1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. बांग्लादेश: पूर्व PM खालिदा जिया की जमानत अर्जी पर हाईकोर्ट रविवार को करेगा सुनवाई

बांग्लादेश: पूर्व PM खालिदा जिया की जमानत अर्जी पर हाईकोर्ट रविवार को करेगा सुनवाई

बांग्लादेश हाईकोर्ट भ्रष्टाचार के मामले में जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री और मुख्य विपक्षी दल बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी की प्रमुख खालिया जिया की जमानत याचिका पर रविवार को सुनवाई करेगा...

Bhasha Bhasha
Published on: February 22, 2018 21:33 IST
Khaleda Zia | PTI Photo- India TV Hindi
Khaleda Zia | PTI Photo

ढाका: बांग्लादेश हाईकोर्ट भ्रष्टाचार के मामले में जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री और मुख्य विपक्षी दल बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी की प्रमुख खालिया जिया की जमानत याचिका पर रविवार को सुनवाई करेगा। इसके अलावा कोर्ट ने निचली अदालत से मिली सजा को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर भी रविवार को ही सुनवाई करने का फैसला किया है। कोर्ट ने ये याचिकाएं गुरुवार को सुनवाई के लिए स्वीकार कर ली। गौरतलब है कि ढाका की एक विशेष अदालत ने 8 फरवरी को जिया को सजा सुनाई थी।

ढाका की एक विशेष अदालत ने 2.1 करोड़ टका (2,50,000 डॉलर) के गबन के सिलसिले में 8 फरवरी को 72 वर्षीय पूर्व प्रधानंत्री को कैद की सजा सुनाई थी। यह पैसा उनके दिवंगत पति जियाउर रहमान के नाम पर बने जिया ओरफेनेज ट्रस्ट के लिए था। जियाउर रहमान सैन्य शासक से नेता बने थे। हाईकोर्ट के एक अधिकारी ने कहा, ‘दो जजों की पीठ ने याचिकाएं स्वीकार कर लीं और खासकर जमानत दरख्वास्त पर सुनवाई की तारीख रविवार तय की।’

अधिकारी ने बताया कि न्यायमूर्ति एम इनायतुर रहीम और न्यायमूर्ति शाहिदुल करीम की पीठ ने खालिदा जिया पर लगे 2.10 करोड़ टका के जुर्माने पर भी रोक लगा दी और संबंधित अधिकारियों को अपील याचिका पर सुनवाई के लिए 15 दिन में केस रिकार्ड देने का निर्देश दिया। निचली अदालत ने खालिदा जिया को कैद की सजा सुनायी थी और उन पर जुर्माना भी लगाया था। जिया के वकीलों ने उनकी रिहाई के लिए 25 आधार गिनाए हैं और आरोप लगाया है कि फैसला आगामी चुनाव लड़ने से उन्हें रोकने के लिए राजनीति से प्रेरित है। प्रधानमंत्री शेख हसीना की सरकार ने इस आरोप का खंडन किया है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X