Monday, April 22, 2024
Advertisement

शरद पवार की पार्टी के नाम पर सुप्रीम कोर्ट का निर्देश, कहा- एनसीपी-शरदचंद्र पवार नाम का कर सकते हैं इस्तेमाल

एनसीपी अब अजित पवार के नाम हो चुकी है। लेकिन इसपर लड़ाई और बयानबाजी अब भी जारी है। इस बीच सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि शरद पवार के नेतृत्व वाली पार्टी के लिए एनसीपी-शरदचंद्र पवार नाम का वे इस्तेमाल अगले आदेश तक कर सकते हैं।

Avinash Rai Edited By: Avinash Rai @RaisahabUp61
Published on: February 19, 2024 18:30 IST
Supreme Court directive in the name of Sharad Pawar party said NCP can use Sharadchandra Pawar- India TV Hindi
Image Source : PTI शरद पवार की पार्टी के नाम पर सुप्रीम कोर्ट का निर्देश

उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को कहा कि शरद पवार के समूह को पार्टी का नाम ‘राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी-शरदचंद्र पवार’ देने का निर्वाचन आयोग का सात फरवरी का फैसला अगले आदेश तक जारी रहेगा। न्यायमूर्ति सूर्यकांत और न्यायमूर्ति के.वी.विश्वनाथन की पीठ ने महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार के नेतृत्व वाले समूह को असली राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) घोषित करने के आयोग के सात फरवरी के आदेश के खिलाफ शरद पवार की याचिका पर अजित पवार के नेतृत्व वाले गुट से जवाब मांगा। पीठ ने शरद पवार को पार्टी चिन्ह के आवंटन के लिए निर्वाचन आयोग का रुख करने की अनुमति दी और आयोग को आवेदन के एक सप्ताह के अंदर समूह को चुनाव चिन्ह आवंटित करने का निर्देश दिया। 

26 फरवरी को शुरू होगा महाराष्ट्र विधानसभा का सत्र

शरद पवार की ओर से पेश वरिष्ठ वकील अभिषेक सिंघवी ने कहा कि आयोग का सात फरवरी का फैसला 27 फरवरी को राज्यसभा चुनाव होने तक एक अंतरिम व्यवस्था है। उन्होंने कहा, "महाराष्ट्र विधानसभा का सत्र 26 फरवरी से शुरू होने वाला है और हमारे समूह के पास न कोई नाम और न चिन्ह होगा।” शरद पवार ने शीर्ष अदालत में अपनी याचिका पर तत्काल सुनवाई का अनुरोध किया था। उन्होंने महाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर के 15 फरवरी के आदेश के मद्देनजर तत्काल सुनवाई की अपील की थी। नार्वेकर ने अजित पवार के नेतृत्व वाले राकांपा के गुट ही असली राकांपा माना था। उन्होंने कहा था कि संविधान में निहित दलबदल रोधी प्रावधानों का इस्तेमाल आंतरिक असंतोष को दबाने के लिए नहीं किया जा सकता। इससे पहले, आयोग ने सात फरवरी को अजित पवार गुट को असली राकांपा मानते हुए उसे पार्टी का चिन्ह 'घड़ी' आवंटित किया था। 

अजित पवार का हमला

इससे पहले अजित पवार ने बारामती में पार्टी सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा था कि ऐसा कहा जा रहा है कि हमने पार्टी चुराई है। अरे हमने कब पार्टी चुराई। चुनाव आयोग ने हमें मान्यता दी है। विधानसभा अध्यक्ष ने हमें मान्यता दी है। अनिल पाटिल जो की चीफ व्हिप हैं, वो हमारे साथ हैं। फिर भी हमारी बदनामी की जाती है। अगर मैं वरिष्ठों (शरद पवार) का सगा होता तो मुझे राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया जाता और पूरी पार्टी मेरे हाथ में होती। लेकिन मैं उनके सगे भाई का बेटा हूं। मैं आपको ये सब इसलिए बता रहा हूं क्योंकि आप भावुक न हों। 

(इनपुट-भाषा)

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें महाराष्ट्र सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement