1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. उत्तर कोरिया ने कम दूरी की मिसाइलों का परीक्षण किया: सियोल

उत्तर कोरिया ने कम दूरी की मिसाइलों का परीक्षण किया: सियोल

उत्तर कोरिया ने अमेरिका को परमाणु वार्ता बहाल करने का प्रस्ताव देने के कुछ घंटों बाद ही मंगलवार को उसने दक्षिण प्योंगान प्रांत से पूर्वी सागर की ओर कम दूरी की दो मिसाइलें प्रक्षेपित कर दीं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: September 10, 2019 16:37 IST
उत्तर कोरिया ने कम...- India TV Hindi
उत्तर कोरिया ने कम दूरी की मिसाइलों का परीक्षण किया: सियोल (फाइल फोटो)

सियोल | उत्तर कोरिया ने अमेरिका को परमाणु वार्ता बहाल करने का प्रस्ताव देने के कुछ घंटों बाद ही मंगलवार को उसने दक्षिण प्योंगान प्रांत से पूर्वी सागर की ओर कम दूरी की दो मिसाइलें प्रक्षेपित कर दीं। दक्षिण कोरिया की सेना ने यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी योनहाप ने जॉइंट चीफ ऑफ स्टाफ (जेसीएस) के हवाले से बताया कि मिसाइलें राजधानी प्योंगयांग से लगभग 80 किलोमीटर उत्तर में दक्षिण प्योंगान प्रांत के काएशन शहर के क्षेत्रों से सुबह 6.53 बजे और 7.12 बजे लॉन्च की गईं।

जेसीएस ने कहा कि दोनों लगभग 330 किलोमीटर दूर तक गईं। एजेंसी ने कहा कि दक्षिण कोरियाई और अमेरिकी खुफिया एजेंसियां प्रशासन मिसाइलों की वास्तविक प्रकृति का पता लगा रही हैं। जेसीएस ने हालांकि मिसाइलों की अधिकतम गति की जानकारी नहीं दी। जेसीएस ने कहा, "हमारी सेना अतिरिक्त लॉन्चिंग की स्थिति में नजर बनाए हुए है और सतर्क है।" जेसीएस ने उत्तर कोरिया से तनाव बढ़ाने वाली ऐसी कार्रवाइयों को तत्काल रोकने का आह्वान किया।

हालिया लॉन्चिंग को देखते हुए दक्षिण कोरिया ने राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद (एनएससी) की आपातकालीन बैठक कर इस पर चर्चा की। बैठक की अध्यक्षता राष्ट्रपति राष्ट्रीय सुरक्षा कार्यालय के प्रमुख चुंग इउई-योंग ने की। इस बीच, अमेरिका के एक वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी ने कहा कि उन्हें मिसाइलों के हालिया प्रक्षेपण की जानकारी है और वह स्थिति पर बारीकी से नजर बनाए हुए है और अपने सहयोगियों से सलाह ले रहा है।

योनहाप ने कहा कि यह प्रक्षेपण उत्तर कोरिया के पहले उप विदेश मंत्री चाओ सोन-हुई द्वारा अमेरिका के साथ कोरियाई प्रायद्वीप को परमाणु हथियारों से मुक्त करने के मुद्दे पर इसी महीने बातचीत बहाल करने की इच्छा जताने और अमेरिका से प्योंगयांग को स्वीकार करने योग्य नया प्रस्ताव लाने की मांग करने के कुछ घंटों बाद ही किया गया।

उत्तर कोरिया का मई से यह 10वां ऐसा प्रक्षेपण है। अगस्त में दो प्रक्षेपण किए गए थे। माना जा रहा है कि उत्तर कोरिया द्वारा इससे पहले चार राउंड कम दूरी की मिसाइलों के परीक्षण किए गए थे, जो संयुक्त राष्ट्र प्रस्तावों का उल्लंघन है।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X