत की प्लेइंग इलेवन में शुभमन गिल, वाशिंगटन सुंदर, रिषभ पंत. नवदीप सैनी, मोहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर जैसे युवा खिलाड़ियों को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया जिनकी प्रतिभा को निखारने का श्रेय एनसीए प्रमुख राहुल द्रविड़ को जाता है।

Ind vs Aus : रहाणे ने जब टपकाया लाबुशेन का आसान सा कैच तो फैन्स ने लगाई लताड़, देखें Video

क्रिकेट कमेंटेटर हर्षा भोगले ने ट्वीट किया, "यदि भारत अभी एक सही टीम बना पा रहा है, तो हमें पिछले 3-4 वर्षों में 'ए' दौरों की सराहना करनी चाहिए। उनके बिना, फर्स्ट क्लास क्रिकेट और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के बीच की खाई को पाटना बहुत कठिन होता।राहुल द्रविड़ का बहुत धन्यवाद जो इस फिनिशिंग स्कूल में रहे हैं।"

हर्षा के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए पूर्व भारतीय क्रिकेटर वसीम जाफर ने लिखा, "द्रविड़ कमेंट्री बॉक्स से मैच का विश्लेषण कर सकते थे लेकिन उन्होंने प्रतिभाशाली युवाओं को मैच के लिए तैयार करने का फैसला किया।। यह सफलता पिछले कुछ वर्षों में राहुल भाई, विराट, रवि भाई और भरत अरुण के सामूहिक प्रयासों का भी परिणाम है।"

गौरतलब है कि गाबा टेस्ट में डेब्यू करने वाले वाशिंगटन सुंदर द्रविड़ की कोचिंग वाली अंडर -19 टीम में खेल चुके है। यह द्रविड़ ही थे जिन्होंने सुंदर को एक गेंदबाजी ऑलराउंडर बनने का सुझाव दिया था। 

Ind vs Aus : ऑस्ट्रेलिया के लिए टेस्ट मैचों का सैंकड़ा मारने वाले 13वें खिलाड़ी बने लॉयन, दिग्गजों की लिस्ट में हुए शामिल

सुंदर ने स्पोर्टस्टार को एक इंटरव्यू में बताया था, "मैं एक सलामी बल्लेबाज हूं, लेकिन जब मैं भारत की अंडर -19 टीम में शामिल हुआ, तो राहुल द्रविड़ सर ने मुझे मध्य क्रम में बल्लेबाजी करने के लिए कहा और मुझसे ऑफ स्पिन गेंदबाजी कराना चाहते थे। मैंने इस भूमिका के लिए खुद को ढाला।"

टेस्ट डेब्यू के दौरान वाशिंगटन सुंदर ने भारतीय टीम को खतरनाक स्टीव स्मिथ के रुप में बड़ी सफलता दिलाई। सुंदर के अलावा शुभमन गिल, मयंक अग्रवाल. रिषभ पंत, नवदीप सैनी और मोहम्मद सिराज ने भी राहुल द्रविड़ की निगरानी में अपनी प्रतिभा को निखारा है।

 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड