1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. कुछ साल पहले तुष्टीकरण की राजनीति से ग्रसित था उत्तर प्रदेश, अब देश का अग्रणी राज्‍य : नड्डा

कुछ साल पहले तुष्टीकरण की राजनीति से ग्रसित था उत्तर प्रदेश, अब देश का अग्रणी राज्‍य : नड्डा

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश की पूर्ववर्ती सरकारों और भाजपा सरकार की तुलना करते हुए कहा कि राज्य कुछ साल पहले ‘‘जातिवाद, भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद, अनाचार और माफिया का अड्डा’’ बना हुआ था लेकिन पिछले चार साल में यह देश का सबसे अग्रणी राज्य बन गया है। 

Bhasha Bhasha
Published on: July 16, 2021 15:26 IST
कुछ साल पहले तुष्टीकरण की राजनीति से ग्रसित था उत्तर प्रदेश, अब देश का अग्रणी राज्‍य : नड्डा - India TV Hindi
Image Source : PTI (FILE PHOTO) कुछ साल पहले तुष्टीकरण की राजनीति से ग्रसित था उत्तर प्रदेश, अब देश का अग्रणी राज्‍य : नड्डा 

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश की पूर्ववर्ती सरकारों और भाजपा सरकार की तुलना करते हुए कहा कि राज्य कुछ साल पहले ‘‘जातिवाद, भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद, अनाचार और माफिया का अड्डा’’ बना हुआ था लेकिन पिछले चार साल में यह देश का सबसे अग्रणी राज्य बन गया है। राज्य में अगले वर्ष की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले यहां भाजपा मुख्यालय में शुक्रवार को संपन्न पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के उद्घाटन सत्र को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये संबोधित करते हुए नड्डा ने कहा, ''राजनीति को अगर समझना हो तो नुकसान क्या हुआ था, जब तक यह पता न हो तो फायदे का पता नहीं चलता। अगर याद न हो कि अंधकार क्या होता है तो उजाले की कीमत पता नहीं होती है।''

 उन्‍होंने कहा, ''आप याद कीजिए यही उप्र था जो आज से कुछ साल पहले तुष्‍टीकरण की राजनीति से ग्रसित था, यह तुष्‍टीकरण की राजनीति के जाल में जकड़ा हुआ था, अगर हम बात करेंगे तो जातीय आधार पर सत्‍ता का दुरुपयोग कर किसी समाज के वर्ग का साथ देना और किसी वर्ग को प्रताड़ित करना यह उप्र का 'ऑर्डर आफ द डे' हो चुका था।'' नड्डा ने कहा, '' मैं स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बना था तो यही उत्‍तर प्रदेश बीमारू राज्‍य का 'यू' था जो जातिवाद और माफ‍िया के लिए जाना जाता था लेकिन अब 'ईज ऑफ डूइंग बिजनेस' इसकी पहचान बनी है।’’ उन्‍होंने यह भी कहा, ‘‘उप्र में बच्‍चा पैदा होता था तो उसे कर्फ्यू शब्‍द सुनाई देता था लेकिन पिछले चार साल में एक भी दंगा नहीं हुआ।'' 

स्वतंत्र देव सिंह के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बनने के दो वर्ष के कार्यकाल में दूसरी बार लखनऊ में आयोजित प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में विधानसभा चुनाव की तैयारी के लिए नड्डा ने कार्यकर्ताओं को बूथ स्तर तक मजबूती का मंत्र दिया। उन्होंने 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को कोरोना रोधी टीका लगवाने और प्रधानमंत्री गरीब अन्‍न योजना का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने और किसानों से संवाद बढ़ाने की जिम्मेदारी पार्टी कार्यकर्ताओं को सौंपी। नड्डा ने कहा, ''मैं उप्र के कोटि-कोटि कार्यकर्ताओं को बधाई देता हूं जिन्होंने जिला पंचायत और ब्लॉक प्रमुखों के चुनाव में सफलता दिलाई है। मुझे खुशी है कि 75 जिला पंचायत अध्यक्षों की सीटों में 67 सीट भाजपा की झोली में गईं और ब्लॉक प्रमुख की 825 सीटों में 648 सीटें भाजपा की झोली में गई हैं।'' 

नड्डा ने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा, '' मैं यह भी बताना चाहता हूं कि सपा हो, बसपा हो इनको उत्‍तर प्रदेश की जनता ने सिरे से नकार दिया है, इनको घर बैठने का संदेश दिया है और हमको काम करने का संदेश दिया है। मैं उत्तर प्रदेश के कार्यकर्ताओं को यह भी बताना चाहता हूं कि आप पर जो जिम्मेदारी आई है, उसे पूरी ताकत से निभाएं। '' पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं को कोरोना पीड़ितों की सेवा, सरकार की योजनाओं से लाभार्थियों को जोड़ने और किसानों के हक में चलाई गईं योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने की जिम्मेदारी सौंपते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के कार्यों की सिलसिलेवार चर्चा की। 

नड्डा ने कहा कि दुनिया में एक साल में कोरोना की जितनी चर्चा हुई, उतनी किसी और की नहीं हुई है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रणनीति ने इस देश को बचाया है। उन्होंने कहा कि उप्र की प्रशंसा न केवल देश में हुई, बल्कि कल उप्र की और उप्र के मुख्‍यमंत्री की प्रशंसा प्रधानमंत्री ने काशी में की तथा ऑस्ट्रेलिया के एक सांसद ने भी राज्य के मुख्‍यमंत्री की प्रशंसा की। उन्होंने विपक्ष पर कोविड-19 महामारी पर राजनीति करने का आरोप लगाया। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि जब नभ, जल और थल से पीड़ितों को ऑक्सीजन पहुंचाई जा रही थी तो तब कुछ लोग दिल्‍ली में बैठकर राजनीति कर रहे थे और उनकी शब्दावली क्‍या थी, यह समझना चाहिए। पार्टी के सांसदों, विधायकों और जनप्रतिनिधियों से कोरोना नियंत्रण के क्षेत्र में किए जा रहे प्रबंधन में सक्रिय भूमिका का आह्वान करते हुए नड्डा ने कहा कि जब दुनिया पोलियो मुक्‍त हो गई थी तब भारत में पोलियो मुक्‍त अभियान चला, यही कांग्रेस की ऐतिहासिक सच्चाई है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का काम देखिए कि मार्च में कोरोना आया और अप्रैल में उन्‍होंने टीका निर्माण शुरू करा दिया। 

नड्डा ने कहा, ‘‘उन्होंने (मोदी) जहां 130 करोड़ लोगों को नई उम्‍मीद, नया गौरव प्रदान दिया लेकिन देश के कुछ नेता जिनकी मंद बुद्धि है, कह रहे थे कि हमें मौत के साए में मत धकेलो।’’ टीकाकरण की चर्चा करते हुए नड्डा ने समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव का नाम लिए बिना तंज कसते हुए कहा, '' उप्र के नेता ने इसे भाजपा की वैक्सीन बता दिया, यह दीगर बात है कि उनके पिता जी ने वैक्सीन लगवाई तो फ‍िर बेटा राम भी तैयार हो गए। यह इनकी बुद्धि का स्‍तर है।'' उन्‍होंने कहा, ''एक तरफ प्रधानमंत्री उद्यमियों को इसके लिए तैयार कर रहे और एक नेता इसे भाजपा की वैक्सीन बता रहे। ऐसे लोग उत्तर प्रदेश के नेतृत्‍व का ख्‍वाब पालते हैं तो उन्‍हें मुंहतोड़ जवाब देने की जरूरत है।'' 

नड्डा के साथ प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में दिल्ली से केन्द्रीय मंत्री डॉ.महेन्द्र नाथ पाण्डेय व स्मृति ईरानी तथा पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री अरुण सिंह भी जुड़े। पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डॉ.दिनेश शर्मा, प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल सहित उत्तर प्रदेश से राष्ट्रीय पदाधिकारी, प्रदेश पदाधिकारी व क्षेत्रीय अध्यक्ष तथा अन्य नेता पार्टी के राज्य मुख्यालय में बैठक में शामिल हुए। बैठक के शुरू में अपने संबोधन में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुखों के चुनाव में मिली ऐतिहासिक जीत के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की नीतियों की सराहना करते हुए कहा कि करोड़ों कार्यकर्ता अपने अथक परिश्रम के लिए सााधुवाद के पात्र हैं। 

कोरोना काल में उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा की गई सेवा और समस्याओं के समाधान का जिक्र करते हुए कहा कि भाजपा गांव-गांव में संवाद बनाने के साथ ही सेवा को विस्‍तार देने में सफल हुई है। उन्‍होंने दावा किया कि भाजपा 2022 में पुनः एक बार प्रचंड जनादेश प्राप्त करेगी। प्रदेश अध्‍यक्ष ने कहा, ‘‘मोदी जी ने सिर्फ सेवा और सरकारों के मोर्चे पर उल्लेखनीय कार्य ही नहीं किए, बल्कि राष्ट्रवाद सर्वोपरि की नीति पर भी अमल किया और अनुच्छेद 370 की समाप्ति, राम मंदिर निर्माण की शुरुआत, नागरिकता संशोधन कानून, तीन तलाक की विदाई जैसे ऐतिहासिक निर्णय इसका उदाहरण हैं।’’ 

उन्‍होंने कहा कि एक समय था जब उत्तर-प्रदेश में लूट-खसोट, भ्रष्टाचार माफिया राज और गुंडागर्दी के कारण कोई भी उद्योगपति आने से डरता था, लेकिन आज योगी सरकार ने माहौल बदल दिया है, आज राज्य में कानून का राज है, लोग भय और आतंक से मुक्त हैं, तभी तो उद्योगपतियों और निवेशकों के लिए उत्तर प्रदेश पहली पसंद बना है। वहीं, मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि कोरोना काल में राष्ट्रीय अध्यक्ष ने अपना मार्गदर्शन दिया और उनके पास संगठन तथा सरकार का लंबा अनुभव है। उन्‍होंने कहा कि कोरोना काल में प्रधानमंत्री के नेतृत्व में अद्भुत प्रबंधन हुआ जिसका विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने लोहा माना है। योगी ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष ने ‘सेवा ही संगठन’ को जो मंत्र दिया उससे भाजपा सेवा के प्रतीक के रूप में और अधिक उभरकर सामने आई है। 

Click Mania
bigg boss 15