1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. श्रीलंका में भारी बारिश के चलते कम से कम 7 लोगों की मौत, सैकड़ों विस्थापित

श्रीलंका में भारी बारिश के चलते कम से कम 7 लोगों की मौत, सैकड़ों विस्थापित

श्रीलंका में मानसून की भारी बारिश और तेज हवाओं से कम से कम 7 लोगों की मौत हो चुकी है और 1,000 से ज्यादा लोग विस्थापित हुए हैं...

PTI PTI
Published on: May 21, 2018 18:50 IST
Sri Lanka storms, landslides kill 7, leave 1000 displaced | AP- India TV Hindi
Sri Lanka storms, landslides kill 7, leave 1000 displaced | AP

कोलंबो: श्रीलंका में मानसून की भारी बारिश और तेज हवाओं से कम से कम 7 लोगों की मौत हो चुकी है और 1,000 से ज्यादा लोग विस्थापित हुए हैं। अधिकारियों ने राहत एवं बचाव अभियानों के लिए सेना को तैनात किया है। आपदा प्रबंधन केंद्र (DMC) ने कहा कि अब तक 1,024 लोग विस्थापित हुए हैं और उन्हें अस्थायी जगहों पर आश्रय दिया गया है। ‘कोलंबो गजट’ की खबर के अनुसार देश के अधिकतर हिस्सों में प्रतिकूल मौसम से अब तक 7 लोग मारे गए हैं और सैकड़ों प्रभावित हुए हैं।

DMC ने कहा कि बाडुला, केगाले और कालुतारा में सबसे ज्यादा लोग विस्थापित हुए हैं। देश में पिछले कुछ दिनों से बनी हुई मौसम की प्रतिकूल स्थिति के कारण 170 से ज्यादा घर क्षतिग्रस्त हुए हैं। खबर में कहा गया कि कई इलाकों में भूस्खलन की चेतावनी जारी की गई है जबकि बाढ़ की आशंका को देखते हुए प्रमुख नदियों के आसपास रह रहे लोगों को भी सचेत कर दिया है। राहत मुहैया कराने एवं बचाव अभियानों में शामिल होने के लिए सेना, नौसेना और वायुसेना को सर्वाधिक प्रभावित इलाकों में तैनात किया गया है।

राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने संबंधित अधिकारियों को प्रभावित लोगों को तत्काल राहत मुहैया कराने का निर्देश दिया है। लोगों के मारे जाने के अलावा पिछले 48 घंटों में एक्सप्रेसवे पर 7 हादसे होने की खबर है। श्रीलंकाई पुलिस मोटरचालकों को बारिश के दौरान धीमी गति से वाहन चलाने की सलाह दे रही है। इसी बीच मौसम विभाग ने अगले कुछ दिनों में देश के दक्षिण-पश्चिमी हिस्से में बारिश की मौजूदा दशाएं और आकाश में बादल छाए रहने का अनुमान लगाया है। पिछले साल देश में भारी बारिश के कारण आई भीषण बाढ़ और भूस्खलन से कम से कम 92 लोग मारे गए थे और 110 लोग लापता हो गए थे।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment