Wednesday, April 17, 2024
Advertisement

New Zealand: विदेश मंत्री जयशंकर का पहला न्यूजीलैंड दौरा पूरा, द्विपक्षीय संबंधों पर हुई बात, भारतीय छात्रों की समस्याओं का मुद्दा उठाया

S Jaishankar New Zealand Visit: विदेश मंत्री एस जयशंकर का पहला न्यूजीलैंड दौरा पूरा हो गया है। यहां उन्होंने प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न और विदेश मंत्री नानैया महुता से मुलाकात की है।

Shilpa Edited By: Shilpa @Shilpaa30thakur
Updated on: October 10, 2022 14:00 IST
S Jaishankar New Zealand Visit- India TV Hindi
Image Source : TWITTER S Jaishankar New Zealand Visit

Highlights

  • विदेश मंत्री ने न्यूजीलैंड का दौरा किया
  • प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न से मुलाकात की
  • भारतीय छात्रों को लेकर भी बात की गई

S Jaishankar New Zealand Visit: विदेश मंत्री एस जयशंकर ने न्यूजीलैंड की अपनी पहली यात्रा का समापन करते हुए रविवार को कहा कि भारत इस देश के साथ समकालिक और भविष्योन्मुखी द्विपक्षीय संबंध बनाने की दिशा में काम करेगा। जयशंकर ने अपनी यात्रा के दौरान वेलिंगटन में भारतीय उच्चायोग के नये कार्यालय का उद्घाटन किया और भारतीय समुदाय के लोगों के साथ बातचीत की। उन्होंने कहा कि भारत और न्यूजीलैंड की बीच महत्वपूर्ण संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए एक दूसरे की ताकत का अधिक समझदारी से उपयोग करना जरूरी है।

जयशंकर ने यह भी कहा कि दोनों देशों के बीच संबंधों को अद्यतन किया जाना बाकी है। उन्होंने एक ट्वीट में कहा, ‘‘न्यूजीलैंड की अपनी यात्रा संपन्न की। दोनों देशों के बीच संबंधों को अधिक समकालिक और भविष्योन्मुखी बनाने के लिए काम करेंगे। ’’ न्यूजीलैंड से वह कैनबरा और सिडनी जाएंगे, जो इस साल ऑस्ट्रेलिया की उनकी दूसरी यात्रा होगी। न्यूजीलैंड में भारतीय मूल के करीब ढाई लाख लोग और प्रवासी भारतीय हैं, जिनमें से ज्यादातर वहीं बस गये हैं।

भारतीय छात्रों की समस्याएं उठाईं

इसके साथ ही विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने रविवार को कहा कि उन्होंने न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न और विदेश मंत्री नानैया महुता से भारतीय छात्रों के समक्ष उत्पन्न कठिनाइयों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आग्रह किया है। विदेश मंत्री के रूप में न्यूजीलैंड की अपनी पहली यात्रा पर आए जयशंकर ने वेलिंगटन में नये भारतीय उच्चायोग चांसरी के उद्घाटन के दौरान भारतीय समुदाय के साथ बातचीत करते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने यहां के भारतीय छात्रों के संबंध में कहा कि कोविड महामारी के दौरान उनके लिए कठिन समय रहा है।

जयशंकर ने कहा, ‘‘कोविड के दौरान किसी का भी आसान समय नहीं था, लेकिन शायद हममें से ज्यादातर की तुलना में छात्र ज्यादा प्रभावित हुए। इसलिए, मैंने प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री से न्यूजीलैंड आने वाले छात्रों के प्रति सहानुभूतिपूर्ण दृष्टिकोण और समझ रखने का आग्रह किया और इस बात की खुशी है कि मुझे इस बारे में सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया गया है।’’ जयशंकर ने इस मुद्दे पर कुछ प्रगति नजर आने की उम्मीद जताई।

न्यूजीलैंड में सूचना प्रौद्योगिकी, आतिथ्य, विज्ञान, इंजीनियरिंग और वास्तुकला जैसे विभिन्न विषयों में उच्च शिक्षा प्राप्त करने वाले अंतरराष्ट्रीय छात्रों का दूसरा सबसे बड़ा स्रोत भारत है। जयशंकर ने बृहस्पतिवार को वीजा का मुद्दा भी उठाया था, जब उन्होंने न्यूजीलैंड की विदेश मंत्री महुता से मुलाकात की। उन्होंने भारत और न्यूजीलैंड के बीच सीधे हवाई संपर्क के विषय पर विचार किया और कहा कि इस पर ध्यान दिया जाएगा। 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement