ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. केजरीवाल के घर के बाहर धरने पर बैठे सिद्धू, दिल्ली के गेस्ट टीचर्स की मांगों का किया समर्थन

केजरीवाल के घर के बाहर धरने पर बैठे सिद्धू, दिल्ली के गेस्ट टीचर्स की मांगों का किया समर्थन

दिल्ली के गेस्ट टीचर्स स्थायी नौकरी की मांग को लेकर सिविल लाइन्स में केजरीवाल के घर के बाहर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। इनके समर्थन में नवोजत सिंह सिद्धू भी पहुंच गए।

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: December 05, 2021 13:07 IST
केजरीवाल के घर के...- India TV Hindi
Image Source : TWITTER- ANI केजरीवाल के घर के बाहर धरने पर बैठे सिद्धू, दिल्ली के गेस्ट टीचर्स की मांगों का किया समर्थन

Highlights

  • दिल्ली के गेस्ट टीचर्स ने केजरीवाल के घर के बाहर डाला डेरा
  • स्थायी नौकरी की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं टीचर्स

नई दिल्ली: पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर धरने पर बैठ गए। बता दें कि दिल्ली के गेस्ट टीचर्स स्थायी नौकरी की मांग को लेकर सिविल लाइन्स में केजरीवाल के घर के बाहर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। इनके समर्थन में सिद्धू भी पहुंच गए हैं। इस दौरान सिद्धू ने केजरीवाल के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने नारा लगाया, 'ऊंची दुकान फीके पकवान।' इस प्रदर्शन में ऑल इंडिया गेस्ट टीचर्स एसोसिएशन नवजोत सिंह सिद्धू का साथ दे रही है।

सिद्धू का कहना है कि दिल्ली में शिक्षा मॉडल दरअसल कॉन्ट्रैक्ट मॉडल है। यहां के स्कूल गेस्ट टीचर्स के जरिये चलते हैं। दिल्ली में 22 हजार गेस्ट टीचर्स हैं जो डेली वेज पर चलते हैं, हर 15 दिन पर इनका कॉन्ट्रैक्ट रिन्यू होता है। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल कहां है? दिल्ली में 22 हजार गेस्ट टीचर्स से बंधुआ मजदूरों की तरह काम कराया जा रहा है उनसे दिहाड़ी मजदूरी करवाई जा रही है। नीति बनाकर विकास करना चाहिए। अरविंद केजरीवाल ने मायाजाल बिछा रखा है, मैं इनका रेत का महल तोड़कर जाऊंगा।

आपको बता दें कि सिद्धू आज दिल्ली में गेस्ट टीचर्स के प्रदर्शन में पहुंचे हैं तो केजरीवाल 27 नवंबर को मोहाली गए थे। वहां वो पंजाब के टीचर्स के विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए थे। सिद्धू ने कहा कि अरविंद केजरीवाल पंजाब में आकर टीचर्स को लालच दे रहे हैं लेकिन वो पहले ये बताएं कि दिल्ली के गेस्ट टीचर्स के लिए उन्होंने क्या किया है?

elections-2022