Sharad Pawar: क्या 2024 में पवार होंगे मोदी के सामने विपक्ष का चेहरा? NCP की बैठक में उछला नाम

Sharad Pawar: राष्ट्रवादी युवक कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष धीरज शर्मा ने अपील की कि अगर वर्ष 2024 में नरेंद्र मोदी और बीजेपी को हराना है तो पवार साहेब को ही सम्मिलित विपक्ष की कमान संभालनी होगी, क्योंकि बीजेपी जैसी पार्टी से टकराने के लिए उनके जैसे अनुभवी और ऊर्जावान नेता की ही जरूरत है।

Khushbu Rawal Edited By: Khushbu Rawal @khushburawal2
Updated on: September 12, 2022 17:44 IST
Sharad Pawar- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV Sharad Pawar

Sharad Pawar: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि उनकी पार्टी ‘दिल्ली में मौजूद शासकों’ के सामने कभी आत्मसमर्पण नहीं करेगी। पवार ने बीजेपी को सत्ता से बेदखल करने के लिए गैर-बीजेपी दलों से एक बार फिर मिलकर काम करने का आह्वान किया। उनका यह बयान ऐसे वक्त आया है, जब विपक्ष के कई नेता केंद्रीय जांच एजेंसियों की तफ्तीश का सामना कर रहे हैं। दिल्ली में आयोजित NCP के आठवें राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए पवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार को महंगाई, बेरोजगारी, किसानों के प्रदर्शन से निपटने के तरीके और देश में धार्मिक अल्पसंख्यकों के खिलाफ ‘नफरत फैलाने’ के मुद्दे पर आड़े हाथों लिया।

‘हमें लोकतांत्रिक तरीके से मौजूदा सरकार को चुनौती देनी है'

81 वर्षीय राज्यसभा सदस्य पवार ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘हमें लोकतांत्रिक तरीके से मौजूदा सरकार को चुनौती देनी है, जो ED और CBI जैसी केंद्रीय एजेंसियों व धनबल का दुरुपयोग कर रही है। हमें इस लड़ाई के लिए तैयार रहना होगा।’’ गौरतलब है कि सोनिया गांधी, राहुल गांधी, फारूक अब्दुल्ला, पी चिदंबरम, कार्ति चिदंबरम, नवाब मलिक, अभिषेक बनर्जी, संजय राउत, सत्येंद्र जैन, मनीष सिसोदिया सहित विपक्षी दलों के विभिन्न नेता केंद्रीय एजेंसियों की जांच का सामना कर रहे हैं। केंद्र सरकार का दावा है कि इन नेताओं द्वारा की गई कथित अनियमितता की वजह से यह जांच हो रही है, जबकि विपक्ष इसे राजनीतिक बदले की कार्रवाई बता रहा है।

पवार ने NCP के कार्यकर्ताओं को दिया यह निर्देश
पवार ने दिल्ली के तालकटोरा इंडोर स्टेडियम में इस सम्मेलन को आयोजित करने के महत्व को भी रेखांकित किया। उन्होंने कहा, ‘‘यह वही स्थान है, जहां वर्ष 1737 में दिल्ली के शासकों को चुनौती देने आए बाजीराव पेशवा ने अपनी सेना के साथ शिविर लगाया था।’’ NCP के अनुभवी नेता ने पार्टी कार्यकर्ताओं को निर्देश दिया कि वे समान विचारधारा वाली पार्टियों के साथ रणनीति बनाएं, आम आदमी को प्रभावित करने वाले मुद्दों को लेकर संयुक्त अभियान चलाएं और भाजपा को सत्ता से दूर करने के लिए कार्य करें।

'2024 के चुनावी समर की बागडोर संभालें पवार साहेब'
इस दौरान राष्ट्रवादी युवक कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष धीरज शर्मा ने अपील की कि अगर वर्ष 2024 में नरेंद्र मोदी और बीजेपी को हराना है तो पवार साहेब को ही सम्मिलित विपक्ष की कमान संभालनी होगी, क्योंकि बीजेपी जैसी पार्टी से टकराने के लिए उनके जैसे अनुभवी और ऊर्जावान नेता की ही जरूरत है। धीरज शर्मा ने कहा कि आज नफरती विचारधारा से एकजुट होकर लड़ने की जरूरत है। आज हर क्षेत्रीय और राष्ट्रीय दल को बीजेपी के खिलाफ़ एक साथ आने की जरूरत है लेकिन अगर विपक्ष को कोई साथ ला सकता है, तो वो पवार साहेब ही हैं। राष्ट्रवादी युवक कांग्रेस ने पवार साहेब से अपील की कि वो भगवान श्री कृष्ण की तरह विपक्ष के सारथी बनें और 2024 के चुनावी समर की बागडोर संभालें।

राकांपा के राष्ट्रीय सम्मेलन को पी सी चाको, छगन भुगबल, सुप्रिया सुले, जयंत पाटिल, अमोल कोल्हे और फौजिया खान सहित कई वरिष्ठ नेताओं ने संबोधित किया। पवार ने विभिन्न राज्यों में होने वाले नगर निगम, जिला परिषद और पंचायत समितियों के आगामी चुनावों में युवा नेतृत्व को अहम भूमिका देकर मजबूत बनाने पर जोर दिया।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन