1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. दिल्ली
  4. दिल्ली में हवाओं की अनुकूल गति से पिछले 22 दिन में वायु गुणवत्ता सर्वोत्तम

दिल्ली में हवाओं की अनुकूल गति से पिछले 22 दिन में वायु गुणवत्ता सर्वोत्तम

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अधिकारियों ने बताया कि रविवार को 20 किलोमीटर प्रति घंटे और सोमवार को 25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चली हवाओं से वायु गुणवत्ता में और दृश्यता में सुधार देखने को मिला है। 

Bhasha Bhasha
Published on: November 23, 2021 21:48 IST
Delhi air quality improves due to favourable wind speed- India TV Hindi
Image Source : PTI दिल्ली में मंगलवार को 24 घंटे का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 290 दर्ज किया गया।

Highlights

  • नवंबर की पहली तारीख को 24 घंटे का औसत एक्यूआई 281 दर्ज किया गया था।
  • मौसम विभाग ने बताया कि रविवार को 20 किलोमीटर प्रति घंटे और सोमवार को 25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाओं चली।
  • सफर ने कहा कि स्थानीय और सतही हवाएं बुधवार से धीमी हो सकती हैं।

नयी दिल्ली: दिल्ली में मंगलवार को 24 घंटे का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 290 दर्ज किया गया और वायु गुणवत्ता बेहद खराब से खराब श्रेणी में रही। इसके साथ ही हवा की गति 25 किलोमीटर प्रति घंटा के आसपास रही जिससे पिछले दो दिन के दौरान प्रदूषण कारक तत्वों के बिखराव में मदद मिली। नवंबर की पहली तारीख को 24 घंटे का औसत एक्यूआई 281 दर्ज किया गया था और उसके बाद दूसरी बार मंगलवार को यह सूचकांक सबसे अच्छा रहा। बाकी के दिनों में दिल्ली में वायु गुणवत्ता बेहद खराब से गंभीर श्रेणी में दर्ज की गई।

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अधिकारियों ने बताया कि रविवार को 20 किलोमीटर प्रति घंटे और सोमवार को 25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चली हवाओं से वायु गुणवत्ता में और दृश्यता में सुधार देखने को मिला है। दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) रविवार को 349 और सोमवार को 311 के साथ बहुत खराब श्रेणी में इसलिए दर्ज किया गया क्योंकि किसी भी खास वक्त में लिया गया एक्यूआई, पिछले 24 घंटों में दर्ज एक्यूआई का औसत होता है।

पड़ोस के फरीदाबाद (279), गाजियाबाद (268), ग्रेटर नोएडा (255), गुरुग्राम (276), ग्रेटर नोएडा (255) और नोएडा (252) में भी वायु गुणवत्ता में उल्लेखनीय सुधार देखा गया। बता दें कि शून्य से 50 के बीच का एक्यूआई अच्छा, 51 और 100 से बीच संतोषजनक, 101 से 200 के बीच मध्यम, 201 से 300 के बीच खराब, 301 से 400 के बीच बहुत खराब और 401 से 500 के बीच गंभीर माना जाता है। 

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता निगरानी एजेंसी ‘सफर’ ने कहा कि स्थानीय और सतही हवाएं बुधवार से धीमी हो सकती हैं जिसके परिणामस्वरूप हवा की गुणवत्ता में मामूली गिरावट आ सकती है। सफर के अनुसार, अगले तीन दिन तक वायु गुणवत्ता खराब श्रेणी में रहने की आशंका है। सरकार बुधवार को समीक्षा बैठक के दौरान स्कूल, कॉलेज और अन्य शैक्षणिक संस्थानों को फिर से खोलने और अपने कर्मचारियों के लिए घर से काम करने के मुद्दे पर फैसला लेगी। 

bigg boss 15