1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. दिल्ली-यूपी और पंजाब हरियाणा वाले 3 महीने भीषण गर्मी के लिए रहें तैयार, मौसम विभाग ने जारी किया अनुमान

दिल्ली-यूपी और पंजाब हरियाणा वाले 3 महीने भीषण गर्मी के लिए रहें तैयार, मौसम विभाग ने जारी किया अनुमान

मार्च के अंत में दिल्ली सहित पूरे उत्तर भारत में गर्म मौसम का जो ट्रेलर दिखा था, अगले 3 महीने में उसकी पूरी पिक्चर आने वाली है। भारतीय मौसम विभाग ने अनुमान लगाया है कि अगले 3 महीने यानि अप्रैल से जून के दौरान उत्तर भारत, उत्तर-पश्चिम  भारत के ज्यादातर सब डिविजन तथा मध्य भारत के कुछ सब डिविजन में भीषण गर्मी पड़ने वाली है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 31, 2021 18:08 IST
IMD Weather Department Delhi UP Haryana Rajasthan Punjab Madhya Pradesh Heat Waves forecast- India TV Hindi
Image Source : PTI इस बार मार्च महीने में मौसम ने ज‍िस तरह से करवट ली है और गर्मी ने कई राज्‍यों में र‍िकॉर्ड तोड़ द‍िए।

नई दिल्ली: मार्च के अंत में दिल्ली सहित पूरे उत्तर भारत में गर्म मौसम का जो ट्रेलर दिखा था, अगले 3 महीने में उसकी पूरी पिक्चर आने वाली है। भारतीय मौसम विभाग ने अनुमान लगाया है कि अगले 3 महीने यानि अप्रैल से जून के दौरान उत्तर भारत, उत्तर-पश्चिम  भारत के ज्यादातर सब डिविजन तथा मध्य भारत के कुछ सब डिविजन में भीषण गर्मी पड़ने वाली है और इन सभी क्षेत्रों में तापमान सामान्य से ऊपर रहने का अनुमान है। बता दें कि इस बार मार्च महीने में हीं मौसम ने ज‍िस तरह से करवट ली है और गर्मी ने कई राज्‍यों में र‍िकॉर्ड तोड़ द‍िए हैं, इससे यह अनुमान लगाया जा रहा है क‍ि गर्मी इस साल आम आदमी को पसीने में तर करने वाली है।

दिल्ली में होली के दिन अधिकतम तापमान 40.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो 76 वर्षों में मार्च में सबसे अधिक है। दिल्ली में मंगलवार सुबह आसमान साफ रहा और न्यूनतम तापमान मौसम के सामान्य तापमान से एक डिग्री अधिक 19 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं उत्तर प्रदेश में सोमवार को अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ जो बीते 10 वर्षों में मार्च दूसरी बार सबसे गर्म रहा।

IMD Weather Department Delhi UP Haryana Rajasthan Punjab Madhya Pradesh Heat Waves forecast

Image Source : IMD
इस बार मार्च महीने में मौसम ने ज‍िस तरह से करवट ली है और गर्मी ने कई राज्‍यों में र‍िकॉर्ड तोड़ द‍िए।

विभाग के मुताबिक मैदानी इलाकों में जब अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक हो जाता है और सामान्य से कम से कम 4.5 डिग्री सेल्सियस अधिक हो, तब उसे ‘लू’ घोषित किया जाता है। वहीं, तापमान सामान्य से 6.5 डिग्री सेल्सियस अधिक हो जाने पर प्रचंड लू की घोषणा की जाती है। श्रीवास्तव ने कहा कि मंगलवार को 35 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से हवाएं चलने से अधिकतम तापमान घट कर करीब 38 डिग्री सेल्सियस हो जाएगा।

ये भी पढ़ें

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X