पूर्व पीएम इमरान खान के पैर से निकाली गई गोली, हमलावर बोला-जान से मारना था...बच गया;अब होगा ये

Pakistan Ex PM Imran Khan Shot Update:पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को गोली मारे जाने के बाद अब एक और बड़ी खबर आ रही है। डॉक्टरों ने इमरान खाने के पैर की सफल सर्जरी करने का दावा किया है। डॉक्टरों के अनुसार इमरान के पैर की गोली सर्जरी के बाद निकाल दी गई है।

Dharmendra Kumar Mishra Written By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Published on: November 04, 2022 12:29 IST
पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान (फाइल फोटो)- India TV Hindi
Image Source : AP पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान (फाइल फोटो)

Pakistan Ex PM Imran Khan Shot Update:पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को गोली मारे जाने के बाद अब एक और बड़ी खबर आ रही है। डॉक्टरों ने इमरान खाने के पैर की सफल सर्जरी करने का दावा किया है। डॉक्टरों के अनुसार इमरान के पैर की गोली सर्जरी के बाद निकाल दी गई है। उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में वजीराबाद में सरकार के खिलाफ मार्च के दौरान हमलावर ने इमरान को गोली मार दी थी। यह गोली उनके पैर में लगी थी। हमले में एक शख्स की मौत हो गई। जबकि इमरान की पार्टी के दो नेता फवाद चौधरी और फैसल जावेद सहित 13 लोग हुए ज़ख़्मी हो गए थे।

इधर पकड़े जाने के बाद हमलावर मोहम्मद नवीद ने बड़ा बयान देकर सनसनी मचा दी है। उसका कहना है कि वह इमरान खान को जान से मारना चाह रहा था, लेकिन वह बच गया। नवीद वज़ीराबाद का ही रहने वाला है। उसने अपने गुनाह कबूल करते हुए कहा कि वह केवल इमरान खान को मारने आया था...किसी और को नहीं...मगर वह बच गया। इधर हमलावर को पुलिस ने अब लाहौर भेज दिया है। सूत्रों के अनुसार हमलावर नवीद का पॉलीग्राफ टेस्ट कराए जाने की तैयारी की जा रही है।

इमरान को गोली लगने के बाद भी रैली जारी

गुरुवार को पूर्व पीएम इमरान खान को भले ही पैर में गोली मार दी गई हो, लेकिन पार्टी ने अपने विरोध मार्च को अब भी जारी रखा है। अन्य नेता इस मार्च में भाग ले रहे हैं। गुजरांवाला से लांग मार्च फिर से शुरू हो रहा है। इससे पूरे पाकिस्तान में अफरातफरी का माहौल है। उधर इमरान पर हमले के ख़िलाफ़ उनकी पार्टी PTI के समर्थक पाकिस्तान के कई शहरों में हिंसक प्रदर्शन कर रहे हैं। हालांकि
इमरान अभी अस्पताल में भर्ती हैं। लाहौर के अस्पताल में उनका ऑपरेशन हुआ है। उनके पैर में दो गोली लगी थी, जिसे निकाले जाने के बाद डॉक्टरों ने उन्हें अब खतरे से बाहर बताया है। अब दोबारा इमरान की पार्टी PTI का लॉन्ग मार्च शुरू होने से ज्यादा हंगामा होने के आसार हैं। इससे पाकिस्तान में गृह युद्ध जैसे हालात नजर आ रहे हैं।  

आतंकवाद विरोधी एजेंसी करेगी जांच
इमरान पर हमले की जांच मामले में एक और बड़ा डेवलपमेंट हुआ है। संयुक्त राष्ट्र के हस्तक्षेप के बाद अब यह जांच आतंकवाद विरोधी विभाग को सौंपी गई है। हमलावर ने 9MM की पिस्टल से गोली मारी थी। उसके पास से दो मैगजीन भी बरामद की गई है। साथ ही जांच टीम को घटनास्थल से 11 खाली कारतूस मिले हैं। उधर इमरान पर फायरिंग के बाद पाकिस्तान प्रांत के पंजाब के सीएम ने बड़ा एक्शन लिया है....गुजरांवाला  में कई सीनियर पुलिस अफसरों को सस्पेंड कर दिया गया है...साथ ही उनके मोबाइल भी जब्त कर लिए गए हैं...पंजाब के सीएम परवेज इलाही ने ये जांच करने को कहा है कि आखिर हमलावर का पुलिस के सामने दिया गया बयान कैसे लीक हो गया।

हमले के बाद भी झुकने को तैयार नहीं इमरान
इमरान खान पर जानलेवा हमले के बाद पाकिस्तान में हालात बेहद तनावपूर्ण हैं। ऐसे में यहां कुछ भी हो सकता है। इस जानलेवा हमले के बाद भी वह झुकने के लिए तैयार नहीं हैं। यही वजह है कि वह खुद हॉस्पिटल में हैं, लेकिन उनकी पार्टी ने अपना लॉन्ग मार्च जारी रखने का फैसला किया है। उधर इमरान की पार्टी के नेता फवाद चौधरी ने बड़ा दावा करते कहा है कि कल इमरान की हत्या की सोची समझी साजिश के तहत फायरिंग की  गई थी....फवाद चौधरी ने दावा किया है कि इमरान पर 9MM की गोली नहीं चली..उनपर ऑटोमैटिक हथियार से  फायरिंग की गई थी। इमरान के समर्थक अब पाकिस्तान में जगह-जगह प्रदर्शन कर रहे हैं..लंदन में  पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के घर के सामने भी प्रदर्शन किया और नारेबाजी की.. पाकिस्तानी सेना के खिलाफ भी लोगों में गुस्सा है।  

पाकिस्तान के हालात पर दुनिया की नजर
इधर पाकिस्तान में इस तरह की घटना होने के बाद वहां के हालात पर पूरी दुनिया की नजर है। पाकिस्तान में हालात बदतर होते जा रहे हैं। इमरान खान ने पाकिस्तान के पीएम, गृहमंत्री और आर्मी अफसर पर हमले की साज़िश का आरोप लगाया है। इसके बाद उनकी पार्टी के नेताओं ने पीएम, गृहमंत्री और आर्मी अफसर पर FIR दर्ज करने की मांग की। हालांकि पाकिस्तान सरकार ने आरोपों से पल्ला झाड़ते हुए  पंजाब प्रांत की सरकार से पूरी रिपोर्ट मांगी है। साथ ही पाकिस्तान गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इमरान खान पर हमले की जांच के लिए टीम गठित करने को कहा है। उल्लेखनीय है कि इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पंजाब प्रांत में सत्तारूढ़ पार्टी है। जबकि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ की पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के नेतृत्व वाला गठबंधन संघीय सरकार का संचालन कर रहा है।

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन