Monday, April 22, 2024
Advertisement

इंडोनेशिया में भूकंप के तेज झटकों से हिली धरती, जानिए कितनी थी तीव्रता

Earthquake In Indonesia: तुर्की-सीरिया में तबाही मचाने के बाद भूकंप का सिलसिला जारी है। अफगानिस्तान के बाद अब इंडोनेशिया में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं।

Kajal Kumari Edited By: Kajal Kumari
Updated on: February 24, 2023 6:34 IST
earthquake in indonesia- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO इंडोनेशिया में भूकंप के तेज झटके

Earthquake In Indonesia: भूकंप ने तुर्की और सीरिया में तबाही मचाई और फिर उसके बाद अफगानिस्तान और तजाकिस्तान में गुरुवार को भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए थे, जिसकी तीव्रता  रिक्टर स्केल पर  6.8 मापी गई थी। अब चीन की सीमा से सटे इलाकों में भी भूकंप का खतरा मंडरा रहा है। शुक्रवार की सुबह इंडोनेशिया में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए और रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 6.3 मापी गई है। USGS के मुताबिक, यह भूकंप इंडोनेशिया के टोबेलो से 177 किलोमीटर उत्तर में आया था। यूएसजीएस के मुताबिक भूकंप का केंद्र 99 किलोमीटर की गहराई में था। हालांकि भूकंप से  अभी तक किसी जान माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है।

बता दें कि इंडोनेशिया में अक्सर भूकंप के झटके आते रहते हैंं। पिछले महीने यानी  10 जनवरी को इंडोनेशिया में भूकंप आया था जिसकी तीव्रता 7.7 थी और इसका केंद्र पृथ्वी की सतह से 97 किलोमीटर (60.27 मील) नीचे की गहराई में था। हालांकि, भूकंप के दौरान किसी के हताहत होने की खबर नहीं मिली थी।

पिछले साल भूकंप ने इंडोनेशिया में मचाई थी तबाही 

पिछले साल, 2022 में इंडोनेशिया में आए भूकंप ने तबाही मचाई थी। भूकंप की तीव्रता 5.6 मापी गई थी। भूंकप की वजह से 268 लोगों से अधिक लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 1000 से अधिक लोग घायल हो गए थे। इस घटना में 150 से अधिक लोगों के लापता होने की भी खबरें मिली थीं। भूकंप में 100 बच्चों की भी मौत हो गई थी और अस्पतालों में हाहाकार मच गया था।  

तुर्की में भूकंप की विनाशलीला 

तुर्की और सीरिया में 6 फरवरी को आए भूकंप के बाद अब तक मरने वालों की संख्या लगभग 50,000 हो गई है। सिर्फ तुर्की में ही 43 हजार से अधिक शव मिल चुके हैं। तुर्की के आंतरिक मंत्री सुलेमान सोयलू ने कहा कि देश में अब तक कुल 43,556 शव मिल चुके हैं। इस विनाशकारी भूकंप ने तुर्की के कई शहरों के तबाह कर दिया है। इस आपदा में जिंदा बचे हुए लोग बेघर हो चुके हैं और अबतक राहत और बचाव का कार्य चल रहा है। तबाही मचाने के बाद भी भूकंप आने का सिलसिला जारी है। तुर्की में कुछ-कुछ अंतराल में भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं।  

ये भी पढ़ें:

एस जयशंकर ने कहा- G20 में दुनिया को जिस आर्थिक विकास की तलाश, भारत के पास है उसकी कुंजी

अमेरिका-रूस के बीच संयम स्थापित करने के लिए भारत से हस्तक्षेप की मांग, कहा-पीएम मोदी टाल सकते हैं खतरा

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement