1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. मेहुल चोकसी ने कर्मचारियों को लिखी चिट्ठी, 'मेरे खिलाफ झूठे आरोप, सच सामने आएगा'

मेहुल चोकसी ने कर्मचारियों को लिखी चिट्ठी, 'मेरे खिलाफ झूठे आरोप, सच सामने आएगा'

पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में 180 करोड़ डॉलर की धोखाधड़ी के एक प्रमुख आरोपी गीतांजलि जेम्स के मालिक मेहुल चोकसी ने अपनी बेगुनाही का दावा करते हुए अपने कर्मचारियों को चिट्ठी लिखी है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: February 24, 2018 16:46 IST
mehul choksi- India TV Hindi
mehul choksi

नई दिल्ली: पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में 180 करोड़ डॉलर की धोखाधड़ी के एक प्रमुख आरोपी गीतांजलि जेम्स के मालिक मेहुल चोकसी ने अपनी बेगुनाही का दावा करते हुए अपने कर्मचारियों को चिट्ठी लिखी है। चिट्ठी में उन्होंने कहा है कि कंपनी वर्तमान में कर्मचारियों के बकाए का भुगतान नहीं कर सकती। चोकसी ने खत में लिखा है, "मैं आप सभी को इस संबंध में ईमेल लिखने को मजबूर हूं, क्योंकि मेरे और हमारे संस्थान के खिलाफ भय और अन्याय के हालात बना दिए गए हैं।"

उन्होंने कहा, "लेकिन अब मेरे खिलाफ पीएनबी बैंक से धोखाधड़ी करने जैसे झूठे आरोप और मीडिया की सनक के साथ हालात नाजुक हो गए हैं, जो दिन-ब-दिन और खराब होते जा रहे हैं।" उन्होंने आगे कहा है, "सरकारी एजेंसियों व जांच एजेंसियों द्वारा विभिन्न बैंक खातों और अन्य संपत्तियों के जब्त किए जाने से मेरे लिए अब आपका बकाया और भविष्य की तनख्वाह देना मुश्किल हो गया है।" चोकसी ने कहा है कि कंपनी ने ईमानदारी के साथ काम किया है। 

उन्होंने कहा, "यद्यपि मैं इस बात से वाकिफ हूं कि आपकी कड़ी मेहनत से ही हमारी कंपनी आज इस जगह पहुंची है, लेकिन अब विभिन्न जांच एजेंसियां और सरकारी एजेंसियां जिस तरीके से तूफान खड़ा की हुई हैं, मेरे सामने ढेर सारी समस्याएं उठ खड़ी हुई हैं। कंपनी का कामकाज पूरी तरह ठप हो गया है।"

चोकसी ने कहा है, "हालांकि, आज जिस तरह की स्थिति बनी हुई है, उसमें जिस न्याय का मैं हकदार हूं, वह काफी दूर लगता है। मुझे अपनी बेगुनाही साबित करने में समय लगेगा और फिलहाल भविष्य अनिश्चित लगता है।" उन्होंने कहा, "मैं अपनी किस्मत का सामना करूंगा और मैं जानता हूं कि मैंने कुछ गलत नहीं किया है और कुल मिलाकर सच सबके सामने आएगा। लेकिन मैं नहीं चाहता कि जो मेरी संस्था से जुड़ा है, उसपर किसी पर भी प्रतिकूल परिस्थिति या फिर अन्याय की छवि भी पड़े।"

चोकसी ने कहा कि जांच एजेंसियां की रुचि निष्पक्ष जांच में नहीं दिखती है, बल्कि वे मेरे कर्मचारियों में भय का वातावरण बना रही हैं। इस तरह के अनुचित व्यवहार, अनुचित जांच, मीडिया उन्माद और राजनीतिक वक्तव्यों ने मुझे अपने और मेरे परिवार के सदस्यों की सुरक्षा को खतरे में डाल दिया है। उन्होंने कहा कि कंपनी के एचआर को कर्मचारियों की जरूरत के मुताबिक अनुभव प्रमाण पत्र और नौकरी से मुक्त करने के पत्र जारी करने का निर्देश दे दिया गया है। चोकसी ने कहा, "मैं दोहराता हूं कि मैं हालात सामान्य होने पर सभी का पिछला बकाया देने के लिए प्रतिबद्ध हूं।"

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X