1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पश्चिम बंगाल
  4. मृत्यु के चार महीने बाद किया गया बीजेपी नेता का अंतिम संस्कार

मृत्यु के चार महीने बाद किया गया बीजेपी नेता का अंतिम संस्कार

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने शुरू में कहा था कि अगर माजी के होमगार्ड को थप्पड़ मारने का आरोप सही साबित होता है तो पार्टी उनके खिलाफ कार्रवाई करेगी। हालांकि, बाद में उन्होंने कहा कि बीजेपी नेता ने सही काम किया।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: September 09, 2021 21:40 IST
Bengal: BJP leader's last rites performed four months after his death- India TV Hindi
Image Source : PTI बीजेपी के पदाधिकारी अभिजीत सरकार की हत्या के चार महीने बाद उनका अंतिम संस्कार किया गया।

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के पदाधिकारी अभिजीत सरकार की हत्या के चार महीने बाद बृहस्पतिवार को उनका अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान कोलकाता के एक सरकारी अस्पताल के मुर्दाघर से अभिजीत का शव सौंपने के दौरान हुए झगड़े के बाद बीजेपी के एक नेता ने होमगार्ड को कथित तौर पर थप्पड़ मार दिया। बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद हुई हिंसा में कथित रूप से मारे गए अभिजीत सरकार के शव का बाद में दक्षिण कोलकाता में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास के पास एक श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार किया गया। 

सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में कथित तौर पर बीजेपी नेता देबदत्त माजी को नीलरतन सरकार मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल के मुर्दाघर में होमगार्ड को थप्पड़ मारते हुए दिखाया गया है, जहां अभिजीत सरकार का शव रखा गया था। यह घटना तब हुई जब बीजेपी नेताओं और अभिजीत सरकार के परिवार के सदस्यों को मुर्दाघर परिसर के बाहर लंबे समय तक इंतजार करने के लिए मजबूर किया गया। 

कोलकाता की एक स्थानीय अदालत ने बुधवार को निर्देश दिया कि अभिजीत का शव उसके परिवार को सौंप दिया जाए। माजी ने संवाददाताओं से कहा, "वे (अस्पताल के अधिकारी) अभिजीत के शव को हमें सौंपने में देर कर रहे थे और होमगार्ड चालाकी से काम कर रहा था। झगड़े और धक्का-मुक्की हो रही थी।" 

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने शुरू में कहा था कि अगर माजी के होमगार्ड को थप्पड़ मारने का आरोप सही साबित होता है तो पार्टी उनके खिलाफ कार्रवाई करेगी। हालांकि, बाद में उन्होंने कहा कि बीजेपी नेता ने सही काम किया। घोष ने संवाददाताओं से कहा, "एक होमगार्ड ने बीजेपी के सदस्यों और समर्थकों को परेशान करने की हिम्मत कैसे की? ममता बनर्जी का प्रशासन कानून के किसी भी शासन की परवाह नहीं करता है। आपको (होमगार्ड) पता होना चाहिए कि आपके पास कई साल की सेवा बाकी है और ममता बनर्जी आपको हमेशा नहीं बचायेंगी।"

ये भी पढ़ें

Click Mania
uttar pradesh chunav manch 2021