Monday, April 22, 2024
Advertisement

घर में बना सफेद मक्खन या फिर ब्रेड वाला पीला बटर, जानें किसका का सेवन है ज्यादा बेहतर और क्यों?

White butter vs yellow butter: ब्रेड-बटर, वो पहली चीज है जो कि हमारे ब्रेकफास्ट का हिस्सा रहा है। लेकिन, क्या ये बटर हेल्दी है और मक्खन से बेहतर है। क्यों और कैसे, जानते हैं।

Pallavi Kumari Written By: Pallavi Kumari
Published on: August 04, 2023 10:04 IST
white_vs_yellow_butter- India TV Hindi
Image Source : SOCIAL white_vs_yellow_butter

White butter vs yellow butter: बटर का नाम आते ही दिमाग में एक ही चीज आती, ब्रेड और बटर। सालों से ये हमारे क्विक नाश्ते का हिस्सा रहा है। हालांकि कभी हमने सोचा नहीं कि क्या इसे खाना हेल्दी है। दूसरा, कभी हमारे दिमाग में ये बात भी नहीं आई कि घर में बनने वाले सफेद मक्खन की तुलना में ये अच्छा है या खराब। इन तमाम बातों के बारे में जानना जरूरी है क्योंकि मक्खन से निकलने वाले तत्व आपके शरीर को जहां फायदा पहुंचा सकते हैं वहीं, नुकसानदेह भी साबित हो सकते हैं। तो, आइए आज सबसे पहले जानते हैं इन दोनों के बीच का अंतर और फिर जानेंगे क्या है इन दोनों में सबसे ज्यादा हेल्दी।

सफेद मक्खन और बटर के बीच का अंतर-Difference between makhan and butter In Hindi

1. सफेद मक्खन-White butter

सफेद मक्खन, बिलकुल नेचुरल है या कहें कि अनप्रोसेस्ड है यानी कि बिना मिलावट वाला। ये बिलकुल हेल्दी फैट है और इसका सेवन आपकी सेहत के लिए कई प्रकार से फायदेमंद हो सकता है। इसे लोग अपने जोड़ों पर और स्किन पर भी लगाते हैं ताकि नमी बनी रहे और हड्डियों के बीच नमी की कमी न हो। इसके अलावा इस व्हाइट बटर से आप असली घी बनाकर लंबे समय तक इस्तेमाल कर सकते हैं।  बस, पीले मक्खन की तुलना में इनकी शेल्फ लाइफ कम होती है, लेकिन जब इसे फ्रीजर में रखा जाता है, तो यह लंबे समय तक चल सकता है।

butter

Image Source : SOCIAL
butter

इन 2 चीजों की कमी वाले लोग हमेशा रहते हैं Muscle Cramps से परेशान, करते हैं मांसपेशियों में दर्द की शिकायत

2. बटर या पीला मक्खन-Yellow butter

बटर या पीले मक्खन को लोग नमकीन मक्खन भी कहते हैं। इस मक्खन में फैट की मात्रा अधिक होने के कारण इसका रंग पीला होता है। साथ ही इसमें नमक मिलाया जाता है ताकि इसकी शेल्फ लाइफ बढ़ जाए और यह लंबे समय तक चलता रहे। पीला मक्खन काफी प्रोसेस्ड होता है और इसमें ट्रांस फैट और कैलोरी की भी मात्रा ज्यादा होती है। अगर आप अधिक मात्रा में इसका सेवन करते हैं तो पीला मक्खन शरीर में सोडियम के स्तर को बढ़ा सकता है, साथ ही हाई कोलेस्ट्रॉल वालों के लिए भी इसका सेवन फायदेमंद है।

नाश्ते में इन 3 तरीकों से शामिल करें Oats, डायबिटीज और वेट लॉस वालों के लिए भी है फायदेमंद

सफेद मक्खन बेहतर है या पीला-Is white butter better than yellow butter

अब ऊपर इन तमाम चीजों को पढ़कर आप समझ गए होंगे कि आपकी सेहत के लिए किस चीज का सेवन ज्यादा फायदेमंद है। फिर हम आपको बताते हैं कि सफेद मक्खन सेहत के लिए ज्यादा अच्छा है क्योंकि इसमें ओमेगा-3 है, विटामिन ए है और ई है। ये तमाम चीजें आंखों की सेहत के लिए, ब्रेन की सेहत के लिए और आपकी हड्डियों के लिए फायदेमंद है। बस तो ताजा बनाएं और ताजा खाएं। फ्रिज में रख रहे हैं तो 5 से 7 दिन में ही इस्तेमाल करके खत्म कर लें, उसके बाद फिर मक्खन बना लें।

(ये आर्टिकल सामान्य जानकारी के लिए है, किसी भी उपाय को अपनाने से पहले डॉक्टर से परामर्श अवश्य लें)

Latest Lifestyle News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Features News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement