Thursday, April 18, 2024
Advertisement

इजरायल-हमास युद्ध ने दिए कभी न भूलने वाले जख्म, अब भूख ने गाजा के लोगों को बना दिया लुटेरा...UN की सनसनीखेज रिपोर्ट

गाजा में भूख से लोग बेहाल हो उठे हैं। संयुक्त राष्ट्र के दावे के अनुसार गाजा की 25 फीसदी से ज्यादा आबादी भुखमरी के कगार पर है। इससे हालात बेकाबू हो गए हैं। नतीजतन गाजा में राहत सामग्री पहुंचाने वाले ट्रकों को लूटा जा रहा है। लोग राहत सामग्रियों की लूट करने के लिए ट्रक पर गोलीबारी तक कर रहे हैं।

Dharmendra Kumar Mishra Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Published on: February 28, 2024 16:16 IST
गाजा में मानवीय सहायता के इंतजार में खड़े फिलिस्तीनी नागरिक।- India TV Hindi
Image Source : PTI गाजा में मानवीय सहायता के इंतजार में खड़े फिलिस्तीनी नागरिक।

संरा संयुक्त राष्ट्र: गाजा में इस वक्त खाने-पीने का अकाल पड़ गया है। हालत यह है कि गाजा की कम से कम एक चौथाई आबादी यानी 5,76,000 लोग भुखमरी के कगार पर हैं। वहीं गाजा की अन्य आबादी भी खाद्य सामग्री की गंभीर जरूरत से जूझ रही है। इसके परिणामस्वरूप भूख से तड़प रहे लोग न सिर्फ राहत सामग्री वाले ट्रकों पर गोलियां चला रहे हैं, बल्कि उन ट्रकों को लूट भी रहे हैं। ऐसे में राहत सामग्री जरूरतमंदों तक पहुंचाना मुश्किल हो रहा है। रास्ते में ही लोग राहत सामग्री लूटने के लिए ट्रकों को निशाना बना रहे हैं।

 संयुक्त राष्ट्र (संरा) के एक शीर्ष अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। संरा मानवतावादी कार्यालय और संयुक्त राष्ट्र खाद्य एवं कृषि संगठन के अधिकारियों ने गाजा के हालात का वर्णन करते हुए बताया कि युद्धग्रस्त गाजा की 23 लाख की पूरी आबादी खाद्य असुरक्षा के गंभीर खतरे या बदतर हालात से जूझ रही है। इतना ही नहीं उत्तरी गाजा में हालात और ज्यादा खराब हैं, जहां लोगों को खाने-पीने की वस्तुओं से लेकर अन्य मानवीय आपूर्ति की भारी कमी का सामना करना पड़ रहा है।

भूख से बिगड़े गाजा के हालात

गाजा के मौजूदा हालातों को बयां करते हुए संरा के मानवतावादी समन्वयक रमेश रामसिंघम ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को बताया कि हालात के और भी ज्यादा खराब होने की पूरी आशंका है। उन्होंने कहा कि गाजा की एक चौथाई आबादी भुखमरी के कगार पर पहुंच चुकी है और उत्तरी गाजा में दो साल से कम उम्र के हर छह में से एक बच्चा कुपोषण का शिकार हो रहा है। विश्व खाद्य कार्यक्रम के उप कार्यकारी निदेशक कार्ल स्काऊ ने कहा कि गाजा में बच्चों के कुपोषण का यह स्तर दुनिया के किसी भी हिस्से में देखा गया अब तक का सबसे गंभीर स्तर है। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर हालात में बदलाव नहीं आया तो उत्तरी गाजा में अकाल फैल जाएगा। (एपी) 

यह भी पढ़ें

भयावह हुई टेक्सास के जंगलों में लगी भीषण आग, अमेरिका का परमाणु हथियार सुविधा संचालन केंद्र पड़ा खतरे में

US Presidents Election 2024: उम्मीदवारी में डेमोक्रेट्स की ओर से बाइडेन से आगे निकलीं "मिशेल ओबामा", सर्वे में वोटरों ने चौंकाया

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement