Maharashtra Cabinet Expansion: महाराष्ट्र में कैबिनेट विस्तार, सुप्रिया सुले ने BJP पर कसा तंज, विपक्षी नेताओं ने दी ये प्रतिक्रिया

Maharashtra Cabinet Expansion सुप्रिया सुले (Supriya Sule) ने कहा, महिलाओं को आरक्षण देने वाला महाराष्ट्र देश का पहला राज्य था। दुर्भाग्य की बात है कि राज्य मंत्रिमंडल में 18 मंत्री हैं, लेकिन एक भी महिला नहीं।

Malaika Imam Written By: Malaika Imam
Updated on: August 10, 2022 6:09 IST
Maharashtra Cabinet Expansion- India TV Hindi News
Image Source : PTI Maharashtra Cabinet Expansion

Highlights

  • महाराष्ट्र मंत्रिमंडल में एक भी महिला को जगह नहीं दी गई
  • 'महिलाओं को आरक्षण देने वाला महाराष्ट्र पहला राज्य था'
  • यह बीजेपी की मानसिकता को दर्शाता है: सुप्रिया सुले

Maharashtra Cabinet Expansion: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के 41 दिन बाद एकनाथ शिंदे ने अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया। बीजेपी से 9 और शिंदे गुट की शिवसेना से 9 विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई। हालांकि, इस मंत्रिमंडल में एक भी महिला को जगह नहीं दी गई। इसे लेकर सुप्रिया सुले ने प्रतिक्रिया जाहिर की है। साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक ट्वीट को शेयर करते हुए निशाना साधा है। 

देश में 50% आबादी महिलाओं की है- सुप्रिया सुले

सुप्रिया सुले ने कहा, "महिलाओं को आरक्षण देने वाला महाराष्ट्र देश का पहला राज्य था। दुर्भाग्य की बात है कि राज्य मंत्रिमंडल में 18 मंत्री हैं, लेकिन एक भी महिला नहीं। देश में 50% आबादी महिलाओं की है, लेकिन इस कैबिनेट में उनका प्रतिनिधित्व नहीं है। यह बीजेपी की मानसिकता को दर्शाता है।"

पीएम मोदी के ट्वीट को शेयर कर साधा निशाना

एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले ने पीएम मोदी के ट्वीट को शेयर करते हुए सवाल किया, "पीएम कहते हैं कि देश के विकास के लिए महिला सशक्तिकरण जरूरी है। इसके लिए उन्हें सिर्फ 'होम मेकर' नहीं, बल्कि 'राष्ट्र निर्माता' होना चाहिए।" सुप्रिया सुले ने कहा कि यह राज्य की नारी शक्ति के साथ अन्याय है।

'क्लीन चिट नहीं मिली, उन्हें कैबिनेट में शामिल नहीं किया जाता'

विधानसभा में विपक्ष के नेता अजीत पवार ने भी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने अपने एक बयान में कहा, "आखिरकार इतने दिन बाद शपथ लेने के बाद महाराष्ट्र को कैबिनेट मिल गया, लेकिन अच्छा होता कि जिन लोगों को अभी तक क्लीन चिट नहीं मिली है, उन्हें कैबिनेट में शामिल नहीं किया जाता।" 

'इंतजार कीजिए, आगे महिलाओं को भी जगह दी जाएगी'

कैबिनेट विस्तार में किसी महिला को मंत्री पद की शपथ नहीं दिलाई गई, इसे लेकर शिंदे गुट के चीफ व्हिप भरत गोगावले का कहना है कि कैबिनेट विस्तार का यह पहला चरण है, इंतजार कीजिए, आगे महिलाओं को भी जगह दी जाएगी। हालांकि, इसे लेकर बीजेपी ने अभी प्रतिक्रिया नहीं दी है।

मंत्रिमंडल में सदस्यों की संख्या बढ़कर 20 हो गई 

गौरतलब है कि बीजेपी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल समेत 18 विधायकों ने दक्षिण मुंबई में राज भवन में कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली। इसके साथ ही महाराष्ट्र के मंत्रिमंडल में सदस्यों की संख्या अब 20 हो गई है, जो अधिकतम 43 सदस्यों की संख्या से आधी से भी कम है। एकनाथ शिंदे ने 30 जून को मुख्यमंत्री और देवेंद्र फडणवीस ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। 

ये हैं मंत्री पद की शपथ लेने वाले सदस्य

बीजेपी की ओर से मंत्रिमंडल में शामिल सदस्यों में राधाकृष्ण विखे पाटिल, सुधीर मुन्गंतीवार, चंद्रकांत पाटिल, विजयकुमार गावित, गिरीश महाजन, सुरेश खडे, रवींद्र चह्वाण, अतुल सावे और मंगलप्रभात लोढा शामिल हैं। शिंदे गुट से मंत्री पद की शपथ लेने वाले सदस्यों में गुलाबराव पाटिल, दादा भुसे, संजय राठौड़, संदीप भुमरे, उदय सामंत, तानाजी सावंत, अब्दुल सत्तार, दीपक केसरकर और शंभुराज देसाई शामिल हैं। शिंदे के एक सहायक ने बताया कि किसी राज्य मंत्री ने आज शपथ नहीं ली। बाद में फिर मंत्रिमंडल विस्तार होगा। 

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें महाराष्ट्र सेक्‍शन
navratri-2022