1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. कमल हासन ने की अपनी राजनीतिक पार्टी लॉन्च, नाम है ‘मक्कल नीधि मय्यम’, मंच पर दिखे केजरीवाल

कमल हासन ने की अपनी राजनीतिक पार्टी लॉन्च, नाम है ‘मक्कल नीधि मय्यम’, मंच पर दिखे केजरीवाल

कमल हासन की पार्टी के लॉन्चिंग प्रोग्राम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और तमिलनाडु में आम आदमी पार्टी के इन्चार्ज सोमनाथ भारती भी मंच पर मौजूद थे...

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 21, 2018 22:35 IST
kamal haasan and arvind kejriwal- India TV Hindi
kamal haasan and arvind kejriwal

मदुरै: दक्षिण के सुपरस्टार अभिनेता कमल हासन ने आज आधिकारिक तौर पर मदुरै में अपनी नई राजीनितिक पार्टी की घोषणा की। हासन ने अपनी पार्टी का नाम ‘मक्कल निधि मय्यम’ रखा है जिसका अर्थ लोक न्याय पार्टी होता है। उनकी पार्टी के लॉन्चिंग प्रोग्राम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और तमिलनाडु में आम आदमी पार्टी के इन्चार्ज सोमनाथ भारती भी मंच पर मौजूद थे।

पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम को अपना आदर्श बताते हुए कमल हासन ने कहा कि यह 'लोगों की पार्टी' है, मैं इस पार्टी का नेता नहीं हूं। यह सिर्फ एक दिन के लिए नहीं है बल्कि यह लॉन्ग टर्म लक्ष्य है।

हासन ने झंडे का अनावरण भी किया। उनकी पार्टी का झंडा एकता की शक्ति का प्रतीक है। सफेद रंग के झंडे पर आपस में गोलाई में गुंथे छह हाथ बने हैं। तीन हाथ लाल और तीन सफेद रंग के हैं। इसके बीच एक सितारा बना है। हासन ने कहा कि पार्टी का गठन जनता के शासन की दिशा में पहला कदम है।

इससे पहले कमल हासन ने पूर्व राष्ट्रपति ए पी जे अब्दुल कलाम के घर का दौरा कर आज अपने राजनीतिक सफर की शुरूआत की और कहा कि पूर्व राष्ट्रपति उनके ‘‘आदर्श’’ हैं। उन्होंने आज का दिन यहां कलाम के घर की यात्रा से शुरू किया तथा दिवंगत नेता के 90 साल के भाई मोहम्मद मुथुइमीरन लेब्बाई मराईक्कयर से आर्शीवाद लिया।

उन्होंने कलाम के घर के दौरे को लेकर ट्विटर पर लिखा, ‘‘महानता साधारण शुरूआतों से जन्म लेती है। असल में यह केवल सादगी से ही जन्म लेगी। एक महान इंसान के साधारण से घर से अपने इस सफर की शुरूआत करने में मुझे खुशी हो रही है।’’ इससे पहले अभिनेता ने मराईक्कयर से संक्षिप्त बातचीत की। कलाम के परिवार ने हासन को पूर्व राष्ट्रपति की एक तस्वीर से सजा एक स्मृति चिन्ह भेंट किया।

उन्होंने पेईकरूम्बू स्थित मिसाइल मैन के स्मारक पर श्रद्धांजलि भी अर्पित की। हालांकि वह उस स्कूल का दौरा नहीं कर पाये जहां कलाम ने पढ़ाई की थी। जिला प्रशासन ने उन्हें यह कहकर इसकी अनुमति नहीं दी थी कि कार्यक्रम की प्रकृति ‘‘राजनीतिक’’ है। उनकी सुबह आठ बजे स्कूल के छात्रों को संबोधित करने की योजना थी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X