Elon Musk अब शुरू करने जा रहे Twiter की यह नई सेवा, 13 वर्ष से होते आ रहे verification हो जाएंगे खत्म

New Twitter Service & Blue Tick: ट्विटर के नए मालिक बने एलन मस्क लगातार बदलाव की नई-नई घोषणाएं करते जा रहे हैं। पहले उन्होंने कर्मचारियों को नौकरी से निकाला और फिर ब्ल्यू टिक धारियों से आठ डॉलर प्रति माह वसूलने का नया फरमान जारी किया। अब एलन मस्क ने ट्विटर की एक और नई सेवा शुरू करने का ऐलान किया है।

Dharmendra Kumar Mishra Written By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: November 06, 2022 11:13 IST
टि्वटर (फाइल फोटो)- India TV Hindi
Image Source : PTI टि्वटर (फाइल फोटो)

New Twitter Service & Blue Tick: ट्विटर के नए मालिक बने एलन मस्क लगातार बदलाव की नई-नई घोषणाएं करते जा रहे हैं। पहले उन्होंने कर्मचारियों को नौकरी से निकाला और फिर ब्ल्यू टिक धारियों से आठ डॉलर प्रति माह वसूलने का नया फरमान जारी किया। अब एलन मस्क ने ट्विटर की एक और नई सेवा शुरू करने का ऐलान किया है। इस नए ऐलान के साथ वर्ष 2009 से होते आ रहे सत्यापनों को खत्म कर दिया जाएगा। इसकी जगह अब ब्ल्यू टिक पाने के लिए सत्यापन के नए नियम बनाए जाएंगे।

आप को बता दें कि अब एलन मस्क ने सत्यापित खातों को दिए जाने वाले ब्ल्यू टिक के साथ सब्सक्रिप्शन सेवा शुरू करने की घोषणा की है। इसके तहत उपयोगकर्ता सत्यापन के साथ ट्विटर ब्ल्यू पर अब नया खाता बनाएंगे। इसके लिए उनसे तय शुल्क की वसूली की जाएगी। मस्क ने अमेरिका में चल रहे मध्यावधि चुनाव से पहले खातों को सत्यापित करने की प्रणाली में बदलाव करने की कोशिशों के बीच यह ऐलान किया है। इसके तहत अब अमेरिका से लेकर ब्रिटेन, न्यूजीलैंड, आस्ट्रेलिया और कनाडा में एप्पल आइओएस उपकरणों के लिए ‘सत्यापन के साथ ट्विटर ब्ल्यू’ पर नया खाता बनाया जाएगा।

ऐसे मिलेगा नीला निशान

ट्विटर के अनुसार सेलिब्रिटी की तरह अब कोई भी व्यक्ति अपने लिए नीला निशान प्राप्त कर सकेगा। हालांकि इस सेवा को अभी शुरू नहीं किया गया है। अभी सिर्फ ऐलान किया गया है। मगर इस पर तेजी से काम किया जाना शुरू कर दिया गया है। ट्विटर ने कहा कि अभी लोगों को इसमें कई बदलाव देखने को मिलेंगे। इसके लिए हम प्रयोग और चेंजिंग पर काम कर रहे हैं।

हर किसी को नीला निशान, कैसे होगी असली नकली की पहचान
हर किसी को पैसा लेकर नीला निशान देने की ट्विटर की घोषणा के बाद अमेरिका समेत दूसरे देश इस चिंता में पड़ गए हैं कि ऐसा करने से अब असली और नकली में पहचान करना मुश्किल हो जाएगा। इससे बड़ी मुश्किलें पैदा हो सकती हैं। लोग पैसे लेकर ब्ल्यू टिक खातों का दुरुपयोग कर सकते हैं। इसे रोकना फिर बेहद मुश्किल हो जाएगा। असली और नकली के बीच का फर्क मिट जाएगा। अमेरिका को यह भी चिंता है कि चुनाव से पहले इसका दुष्प्रचार के लिए इस्तेमाल हो सकता है। हालांकि मस्क ने कि अगर किसी और के खाते को अपना खाता दिखाने की कोशिश की जाती है तो ऐसे खातों को निलंबित कर दिया जाएगा। उसका पैसा ट्विटर अपने पास रख लेगा। मस्क का मानना है कि अगर फर्जीवाड़ा करने वाले लोग ऐसा कई बार करते हैं तो इससे ट्विटर की कमाई बढ़ेगी।

विश्वसनीय सूचनाओं की प्रमाणिकता पर आ सकता है संकट
अभी तक ब्ल्यू टिक निशान वाले खातों से इस मंच का इस्तेमाल सार्वजनिक एजेंसियां, चुनाव बोर्ड, पुलिस विभाग और समाचार संस्थान लोगों को विश्वसनीय सूचना देने के लिए करते रहे हैं। मगर अब यह नया बदलाव उन सूचनाओं की प्रमाणिकता पर भी कुठाराघात होगा। क्योंकि कोई भी ब्ल्यू टिक धारक भ्रामक सूचना डालेगा तो उसे सही माना जा सकता है। ऐसे में इससे भ्रम की स्थिति पैदा होगी। इसके अलावा नामी-गिरामी संस्थानों, सेलिब्रिटीज और सामान्यजनों में फिर फर्क कर पाना मुश्किल हो जाएगा।  

अभी 4.23 लाख हैं सत्यापित खाते
अभी दुनिया भर में चार लाख 23 हजार सत्यापित खाते हैं। फिलहाल जानी-मानी हस्तियों और सेलिब्रिटी को ही यह ब्ल्यू टिक दिया जाता रहा है। मगर अब यह ट्विटर का नया बदलाव 2009 में शुरू की गई मौजूदा सत्यापन प्रणाली को खत्म कर देगा। जबकि यह सत्यापन इसलिए शुरू किया गया था कि फर्जीवाड़ा करने वाले लोग हाई-प्रोफाइल और जानी-मानी हस्तियों के खातों को अपने खातों के रूप में न प्रस्तुत कर सकें। मगर ट्विटर अब इसमें बदलाव करने जा रहा है। इसके साथ ही भारत समेत पूरी दुनिया में माइक्रो-ब्लॉगिंग मंच कहे जाने वाले ट्विटर के कर्मचारियों की छंटनी की जा रही है। ट्विटर के मालिक मस्क ने अपने कदम को सही ठहराते हुए कह दिया है कि उनके पास इसके अलावा कोई विकल्प ही नहीं है। बता दें कि ट्विटर को 276 करोड़ डॉलर का नुकसान पूर्व में हो चुका है।

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन