1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. अमेरिका के शिकागो में फ्रीडम डे परेड में फायरिंग, 6 लोगों की हुई मौत, 24 घायल

America Firing: अमेरिका के शिकागो में फ्रीडम डे परेड में फायरिंग, 6 लोगों की हुई मौत, 24 घायल

America Firing: अमेरिका के शिकागो में फ्रीडम डे परेड के दौरान अंधाधुंध फायरिंग होने से 6 लोगों की मौत हो गई, जबकि 24 लोग घायल हो गए हैं। हमलावर अभी तक पुलिस की पकड़ से बाहर है। पुलिस के मुताबिक एक श्वेत नेअमेरिका के शिकागो में फ्रीडम डे परेड के दौरान फायरिंग की है। गोलीबारी के बाद शिकागो के हाइलैंड इलाके मे अफरा-तफरी मच गई।

Shashi Rai Written By: Shashi Rai @km_shashi
Updated on: July 05, 2022 8:42 IST
Firing at Freedom Day Parade in America- India TV Hindi News
Image Source : SOCIAL MEDIA Firing at Freedom Day Parade in America

Highlights

  • अमेरिका के शिकागो में फ्रीडम डे परेड में फायरिंग
  • 6 लोगों की हुई मौत, 24 घायल
  • हमलावर अभी तक पुलिस की पकड़ से बाहर

America Firing: अमेरिका के शिकागो में फ्रीडम डे परेड के दौरान अंधाधुंध फायरिंग होने से 6 लोगों की मौत हो गई, जबकि 24 लोग घायल हो गए हैं। हमलावर अभी तक पुलिस की पकड़ से बाहर है। पुलिस के मुताबिक एक श्वेत नेअमेरिका के शिकागो में फ्रीडम डे परेड के दौरान फायरिंग की है। शिकागो के हाइलैंड पार्क इलाके में फ्रीडम डे परेड निकाली जा रहा थी। इसी परेड के दौरान ये गोलीबारी हुई है। गोलीबारी के बाद शिकागो के हाइलैंड इलाके मे अफरा-तफरी मच गई। 

फ्रीडम डे परेड में भाग लेने वालों पर फायरिंग 

अमेरिका में 4 जुलाई को स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाया जाता है। इस दौरान देशभर में जगह-जगह परेड का आयोजन किया जाता है। इसको लेकर इलिनोइस शहर के हाईलैंड पार्क में फ्रीडम डे परेड आयोजित की गई थी। इसी दौरान फ्रीडम डे परेड में भाग लेने वाले लोगों पर शूटर ने गोलीबारी शुरू कर दी। रिपोर्ट के मुताबिक एक छत से शूटर ने ताबड़तोड़ गोलीबारी की । गोली चलाने वाला एक रिटेल शॉप की छत पर चढ़ गया और वहां से लोगों पर फायरिंग शुरू कर दी।

'बंदूक हिंसा रोधी बिल' से डर नहीं? 

बता दें, हाल ही में अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने 'बंदूक हिंसा रोधी बिल' को मंजूरी दी थी। इस विधेयक को डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन दोनों राजनीतिक दलों का समर्थन मिला। टेक्सास के एक स्कूल में एक बंदूकधारी शख्स ने अंधाधुंद फायरिंग में 19 छात्रों और दो शिक्षकों को बेरहमी से मार दिया था। इस घटना के बाद से ही देश में हथियार खरीदने संबंधी एक कड़े कानून के लिए सरकार पर दबाव बनाया गया था। इसी तरह फ्रीडम डे परेड में फायरिंग की घटना सामने आई है।

Latest World News