1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. यूरोप
  5. यूक्रेन का साथ देने वाले देशों की हो रही हैकिंग, रूस ने जुटाई 42 देशों की खुफिया जानकारी

Russia Ukraine News: यूक्रेन का साथ देने वाले देशों की हो रही हैकिंग, रूस ने जुटाई 42 देशों की खुफिया जानकारी

Russia Ukraine News: रूस ऐसे देशों की हैकिंग कर रहा है जो यूक्रेन का साथ दे रहे हैं। ऐसा दावा माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) की एक रिपोर्ट में किया गया है। इसके साथ ही रूस अमेरिकी और उसके सरकारी कंप्यूटर नेटवर्क को भी निशाना बना रहा है। 

Shashi Rai Written by: Shashi Rai @km_shashi
Published on: June 23, 2022 13:04 IST
 रूस ने जुटाई 42 देशों की खुफिया जानकारी- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO  रूस ने जुटाई 42 देशों की खुफिया जानकारी

Highlights

  • यूक्रेन का साथ देने वाले देशों की हो रही हैकिंग
  • रूस ने जुटाई 42 देशों की खुफिया जानकारी
  • 'जर्नलिस्ट माक्स और उसके दोस्त की हत्या सोची-समझी साजिश'

Russia Ukraine News: रूस ऐसे देशों की हैकिंग कर रहा है जो यूक्रेन का साथ दे रहे हैं। ऐसा दावा माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) की एक रिपोर्ट में किया गया है। इसके साथ ही रूस अमेरिकी (America) और उसके सरकारी कंप्यूटर नेटवर्क को भी निशाना बना रहा है। माइक्रोसॉफ्ट के मुताबिक रूस ने कथित हैकिंग से 42 देशों की खुफिया जानकारी जुटाई (Russia gathers intelligence from 42 countries) है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि रूस को हैकिंग के प्रयासों में 7.25 फीसदी बार डाटा चोरी करने में सफलता मिली है। वहीं रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर्स (Reporters Without Borders) की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि रूसी सैनिकों ने साजिश के तहत यूक्रेनी फोटो जर्नलिस्ट माक्स लेविन और उसके दोस्त ओलेक्सी चेर्निशोव की हत्या की थी। 

'कीव के पास एक जंगल में जर्नलिस्ट की हत्या की गई थी'

रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 13 मार्च को यूक्रेन की राजधानी कीव के पास एक जंगल में जर्नलिस्ट की हत्या की गई थी। पहले रूसी सैनिकों ने माक्स और उसके दोस्त से पूछताछ की, बाद में उन्हें कई तरह से परेशान किया फिर उनकी हत्या कर दी। पत्रकार की मौत के मामले की जांच करने लिए 24 मई और 3 जून के बीच दो इनवेस्टिगेटर यूक्रेन गए थे। उन्होंने मौके पर सबूत जुटाए। मौके पर माक्स और उसके दोस्त के आई कार्ड और कई गोलियां पड़ी मिलीं।

'जर्नलिस्ट माक्स और उसके दोस्त की हत्या सोची-समझी साजिश' 

 जांच-पड़ताल के बाद इनवेस्टिगेटर ने दावा किया है कि माक्स और उसके दोस्त की हत्या सोची समझी साजिश थी। पत्रकार माक्स शुरुआत से ही रूस-यूक्रेन जंग को कवर कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कई शहरों से तबाही की तस्वीरें क्लिक की थी। 13 मार्च को माक्स लापता हो गए थे। अंतिम बार उन्हें कीव क्षेत्र के विशगोरोड जिले के हुता-मेझीहिरस्का गांव जाते हुए देखा गया था। 1 अप्रैल को उनका शव बरामद हुआ था।