अमेरिका के इस कदम से भड़क सकता है चीन, साउथ चाइना सी से सटे फिलीपींस के द्विपीय प्रांत का दौरा करेंगी कमला हैरिस

US China Philippines: कमला हैरिस के फिलीपींस दौरे से अमेरिका और चीन के बीच एक बार फिर तनाव बढ़ सकता है। जो हाल में ही दोनों देशों के राष्ट्रपति जो बाइडेन और शी जिनपिंग की मुलाकात के बाद कम होता नजर आ रहा था।

Shilpa Edited By: Shilpa @Shilpaa30thakur
Updated on: November 20, 2022 23:27 IST
अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस- India TV Hindi
Image Source : AP अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस

Kamala Harris Philippines Visit: अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस रविवार से शुरू होने वाली फिलीपींस की अपनी यात्रा के दौरान उसकी रक्षा की अमेरिकी प्रतिबद्धता को रेखांकित करेंगी। हैरिस फिलीपींस की अपनी इस यात्रा के दौरान एक द्विपीय प्रांत पालावान भी जाएंगी, जिसका एक तट विवादित दक्षिण चीन सागर से लगा हुआ है। अमेरिका, चीन पर दक्षिण चीन सागर के छोटे दावेदार देशों को धमकाने का आरोप लगाता रहा है। अमेरिकी प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यात्रा से पहले एक ऑनलाइन ब्रीफिंग में कहा कि थाईलैंड में एशिया-प्रशांत आर्थिक सहयोग (एपेक) शिखर सम्मेलन में भाग लेने के बाद, हैरिस रविवार रात मनीला के लिए उड़ान भरेंगी और सोमवार को राष्ट्रपति फर्डिनेंड मार्कोस जूनियर से मुलाकात करेंगी।

अधिकारी ने कहा कि इस बातचीत का उद्देश्य एशिया में वाशिंगटन के सबसे पुराने संधि गठबंधन को मजबूत करना और आर्थिक संबंधों को मजबूत करना है। हैरिस ने कहा कि थाईलैंड की उनकी यात्रा 'काफी सफल' रही। उन्होंने जलवायु परिवर्तन पर एक गोलमेज बैठक में रविवार दोपहर इस क्षेत्र के लिए अमेरिका की प्रतिबद्धता दोहराई है। जलवायु कार्यकर्ताओं, नागरिक समाज के सदस्यों और उद्योग जगत के दिग्गजों के पैनल ने स्वच्छ ऊर्जा पर चर्चा की और जलवायु परिवर्तन से मेकांग नदी को उत्पन्न खतरे के बारे में बात की। दक्षिण पूर्व एशिया में छह करोड़ से अधिक लोग भोजन, पानी और परिवहन के लिए इस नदी का उपयोग करते हैं। हैरिस ने घोषणा की कि अमेरिका की इस क्षेत्र में जापान-अमेरिका मेकांग ऊर्जा साझेदारी के जरिए स्वच्छ ऊर्जा के लिए दो करोड़ डॉलर तक की राशि मुहैया कराने की योजना है।

हैरिस ने दुकानदारों के साथ बातचीत की

हैरिस अपनी उड़ान से पहले, एक स्थानीय बाजार में रुकीं और दुकानदारों के साथ बातचीत की। वह मंगलवार को मछुआरों, ग्रामीणों, अधिकारियों और तट रक्षकों से मिलने के लिए दक्षिण चीन सागर के तट पर स्थित पालावन प्रांत के लिए उड़ान भरेंगी। दक्षिण चीन सागर विवाद में चीन, फिलीपींस, वियतनाम, मलेशिया, ब्रुनेई और ताइवान शामिल हैं। फिलीपींस के तटरक्षक प्रवक्ता कमोडोर आर्मंड बालिलो के अनुसार, फिलीपींस तटरक्षक पलावन में अपने सबसे बड़े गश्ती जहाजों में से एक, बीआरपी टेरेसा मैगबानुआ पर हैरिस का स्वागत करेगा। हैरिस वहां भाषण भी देंगी। अमेरिकी अधिकारी ने कहा कि हैरिस दक्षिण चीन सागर में अंतरराष्ट्रीय कानून, अबाधित वाणिज्य और नौवहन की स्वतंत्रता के महत्व को रेखांकित करेंगी।

चीन को लेकर क्या बोले अधिकारी?

अधिकारी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि चीन इस यात्रा को जिस भी रूप में देखना चाहे देख सकता है, लेकिन वाशिंगटन का संदेश यह है कि हिंद-प्रशांत के एक सदस्य के रूप में अमेरिका इस क्षेत्र में अपने सहयोगियों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। वाशिंगटन में फिलीपींस के राजदूत जोस मैनुअल रोमुअलडेज ने कहा कि हैरिस की पालावन की यात्रा एक सहयोगी के लिए अमेरिका के समर्थन और विवादित समुद्र में चीन की कार्रवाइयों पर चिंता के स्तर को दर्शाती है।

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन