1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. चोरी की कार का इस्तेमाल करते पाए गए यूपी पुलिस के एसओ, विकास दूबे कांड में हुए थे घायल

चोरी की कार का इस्तेमाल करते पाए गए यूपी पुलिस के एसओ, विकास दूबे कांड में हुए थे घायल

एसओ कौशलेंद्र प्रताप सिंह द्वारा चोरी की यह कार इस्तेमाल किए जाने का मामला तब सामने आया जब कार के मालिक ओमेंद्र सोनी को एक सर्विस सेंटर से फोन आया।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 01, 2021 16:39 IST
Stolen Car UP Police, Stolen Car Kanpur UP Police, UP Police SO Using Stolen Car- India TV Hindi
Image Source : PIXABAY REPRESENTATIONAL उत्तर प्रदेश के कानपुर में स्थित बिकरू गांव में हुई घटना में घायल एक पुलिस अधिकारी को चोरी की कार का इस्तेमाल करते हुए पाया गया है।

कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर में स्थित बिकरू गांव में हुई घटना में घायल एक पुलिस अधिकारी को चोरी की कार का इस्तेमाल करते हुए पाया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, कानपुर के बिठूर पुलिस थाने के स्टेशन अधिकारी कौशलेंद्र प्रसाद सिंह को एक कार का इस्तेमाल करते हुए पाया गया है जो 2018 में चोरी हुई थी। स्टेशन ऑफिसर कौशलेंद्र प्रताप सिंह हैं 3 जुलाई को हुई बिकरू घटना में घायल हुए पुलिसकर्मियों में से एक थे। इस घटना में विकास दूबे और उसकी गैंग द्वारा की गई गोलीबारी में 8 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी, जिसमें एक सीओ भी शामिल हैं।

कार मालिक के पास सर्विस सेंटर से गया फोन और...

एसओ कौशलेंद्र प्रताप सिंह द्वारा चोरी की यह कार इस्तेमाल किए जाने का मामला तब सामने आया जब कार के मालिक ओमेंद्र सोनी को एक सर्विस सेंटर से फोन आया। सर्विस सेंटर ने उनकी वैगन आर कार की सर्विसिंग पर उनकी प्रतिक्रिया मांगी थी। 2018 में खोई अपनी कार का पता चलने के बाद ओमेंद्र सोनी जब सर्विस सेंटर पहुंचे तो उन्हें बताया गया कि कार को स्टेशन अधिकारी को लौटा दिया गया था। उन्हें बताया गया कि फीडबैक कॉल उनके पिछले कार सेवा रिकॉर्ड पर किया गया था।

‘हमें तो कार परित्यक्त हालत में मिली थी’
सोनी ने पत्रकारों को बताया कि उनकी कार बर्रा इलाके से दिसंबर 2018 में चोरी हो गई थी और उन्होंने वहां पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने कहा कि कार बरामद होने पर बर्रा पुलिस को सूचित करना चाहिए था। इस बीच, स्टेशन अधिकारी ने कहा कि उन्हें कार परित्यक्त हालत में मिला थी और इसे जब्त कर लिया गया था। उन्होंने आगे सवालों का जवाब देने से इनकार कर दिया। इस बीच, कानपुर के इंस्पेक्टर जनरल मोहित अग्रवाल ने पूरी घटना की जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा कि दोषी पाए जाने पर एसओ कौशलेंद्र प्रताप सिंह को विभागीय कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment